---विज्ञापन---

Budget 2023: राष्ट्रपति मुर्मू ने देश के सामने रखी ‘नए भारत’ की तस्वीर, जानें अभिभाषण की 10 बड़ी बातें

Budget 2023: संसद का बजट सत्र (Parliament Budget Session 2023) आज यानी मंगलवार से शुरू हो गया। सत्र शुरू होने से पहले राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Droupadi Murmu) ने संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित किया। राष्ट्रपति ने इस दौरान संसद सदस्यों के साथ देश के सामने नए भारत की तस्वीर रखी। […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Mar 4, 2024 20:33
Share :
budget 2023, president droupadi murmu

Budget 2023: संसद का बजट सत्र (Parliament Budget Session 2023) आज यानी मंगलवार से शुरू हो गया। सत्र शुरू होने से पहले राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Droupadi Murmu) ने संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित किया। राष्ट्रपति ने इस दौरान संसद सदस्यों के साथ देश के सामने नए भारत की तस्वीर रखी।

राष्ट्रपति मुर्मू ने नारी शक्ति के लिए चलाई जा रही योजनाएं के बारे में बताया तो कोरोना काल में सरकार के प्रबंधन की तारीफ की। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए किसानों का साथ दिया तो देश में बुलेट ट्रेन चलाकर अपनी महत्वकांक्षाओं के बारे में बताया। आइए जानते हैं राष्ट्रपति मुर्मू के अभिभाषण की 10 बड़ी बातें।

1. हमारी सरकार ने गुलामी की मानसिकता से मुक्ति दिलाई

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने सदन में सदस्यों के सामने कहा कि हमारी सरकार ने पिछले कई वर्षों से देश में चली आ रही गुलामी की मानसिकता से मुक्ति दिलाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि पले परियोजनाओं और विकास कार्यों को लेकर काफी विसंगतियां थीं। किसी भी परियोजना को मूर्त रूप देने के लिए विभाग और अलग-अलग सरकारों में तालमेल नहीं था। हमारी सरकार ने इस समस्या को खत्म किया है।

2. कोरोना काल में कोई भी देशवासी भूखा नहीं सोया

राष्ट्रपति मुर्मू ने कहा कि हमने देखा है, कोविड काल में दुनिया भर के गरीबों के लिए जीना कितना मुश्किल हो गया था। लेकिन, भारत उन देशों में से एक है, जिसने गरीबों के जीवन की रक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता दी। सरकार के प्रयासों से देश में कोई भी व्यक्ति भूखा नहीं सोया।

3. युक्रेन संकट से अपने देशवासियों को निकाला

युक्रेन संकट के दौरान वहां फंसे भारतीय नागरिकों को देश की सरकार ने सुरक्षित निकाला। इतना ही नहीं, वहां फंसे अन्य देशों के लोगों को भी भारत ने निकालने में मदद की। इससे दुनिया में भारत की एक मानवीय तस्वीर सामने आई है।

4. महिला सशक्तिकरण के लिए किया काम

उन्होंने कहा कि मेरी सरकार की ओर से शुरू की गई सभी योजनाओं के मूल में महिला सशक्तिकरण रहा है। आज हम ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की सफलता देख रहे हैं। देश में पहली बार है कि महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा है। महिलाओं के स्वास्थ्य में भी पहले से ज्यादा सुधार हुआ है।

राष्ट्रपति के अभिभाषण की अन्य बातों को जानने के लिए यहां क्लिक करें.

First published on: Jan 31, 2023 12:10 PM
संबंधित खबरें