Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

राहुल-सोनिया गांधी से नाखुश थे प्रणब मुखर्जी! पढ़िए पूर्व राष्ट्रपति की बेटी ने अपनी किताब में क्या-क्या खुलासे किए

Sharmistha Mukherjee tell about upcoming book: प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने अपनी आने वाली किताब के बारे में बात करते हुए कई दावे किए हैं। उनका कहना है कि उनके पिता प्रणब मुखर्जी राहुल और सोनिया गांधी से खफा थे।

Edited By : Pratyaksh Mishra | Updated: Dec 6, 2023 22:13
Share :

Sharmistha Mukherjee tell about upcoming book: पूर्व राष्ट्रपति और दिग्गज कांग्रेस नेता प्रणब मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी ने अपनी आने वाली किताब, ‘इन प्रणब, माई फादर: ए डॉटर रिमेम्बर्स’ से सियासी हलचलें तेज कर दी हैं। किताब के बारे में बात करते हुए शर्मिष्ठा मुखर्जी कहती हैं कि एक बार उनके पिता प्रणब मुखर्जी ने उनसे कहा था कि राहुल गांधी अभी राजनीति के लिए परिपक्व नहीं हैं।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि उनके पिता इस बात से परेशान थे कि पार्टी नेता राहुल गांधी ने राजद सुप्रीमो लालू यादव जैसे दोषी नेताओं को बचाने के लिए 2013 में तत्कालीन यूपीए सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेश को रद्द कर दिया था।

यह भी पढ़ें- ‘इंडिया’ और ‘भारत’ मामले में शिक्षा मंत्रालय ने साफ किया रुख, बताया NCERT को क्या मंजूर

राहुल-सोनिया गांधी से नाखुश थे प्रणब मुखर्जी

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने यह भी दवा किया कि प्रणब मुखर्जी 2014 के लोकसभा चुनावों में पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद राहुल गांधी की संसद से लगातार अनुपस्थिति से भी नाखुश थे। उन्होंने कहा कि उनके पिता ने एक पत्रकार को दिए इंटरव्यू में कहा था कि उन्हें सोनिया गांधी से प्रधानमंत्री बनाने की कोई उम्मीद नहीं है।

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि उनके पिता ने अपनी डायरी में उस घटना का जिक्र किया है 2004 में, जब सोनिया गांधी ने अपने प्रधानमंत्री बनने का दावा त्याग दिया तो मीडिया में अटकलें थीं कि प्रधानमंत्री कौन होगा। मेरे पिता और मनमोहन सिंह के नाम चर्चा में थे। मैंने(शर्मिष्ठा) उनसे उत्साहपूर्वक पूछा कि क्या वह प्रधानमंत्री होंगे, लेकिन उन्होंने मना करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बनेगें।

News 24 whatsapp channel

AM और PM के बीच अंतर नहीं कर सका

शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि उन्हें एक घटना याद आती है जहां उनके पिता ने राहुल गांधी पर उनकी प्रधानमंत्री पद की महत्वाकांक्षाओं को लेकर व्यंग्यात्मक कटाक्ष किया था। एक बार राहुल गांधी सुबह जब मुगल गार्डन में टहल रहे थे तो बाबा से मिलने आए। उन्हें टहलने या पूजा करते समय परेशान होना पसंद नहीं था, लेकिन फिर भी, वह उनसे मिले। बाद में, मुझे पता चला कि राहुल गांधी को शाम को उनसे मिलना था। जब मैंने बाबा को इस बारे में बताया, तो उन्हें कोई आश्चर्य नहीं हुआ। उन्होंने व्यंग्य करते हुए कहा कि अगर राहुल गांधी का ऑफिस AM और PM के बीच अंतर नहीं कर सकता, तो वह प्रधानमंत्री कैसे बन सकते हैं?

First published on: Dec 06, 2023 10:12 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें