Monday, February 6, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

Delhi: BJP सांसद गौतम गंभीर पर MCD की जमीन पर कब्जे का आरोप, AAP ने की जांच की मांग

आप नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि बीजेपी के विधायक अनिल वाजपेयी ने एलजी को पत्र लिखा कि गौतम गंभीर जी ने निजी उपयोग के लिए एमसीडी की ढ़लाव की जमीन पर कब्जा किया, इसकी जांच हो।

अमित पांडेय, नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के विधायक और एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने एमसीडी की जमीन पर कब्जा कर लिया है। खुद बीजेपी विधायक अनिल वाजपेयी ने पोल खोली है। अनिल वाजपेयी जी ने एलजी को पत्र लिखा कि गौतम गंभीर जी ने निजी उपयोग के लिए एमसीडी की ढलाव की जमीन पर कब्जा किया। उन्होंने पत्र में इसकी जांच की भी मांग की थी।

एमसीडी की जमीनें केवल सार्वजिक चीजों के लिए उपयोग होती हैं, उन्हें किसी को निजी उपयोग के लिए देना आपराधिक कृत्य है। एलजी विनय कुमार सक्सेना से समयबद्ध जांच की मांग करता हूं, सभी दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई हो। अन्यथा भाजपा वाले इसी प्रकार सरकारी जमीनों पर कब्जा करते रहेंगे।

दुर्गेश पाठक ने प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि सरकारी जमीन पर कब्जा करके उसको अवैध चीजों में इस्तेमाल करना, हमारे देश के कानून के अनुसार यह एक आपराधिक कृत्य है। यह काम किसी और ने नहीं बल्कि पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर जी ने किया है। ऐसा मैं नहीं कह रहा हूं, उनकी ही पार्टी से गांधी नगर के विधायक अनिल वाजपेयी जी ने यह कहा है। उन्होंने एलजी समेत कई अधिकारियों को पत्र लिखकर इसकी जांच की मांग की है।

उन्होंने कहा कि मुद्दा यह है कि एमसीडी के पास जो जमीने हैं, उनका इस्तेमाल एमसीडी सार्वजनिक उपयोग के लिए करती है। कूड़े का ढलाव बनाना, कूड़ा इकट्ठा करना, स्कूल बनान, छोटे-छोटे अस्पताल बनाना, शौचालय बनाना आदि सार्वजनिक रूप से उपयोगी चीजों के लिए एमसीडी उन जमीनों का इस्तेमाल करती है। यह जमीनें किसी भी व्यक्ति को निजी इस्तेमाल के लिए नहीं दी जा सकती हैं। उनका उपयोग केवल सार्वजनिक चीजों के लिए ही किया जा सकता है।

बीजेपी विधायक अनिल वाजपेयी का पत्र पेश करते हुए दुर्गेश पाठक ने कहा कि वाजपेयी जी ने अपने पत्र में लिखा है कि एमसीडी की ढलाव की जमीन, जहां पर कई बार सफाई कर्मचारी आराम करते थे, कई बार वहां कूड़ा फेंका जाता था, उसे गौतम गंभीर जी और उनके एनजीओ को दे दिया गया। इसके बाद अब वहां सभी सार्वजनिक गतिविधियों को बंद कर दिया गया है जिसके कारण स्थानीय लोगों को बहुत समस्या हो रही है। उस जमीन को निजी चीजों के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। गौतम गंभीर जी एमसीडी की जमीनों पर कब्जा कर रहे हैं, ऐसा खुद अनिल वाजपेयी जी इस पत्र के माध्यम से कहते हैं। जो बहुत गलत है, ऐसा नहीं होना चाहिए।

‘आप’ विधायक ने कहा कि इन सभी गतिविधियों को देखकर लगता है कि भाजपा के कुछ लोगों ने एमसीडी को पूरी तरह से निजी फर्म बना दिया है। जब मन करता है वह एमसीडी की जमीनों पर कब्जा कर लेते हैं। ऐसा ही एक मामला आया था, जहां अशोक विहार में भाजपा की पार्षदा ने अपने ही पति को एमसीडी की जमीन दे दी थी। हम जब भी ऐसे की मामले का खुलासा करते हैं तो भाजपा वाले कहते हैं कि आम आदमी पार्टी वाले कुछ भी बोलते रहते हैं। यहां तो खुद भाजपा के ही विधायक ने पत्र लिखकर सच्चाई बताई है।

अनिल वाजपेयी जी कोई छोटे-मोटे व्यक्ति नहीं हैं, जहां तक मुझे याद है, उन्हें राष्ट्रपति चुनाव में दिल्ली का ऑब्जर्वर बनाया गया था। अनिल वाजपेयी जी ने यह मुद्दा उठाया है कि एमसीडी की जमीन पर कब्जा किया गया है। आम आदमी पार्टी यह मांग करती है कि इस पूरे मामले की समयबद्ध जांच होनी चाहिए। मैं एलजी साहब से मांग करता हूं कि वह इसकी जांच कराएं और सभी दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए। अन्यथा भाजपा वाले इसी प्रकार से सरकारी जमीनों पर निजी उपयोग के लिए कब्जा करते रहेंगे। आम आदमी पार्टी इसका विरोध करती है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -