Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केसः लॉरेंस का भतीजा सचिन बिश्नोई अजरबैजान में पकड़ा, भारत लाने के लिए दिल्ली पुलिस रवाना

Sidhu Moose Wala Murder Case: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसे वाला हत्याकांड के प्रमुख साजिशकर्ताओं में से एक सचिन बिश्नोई को हाल ही में अजरबैजान में हिरासत में लिया गया था। जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की एक टीम को सचिन बिश्नोई को भारत लाने के लिए अजरबैजान रवाना किया गया है। एक […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Jul 31, 2023 13:16
Share :
Sidhu Moose, Sidhu Moose wala Murder Case, Azerbaijan, Sachin Bishnoi, Delhi Police
सिद्धू मुसेवाला (फाइल फोटो)

Sidhu Moose Wala Murder Case: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसे वाला हत्याकांड के प्रमुख साजिशकर्ताओं में से एक सचिन बिश्नोई को हाल ही में अजरबैजान में हिरासत में लिया गया था। जानकारी के अनुसार, दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की एक टीम को सचिन बिश्नोई को भारत लाने के लिए अजरबैजान रवाना किया गया है।

एक मीडिया रिपोर्ट में बताया गया है कि सचिन बिश्नोई कुख्यात अपराधी लॉरेंस बिश्नोई का भतीजा है, जो पिछले साल मई में हत्याकांड के बाद से फरार है। जांच में सामने आया है कि वह जाली पासपोर्ट का इस्तेमाल करके देश से भाग गया था।

टीम में ये अधिकारी हैं शामिल

रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल टीम के आज रात तक अजरबैजान पहुंचने की उम्मीद है। एक सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) और काउंटर इंटेलिजेंस यूनिट के दो इंस्पेक्टरों समेत लगभग चार अधिकारियों की संयुक्त टीम को सचिन बिश्नोई के भारत प्रत्यर्पण को सुनिश्चित करने का काम सौंपा गया है।

घटना के बाद से ही सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में सचिन बिश्नोई की संलिप्तता गहन जांच का विषय रही है। उसकी गिरफ्तारी और प्रत्यर्पण से हत्याकांड में कई अहम खुलासे होने की उम्मीद है। सचिन बिश्नोई को कुछ दिन पहले अजरबैजान में हिरासत में लिया गया था। अब भारतीय सुरक्षा एजेंसियों के आने से उसे भारत वापस लाने की प्रक्रिया तेज होने की उम्मीद है।

और पढ़े:- डॉन छोटा राजन से जुड़े 26 साल पुराने हाई-प्रोफाइल मर्डर केस में CBI कोर्ट का आया फैसला, जानें क्या हुआ?

मई 2022 में हुई थी हत्या

सचिन बिश्नोई फर्जी पासपोर्ट का इस्तेमाल कर दिल्ली से भाग गया था। बता दें पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसे वाला की 29 मई, 2022 को मनसा जिले के जवाहरके गांव में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। एक दिन बाद, लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के प्रमुख सदस्य गोल्डी बराड़ ने एक फेसबुक पोस्ट में इस वारदात को स्वीकार किया था।

देश की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंः-

First published on: Jul 30, 2023 06:30 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें