---विज्ञापन---

Karnataka Election 2023: 10 हजार रुपये के सिक्के लेकर निर्दलीय प्रत्याशी ने जमा की जमानत राशि, यादगीर सीट से भरा पर्चा

Karnataka Election 2023: कर्नाटक के यादगीर निर्वाचन क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने वाला एक निर्दलीय प्रत्याशी चर्चा में है। निर्दलीय उम्मीदवार यंकप्पा ने एक-एक रुपये के 10 हजार सिक्के लेकर नामांकन करने पहुंचा था। प्रत्याशी ने उक्त रकम को जमानत राशि के तौर पर जमा कराया है। कर्नाटक चुनाव में प्रत्येक उम्मीदवार के लिए जमानत […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Mar 6, 2024 16:00
Share :
Yankappa, independent candidate, Yadgir Assembly constituency, karnataka elections 2023

Karnataka Election 2023: कर्नाटक के यादगीर निर्वाचन क्षेत्र से नामांकन दाखिल करने वाला एक निर्दलीय प्रत्याशी चर्चा में है। निर्दलीय उम्मीदवार यंकप्पा ने एक-एक रुपये के 10 हजार सिक्के लेकर नामांकन करने पहुंचा था। प्रत्याशी ने उक्त रकम को जमानत राशि के तौर पर जमा कराया है। कर्नाटक चुनाव में प्रत्येक उम्मीदवार के लिए जमानत शुल्क 10 हजार रुपये है।

निर्दलीय प्रत्याशी यंकप्पा ने बताया कि मैं अपना जीवन अपने समुदाय के लोगों और ग्रामीणों के लिए समर्पित करूंगा। मैं स्वामी विवेकानंद की विचारधाराओं के पोस्टर के साथ रिटर्निंग ऑफिसर के पास आया था। उन्होंने बताया कि जमानत राशि के लिए उनके पास रुपये नहीं थे। उन्होंने जमानत राशि के रूप में 10 हजार रुपए विधानसभा क्षेत्र के लोगों से जुटाए हैं।

और पढ़िए – Karnataka Election 2023: कर्नाटक चुनाव के लिए भाजपा ने जारी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट, जानें कौन-कौन शामिल

सिक्के गिनने में लगे पूरे दो घंटे

यादगीर स्थित कार्यालय में टेबल पर पड़े सिक्कों को गिनने में अधिकारियों को दो घंटे लग गए। जानकारी के मुताबिक, मंगलवार को निर्दलीय प्रत्याशी यंकप्पा यादगीर विधानसभा क्षेत्र से नामांकन पत्र दाखिल करने तहसीलदार कार्यालय पहुंचे थे। यहां चुनाव कार्यों में जुटे लोगों को सिक्के गिनने में पूरे दो घंटे लग गए।

और पढ़िए – Karnataka BYM Leader Killed: कर्नाटक के धारवाड़ में भाजपा युवा मोर्चा के नेता प्रवीण कम्मर की हत्या

अलग अंदाज में जनता से मांगा समर्थन

निर्दलीय उम्मीदवार यंकप्पा ने नामांकन के बाद अलग अंदाज में जनता से समर्थन मांगा। नामांकन करने पहुंचे यंकप्पा ने हाथ में एक पोस्टर लिया था जिसमें समाज सुधारक बसवेश्वर, कर्नाटक के संतकवि कनकदास, स्वामी विवेकानंद, डॉक्टर भीम राव अंबेडकर और संविधान की प्रस्तावना के फोटो थे। पोस्टर में कन्नड़ भाषा में लिखा था- सिर्फ एक रुपए नहीं, अपने एक वोट से आप मुझे वो शक्ति दे सकते हैं जिससे मैं आपको गरीबी से मुक्ति दिला सकता हूं।

यंकप्पा ने कलबुर्गी जिले के गुलबर्गा यूनिवर्सिटी से आर्ट्स में ग्रैजुएशन किया है। नामांकन के दौरान दिए गए हलफनामे के मुताबिक, उनकी कुल संपत्ति 60 हजार रुपये है। बता दें कि कर्नाटक में एक चरण में 10 मई को सभी 224 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होनी है। 13 मई को मतगणना होगी।

और पढ़िए – देश से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

(Ambien)

First published on: Apr 19, 2023 11:14 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें