Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

कौन हैं अयोध्या के संत परमहंस आचार्य, जिन्होंने उदयनिधि स्टालिन को दी है सिर काटने की धमकी? अब बढ़ी मुसीबत

Who is Ayodhya’s Saint Paramhans Acharya: तमिलनाडु के मंत्री उदयनिधि स्टालिन की ‘सनातन धर्म’ पर विवादास्पद टिप्पणी को लेकर देशभर में बवाल मचा हुआ है। ऐसे में अयोध्या के संत परमहंस आचार्य ने उदयनिधि स्टालिन को जान से मारने की धमकी दे दी। इसके बाद संत परमहंस के खिलाफ बुधवार को केस दर्ज किया गया […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Sep 8, 2023 11:04
Share :
Who is Ayodhya's saint Paramahamsa Acharya, Udhayanidhi Stalin, Sanatan Controversy, UP News, Paramahamsa Acharya

Who is Ayodhya’s Saint Paramhans Acharya: तमिलनाडु के मंत्री उदयनिधि स्टालिन की ‘सनातन धर्म’ पर विवादास्पद टिप्पणी को लेकर देशभर में बवाल मचा हुआ है। ऐसे में अयोध्या के संत परमहंस आचार्य ने उदयनिधि स्टालिन को जान से मारने की धमकी दे दी। इसके बाद संत परमहंस के खिलाफ बुधवार को केस दर्ज किया गया है।

जानकारी के मुताबिक तमिलनाडु में कथित तौर पर दहशत, भय फैलाने और संत का वीडियो साझा करके सांप्रदायिक तनाव को बढ़ावा देने के लिए एफआईआर में एक पत्रकार का नाम भी शामिल किया गया था, जिसमें उसने कथित तौर पर उदयनिधि स्टालिन को धमकी दी थी।

सनातन धर्म को लेकर की थी ये टिप्पणी

रिपोर्ट्स के अनुसार, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन ने शनिवार को ‘सनातन धर्म’ की तुलना डेंगू और मलेरिया जैसी बीमारियों से की थी, जिसके बाद राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया। चेन्नई में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा था कि ऐसी चीजों का विरोध नहीं किया जाना चाहिए, बल्कि उन्हें नष्ट किया जाना चाहिए।

उधर स्टालिन की सनातन धर्म को लेकर की गई टिप्पणी के बाद संत परमहंस ने सोमवार को उदयनिधि स्टालिन के सिर पर 10 करोड़ रुपये के इनाम की घोषणा की। एक वीडियो में संत को तलवार से द्रमुक मंत्री की तस्वीर को फाड़ते और बाद में उसे जलाते हुए भी देखा गया।

यह भी पढ़ेंः Watch Video: ‘ऐसे मूर्ख बहुत घूमते हैं’ उदयनिधि के सनातन वाले बयान पर भाजपा सांसद ब्रजभूषण शरण सिंह की विवादित टिप्पणी

इस घटना के एक दिन बाद संत ने कहा था कि उदयनिधि का सिर काटने के लिए इनाम बढ़ा देंगे, लेकिन ‘सनातन धर्म’ का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यह मामला डीएमके कार्यकर्ता की शिकायत के आधार पर मदुरै शहर साइबर अपराध इकाई की ओर से दर्ज किया गया है। मामले में आगे की जांच जारी है।

ये हैं संत परमहंस आचार्य

बता दें कि परमहंस मूलरूप से बिहार के रहने वाले हैं। उनका शुरुआती जीवन मध्यप्रदेश में बीताष बताया जाता है कि एक बार वे अपने परिवार के साथ अयोध्य में घूमने के लिए आए थए, इसके बाद से वे वहीं बस गए। रिपोर्ट्स में कहा गया है कि करीब 17 वर्षों से सन्यासी की जीवन जी रहे हैं। सरयू नदी के किनारे अपनी कुटिया में रहते हैं।

उत्तर प्रदेश की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंः-

First published on: Sep 08, 2023 11:04 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें