Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

त्रिपुरा विधानसभा में जबरदस्त हंगामा: गुस्साए विधायकों ने की धक्का-मुक्की, टेबल पर चढ़कर जताया विरोध, पांच सस्पेंड

Tripura Assembly: त्रिपुरा में शुक्रवार को विधानसभा सत्र की शुरुआत हुई। लेकिन पहला दिन हंगामे की भेंट चढ़ गया। सत्र के दौरान बीजेपी और टिपरा मोथा पार्टी के विधायकों के बीच हंगामा हो गया। विपक्षी दलों के विधायक नारेबाजी करते हुए सदन के वेल में पहुंच गए। विधायकों ने मानव श्रृंखला बनाई। इस दौरान धक्का-मुक्की […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Jul 10, 2023 12:36
Share :
Tripura Assembly, BJP, Tipra MOTHA party, Assembly session
Tripura Assembly

Tripura Assembly: त्रिपुरा में शुक्रवार को विधानसभा सत्र की शुरुआत हुई। लेकिन पहला दिन हंगामे की भेंट चढ़ गया। सत्र के दौरान बीजेपी और टिपरा मोथा पार्टी के विधायकों के बीच हंगामा हो गया। विपक्षी दलों के विधायक नारेबाजी करते हुए सदन के वेल में पहुंच गए। विधायकों ने मानव श्रृंखला बनाई। इस दौरान धक्का-मुक्की हुई और टेबल पर चढ़कर प्रदर्शन किया।

दरअसल, विपक्षी दल के नेता अनिमेष देबबर्मा ने त्रिपुरा बागबासा विधानसभा के भाजपा विधायक जादब लाल नाथ द्वारा पोर्न फिल्म देखने के मुद्दे पर सवाल उठाया। सदन के अध्यक्ष ने कुछ अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों के बाद उनसे बात करने की बात कही, लेकिन विपक्षी दलों के विधायकों ने हंगामा और नारेबाजी शुरू कर दी। सदन से 5 विधायकों को निलंबित कर दिया गया। हालांकि, बाद में दिन में उनका निलंबन रद्द कर दिया गया।

भाजपा विधायक के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे विपक्षी नेता

बजट सत्र शुरू होने के कुछ मिनट बाद टिपरा मोथा पार्टी (TMP), सीपीआई-एम और कांग्रेस से जुड़े विपक्षी सदस्यों ने भाजपा विधायक जादब लाल देबनाथ के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए नारे लगाए।

विपक्ष के नेता अनिमेष देबबर्मा ने भाजपा विधायक के विवाद पर चर्चा के लिए स्थगन प्रस्ताव पेश किया, जिसे अध्यक्ष ने खारिज कर दिया। इसके बाद विरोध शुरू हो गया। सदस्यों ने उस समय नारे लगाना शुरू कर दिया जब राज्य के वित्त मंत्री प्रणजीत सिंघा रॉय ने 2023-24 के लिए वार्षिक बजट पेश करना शुरू ही किया था।

यह भी पढ़ें: पीएम के खिलाफ अपशब्द गैर जिम्मेदाराना, लेकिन देशद्रोह नहीं, कर्नाटक HC ने स्कूल प्रबंधन को दी राहत

इन विधायकों पर हुई कार्रवाई

विधानसभा में हंगामेदार दृश्य देखने को मिला, जब विधायक श्रृंखला बनाकर वेल में कूद गए और कुछ तो मेजों पर भी चले गए। हंगामे के बीच विधानसभा अध्यक्ष बिस्वा बंधु सेन ने पांच विधायकों – सुदीप रॉय बर्मन (कांग्रेस), नयन सरकार (सीपीआई-एम) और बृशकेतु देबबर्मा, नंदिता रियांग और रंजीत देबबर्मा (टीएमपी) को निलंबित करने की घोषणा की।

बाद में सभी विपक्षी सदस्यों ने अध्यक्ष के फैसले का विरोध करते हुए और देबनाथ के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग करते हुए बहिर्गमन किया।

विरोध की ये है वजह?

देबनाथ का एक वीडियो सामने आया था। जिसमें वे अश्लील वीडियो देखते हुए दिखे थे। 55 वर्षीय नेता जो भाजपा की त्रिपुरा राज्य इकाई के सचिव भी हैं ने कहा कि जब उन्हें एक फोन आया तो एक साइट स्वचालित रूप से खुल गई और उन्होंने इसे तुरंत बंद कर दिया।

और पढ़िए – देश से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

First published on: Jul 07, 2023 05:02 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें