Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

Explainer: पाकिस्तान के पूर्व PM इमरान खान क्यों नहीं लड़ पाएंगे 2024 का चुनाव? ये है बड़ी वजह

Imran Khan को 2024 के राष्ट्रीय चुनाव से पहले बड़ा झटका लगा है। उनके नामांकन को रिजेक्ट कर दिया है, जिससे वे अब चुनाव नहीं लड़ पाएंगे।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Dec 30, 2023 19:07
Share :
imran khan nomination reject
Imran Khan को चुनाव आयोग से लगा बड़ा झटका

Imran Khan nomination rejected: पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख और पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान को बड़ा झटका लगा है। चुनाव आयोग ने 2024 नेशनल इलेक्शन लड़ने के लिए दाखिल किए गए उनके नामांकन को रिजेक्ट कर दिया है। आयोग ने यह कदम क्यों उठाया, आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं…

मिंयावली से चुनाव लड़ना चाहते थे इमरान

इमरान खान ने अपने गृहनगर मियांवाली से चुनाव लड़ने के लिए पर्चा दाखिल किया था, जिसे चुनाव आयोग ने रिजेक्ट कर दिया। इसे इमरान के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। नेशनल इलेक्शन अगले साल आठ फरवरी को होंगे।

बता दें कि पीटीआई प्रमुख को इस साल सिफर मामले में जेल हुई थी। उन पर आधिकारिक गुप्त अधिनियम का उल्लंघन करने का आरोप लगा था। इमरान पर आरोप है कि उन्होंने पाकिस्तान के वाशिंगटन दूतावास द्वारा भेजे गए एक सीक्रेट राजनयिक केबल का खुलासा किया था।

 

इमरान खान पर चल रहे कई मुकदमे

इमरान खान प्रधानमंत्री पद से हटाए जाने के बाद से मुश्किलों में घिर गए हैं। उन पर कई मुकदमे चल रहे हैं। वे कई राजनीतिक और कानूनी लड़ाइयों में उलझे हुए हैं। इस समय भी वे जेल में हैं।

इमरान खान का नामांकन क्यों रिजेक्ट किया गया?

जियो न्यूज के मुताबिक, लाहौर के NA-122 निर्वाचन क्षेत्र के नामांकन पत्रों की जांच करने के लिए नियुक्त रिटर्निंग अधिकारी ने इमरान खान के नामांकन को रिजेक्ट करने की वजह बताई। उन्होंने कहा कि इमरान को दोषी ठहराया गया है। इसलिए नामांकन को रिजेक्ट कर दिया गया है।

बता दें कि मुस्लिम लीग (नवाज) के नेता मियां नसीर ने पीटीआई प्रमुख के नामांकन पर सवाल उठाए थे। उन्होंने तर्क दिया था कि तोशाखाना मामले में इमरान को सजा के बाद अगले पांच साल तक चुनाव लड़ने के लिए वे अयोग्य हो चुके हैं। इस मामले में चुनाव अधिनियम 2017 की धारा 167 के तहत उन्हें भ्रष्ट आचरण का दोषी पाया गया था। नसीर ने यह भी कहा कि इमरान के प्रस्तावक और अनुमोदक NA-112 से नहीं हैं।

यह भी पढ़ें: मुसलमानों के देश में बन रहा सबसे बड़ा हिन्दू मंदिर, Drone View से देखें शानदार नजारा

क्या इमरान के लिए सब कुछ खत्म हो गया है?

इमरान के लिए अभी सब कुछ खत्म नहीं हुआ है। वे तीन जनवरी तक नामांकन पत्र को रिजेक्ट करने के खिलाफ अपील कर सकते हैं। इस अपील पर अपीलीय न्यायाधिकरण 10 जनवरी तक फैसला करेगा। इसके बाद चुनावी निकाय 11 जनवरी को उम्मीदवारों को संशोधित लिस्ट जारी करेगा।

इन नेताओं का भी नामांकन हुआ रद्द

बता दें कि इमरान खान के अलावा, नवाज शरीफ के खिलाफ चुनाव लड़ने जा रहीं आजम स्वाति और शाह महमूद कुरैशी के नामांकन पत्र को भी रिजेक्ट कर दिया गया।  वहीं, नवाज शरीफ, मरयम नवाज और ख्वाजा साद रफीक के नामांकन पत्र को स्वीकार कर लिया गया। ख्वाजा ने लाहौर के NA 122 निर्वाचन क्षेत्र से नामांकन पत्र दाखिल किया था, जहां से इमरान खान के नामांकन को रिजेक्ट कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: गजब! बर्फ से जमी नदी पर लैंड कर दिया जहाज, जानें कैसे बची 34 लोगों की जान?

First published on: Dec 30, 2023 06:32 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें