Thursday, 29 February, 2024

---विज्ञापन---

Narsingh Jayanti: 4 मई को है नृसिंह जयंती, ये 4 चीजें चढ़ाते ही खत्म होगा जीवन का हर संकट

Narsingh Jayanti: बैसाख माह के शु्क्ल पक्ष की चतुर्दशी को नृसिंह जयंती (अथवा नृसिंह प्राकट्य दिवस) मनाई जाती है। नृसिंह को भगवान विष्णु का सर्वाधिक उग्र अवतार माना गया है जो उन्होंने अपने अनन्य भक्त प्रहलाद की रक्षा के लिए लिया था। भगवान का यह स्वरूप आधा सिंह का और आधा मनुष्य का था। धार्मिक […]

Edited By : Sunil Sharma | Updated: May 3, 2023 16:08
Share :
Narasimha Jayanti 2023, Narasimha Jayanti 2023 Date, Narasimha Jayanti 2023 muhurat, Narasimha Jayanti ke upay, narsingh jayanti,

Narsingh Jayanti: बैसाख माह के शु्क्ल पक्ष की चतुर्दशी को नृसिंह जयंती (अथवा नृसिंह प्राकट्य दिवस) मनाई जाती है। नृसिंह को भगवान विष्णु का सर्वाधिक उग्र अवतार माना गया है जो उन्होंने अपने अनन्य भक्त प्रहलाद की रक्षा के लिए लिया था। भगवान का यह स्वरूप आधा सिंह का और आधा मनुष्य का था। धार्मिक ग्रंथों के अनुसार इस उग्र अवतारस्वरूप की पूजा करने से व्यक्ति के समस्त दुख और कष्ट तुरंत ही नष्ट हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें: Narsingh Kavach: इस मंत्र के जप से तुरंत नष्ट होंगे शत्रु, हर जगह मिलेगी कामयाबी

कब है नृसिंह जयंती 2023 मुहूर्त (Narasimha Jayanti 2023 Muhurat)

पंचांग के अनुसार बैसाख माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी तिथि का आरंभ 3 मई 2023 को रात्रि 11.49 बजे होगा। इसका समापन अगले दिन 4 मई 2023 को रात्रि 11.44 बजे होगा। पूजा के लिए सर्वोत्तम मुहूर्त 4 मई को दोपहर 4.16 बजे से सायं 6.58 बजे तक रहेगा। इसके अतिरिक्त सुबह 10.58 बजे से दोपहर 1.38 बजे तक भी पूजा की जा सकेगी।

यह भी पढ़ें: Rahu ke Upay: अगर सपने में दिखे ये चीजें तो तुरंत करें राहु के उपाय, वरना बर्बाद हो जाएंगे

नृसिंह जयंती पर करें ये उपाय तो दूर होंगे सब संकट

  1. यदि आपके शत्रु बहुत ज्यादा हो गए हैं और लगातार आप पर हावी हो रहे हैं तो इस दिन नृसिंह भगवान का कच्चे दूध से अभिषेक करें। सभी प्रकार के शत्रु नष्ट हो जाएंगे।
  2. यदि घर में किसी व्यक्ति का स्वास्थ्य बहुत ज्यादा खराब रहता है और दवाईयां काम नहीं कर रही हैं तो भी एक उपाय है। नृसिंह प्राकट्य दिवस पर भगवान नृसिंह अथवा भगवान विष्णु पर चढ़ाए गए चंदन को रोगी व्यक्ति के ललाट पर लगा दें। इससे रोग शांत होने लगेगा।
  3. ज्योतिष में कालसर्प दोष को अत्यन्त कष्टदायी दोष माना गया है। जिनकी जन्मकुंडली में कालसर्प दोष है, उन्हें इस दिन भगवान नृसिंह को एक मोर पंख अर्पित करना चाहिए। इससे कालसर्प दोष सदा के लिए दूर हो जाता है।
  4. यदि आपकी आर्थिक स्थिति खराब है और आप बहुत जल्दी खूब धन पाना चाहते हैं तो नृसिंह जयंती के दिन सायंकाल में भगवान नृसिंह या विष्णु को नागकेसर चढ़ाएं। इसे अगले दिन अपने घर की तिजोरी में रख दें। इस एक उपाय से रुपए-पैसे की कमी दूर होती है।

डिस्क्लेमर: यहां दी गई जानकारी ज्योतिष पर आधारित है तथा केवल सूचना के लिए दी जा रही है। News24 इसकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी उपाय को करने से पहले संबंधित विषय के एक्सपर्ट से सलाह अवश्य लें।

First published on: May 03, 2023 04:05 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें