Tuesday, September 27, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

IND vs AUS: इस नई गेंदबाजी स्किल पर काम कर रहे हैं हर्षल पटेल, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से पहले खुलासा

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 20 सितंबर से तीन मैचों की टी 20 सीरीज शुरू होगी। ये सीरीज अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी 20 वर्ल्ड कप से पहले महत्वपूर्ण होगी।

नई दिल्ली: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 20 सितंबर से तीन मैचों की टी 20 सीरीज शुरू होगी। ये सीरीज अगले महीने ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी 20 वर्ल्ड कप से पहले महत्वपूर्ण होगी। इस सीरीज के लिए दोनों टीमें मोहाली पहुंच चुकी हैं। टीम इंडिया में लंबे समय बाद हर्षल पटेल वापसी कर रहे हैं। हर्षल ने पिछले चार सप्ताह बेंगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में रिहैबिलिटेशन में बिताए हैं। लंबे समय बाद लौट रहे हर्षल पटेल ने कहा है कि वे अब गेंदबाजी में नयेपन के साथ वापिस आ रहे हैं।

अभी पढ़ें IND A vs NZ A: न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले टीम इंडिया को बड़ा झटका, स्टार बॉलर बाहर

शॉर्टर स्लोअर पर काम 
हर्षल पटेल ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा, मैंने धीमी गेंद से कितनी लंबाई तक गेंदबाजी कर सकता हूं, इस बारे में थोड़ा काम किया है। आमतौर पर जब मैं धीमी गेंदें फेंकता हूं, तो यह मुख्य रूप से फुलर या अच्छी लेंथ पर होती है, लेकिन अब मैंने छोटी धीमी गेंदें (शॉर्टर स्लोअर) फेंकनी शुरू कर दी हैं, जो मेरे लिए बहुत अच्छा काम कर रही हैं। उन्होंने आगे कहा- मैं कुछ समय से अपने नए बॉलिंग स्किल पर भी काम कर रहा हूं। मैंने आईपीएल के बीच में इसे करना शुरू कर दिया था। मुख्य रूप से मध्य ओवरों और डेथ बॉलिंग में मेरे सभी स्किल टॉप पर थे इसलिए मुझे उन पर काम करने की जरूरत नहीं पड़ी।

नई गेंद से शुरुआत
उन्होंने कहा- इसलिए हर बार जब मैं अभ्यास करने जाता, मैं एक नई गेंद लेता और उसके साथ गेंदबाजी करना शुरू करता क्योंकि नया कौशल होना अच्छा है। अगर मुझे भारत के लिए या आरसीबी के लिए ऐसा करने का मौका मिलता है, तो मैं ऐसा करना पसंद करूंगा।

हर्षल ने कहा, कोच और कप्तान ने मुझे मेरी भूमिका बिल्कुल सही बताई। उन्होंने कहा, ‘हम चाहते हैं कि आप तीनों चरणों में गेंदबाजी करने में सक्षम हों, न कि केवल मिडल और डेथ पर। उन्होंने कहा, “नंबर 8 पर बल्लेबाजी करने की मेरी क्षमता कुछ ऐसा है जिसे वे टीम प्रबंधन वास्तव में महत्व देते हैं।” “मैं समय की कमी के कारण अपनी बल्लेबाजी पर ज्यादा काम नहीं कर रहा हूं, लेकिन रीहैब के दौरान मुझे दो-तीन हफ्तों में 500-700 गेंदें हिट करने का मौका मिला है। मैं बल्लेबाजी पर काफी समय से काम करना चाहता था क्योंकि मैं वास्तव में उस क्षमता में भी योगदान देना चाहता हूं।”

अभी पढ़ें CPL 2022: गेंद में भरकर लाया गदर और हवा में उड़ा दिया स्टंप, देखें वीडियो

कप्तान और कोच के समर्थन के बारे में उन्होंने कहा कि अगर आप वास्तव में जानते हैं कि आपने टीम के लिए क्या किया है तो टीम में आपकी जगह रहेगी। टीम प्रबंधन याद रखेगा कि आपने चोटिल होने से पहले क्या किया है। उन प्रदर्शनों और योगदान को भुलाया नहीं जाएगा। जाहिर है आपको बार-बार प्रदर्शन करना होगा।

अभी पढ़ें  खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -