Sunday, September 25, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Motogp World Championship: इंडिया आएंगे दुनियाभर के मोटरसाइकिल रेसर, ‘ग्रैंड प्रिक्स ऑफ भारत’ का ऐलान

मोटोजीपी वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत का पहला संस्करण है। जिसे 'ग्रैंड प्रिक्स ऑफ भारत' कहा गया है।

नई दिल्ली: मोटरसाइकिल रेसिंग के दीवानों को जल्द ही इंडिया में इसका रोमांच देखने को मिलेगा। नोएडा स्थित फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स और एफआईएम वर्ल्ड चैंपियनशिप ग्रैंड प्रिक्स (मोटोजीपी) के अंतरराष्ट्रीय आयोजक डोर्ना स्पोर्ट्स एसएल, मैड्रिड-स्पेन ने बुधवार को 2023 में बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट (बीआईसी) में भारत के पहले मोटो जीपी ग्रां प्री की घोषणा की।

अभी पढ़ें ICC ने किया ऐलान- इस मैदान पर खेला जाएगा ICC World Test Championship 2023 का फाइनल

भारत का पहला संस्करण 

मोटोजीपी वर्ल्ड चैंपियनशिप में भारत का पहला संस्करण है। जिसे ‘ग्रैंड प्रिक्स ऑफ भारत’ कहा गया है। इसके जरिए दुनिया के शीर्ष मोटरसाइकिल रेसर्स इंडिया आएंगे। जिससे इस देश में मोटरसाइकिल रेसिंग को महत्वपूर्ण बढ़ावा मिलने की उम्मीद है। बुधवार को फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स प्राइवेट और डोर्ना के बीच सात साल के लिए एमओयू किया गया। ये भारत में मोटरसाइकिल संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए अन्य राज्य सरकारों के साथ सक्रिय रूप से काम कर रहा है। विश्लेषकों के अनुसार, इस स्पोर्ट्स के जरिए व्यापार, पर्यटन और रोजगार में वृद्धि होने की उम्मीद है। दिलचस्प बात यह है कि MotoGP की भारतीय रेसिंग परिदृश्य में MotoE को भी पेश करने की योजना है, जो एशिया में पहली बार अपनी तरह का ग्रीन इनिशिएटिव होगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा- इस तरह के विश्व स्तर पर प्रतिष्ठित मेगा स्पोर्ट्स इवेंट की मेजबानी करना उत्तर प्रदेश के लिए बहुत गर्व की बात है। यह आयोजन न केवल आतिथ्य और पर्यटन क्षेत्रों को बढ़ावा देगा, बल्कि यह यूपी को वैश्विक मंच पर भी लाएगा। हमारी सरकार इस आयोजन को एक बड़ी सफलता बनाने के लिए सभी आवश्यक सहायता प्रदान करेगी।

इस खेल की अपार लोकप्रियता 

वहीं केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने एफएसएस टीम के साथ बैठक के दौरान कहा – यह खेल और ऑटोमोबाइल उद्योग के लिए एक ऐतिहासिक दिन है। उन्होंने आगे कहा कि दर्शकों के साथ-साथ राजस्व के मामले में भारत संभावित रूप से MotoGp के सबसे बड़े बाजारों में से एक हो सकता है। गर्व की बात है कि फेडरेशन इंटरनेशनेल डी मोटोसाइक्लिस्मे (एफआईएम) ने मोटोजीपी वर्ल्ड चैंपियनशिप के विस्तार के लिए भारत को अगले गंतव्य के रूप में चुना है। भारत के मोटरसाइकिल रेसिंग समुदाय के बीच इस खेल की अपार लोकप्रियता है और हमें विश्वास है कि अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन से भारत में इस खेल को बढ़ावा मिलेगा।

मोटोजीपी के लिए भारत महत्वपूर्ण 

डोर्ना स्पोर्ट्स के प्रबंध निदेशक कार्लोस एजपेलेटा ने कहा- मोटोजीपी दुनियाभर में नए दर्शकों और प्रशंसकों को रोमांचित कर रहा है। MotoGP स्पोर्ट को नई सीमाओं तक ले जाने की हमारी योजना के लिए भारत महत्वपूर्ण है। फेयरस्ट्रीट स्पोर्ट्स के सीओओ पुष्कर नाथ ने कहा- भारत में एक खेल के रूप में मोटरसाइकिल की बहुत प्रशंसा की जाती है। दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित मोटरसाइकिल रेसिंग इवेंट को यहां लाकर हम इसके फैन बेस को और बढ़ाने की उम्मीद करते हैं। हम अधिक युवा बाइकर्स को इस खेल को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। कोरोनावायरस महामारी से उबरने के बाद खेल आयोजन से भारत के खेल पर्यटन को फिर से सक्रिय करने की उम्मीद है।

अभी पढ़ें ICC T20 Rankings: ताजा रैंकिंग में सूर्या ने बाबर आजम को पछाड़ा, पांड्या को भी मिला बड़ा फायदा

क्या है MotoGP

1949 में स्थापित MotoGP दुनिया की सबसे प्रमुख मोटरसाइकिल रेसिंग चैम्पियनशिप है। एफआईएम विश्व चैम्पियनशिप ग्रांड प्रिक्स के रूप में यह सबसे पुरानी मोटरस्पोर्ट विश्व चैम्पियनशिप है। जानकारी के अनुसार, बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट नोएडा में होने वाली प्रीमियर रोड रेसिंग इवेंट में 19 देश भाग लेंगे।

अभी पढ़ें – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -