Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

PAK vs ENG: कराची में शतक ठोक सकते हैं सऊद शकील, आंकड़ों से किया बड़ा दावा

नई दिल्ली: पाकिस्तान-इंग्लैंड के बीच खेली जा रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के दो मैचों में पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा है। इंग्लैंड ने पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज में हराकर 22 साल बाद ऐतिहासिक जीत हासिल की है। इस सीरीज का तीसरा और फाइनल मुकाबला कराची के नेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। […]

Edited By : Pushpendra Sharma | Updated: Dec 13, 2022 10:01
Share :
PAK vs ENG Saud Shakeel
PAK vs ENG Saud Shakeel

नई दिल्ली: पाकिस्तान-इंग्लैंड के बीच खेली जा रही तीन मैचों की टेस्ट सीरीज के दो मैचों में पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा है। इंग्लैंड ने पाकिस्तान को टेस्ट सीरीज में हराकर 22 साल बाद ऐतिहासिक जीत हासिल की है। इस सीरीज का तीसरा और फाइनल मुकाबला कराची के नेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा।

हालांकि पाकिस्तान के सीरीज हारने के बाद भी एक बल्लेबाज की काफी चर्चा है। जिसका नाम सऊद शकील है। वही सऊद जिसके कैच पर बवाल मचा हुआ है। वही बल्लेबाज, जो 94 रन पर विवादित तरीके से आउट होकर सेंचुरी से चूक गया। पाकिस्तान के लिए रावलपिंडी में डेब्यू करने वाले सऊद को इसका मलाल भी है, लेकिन वे कॉन्फिडेंट हैं कि कराची में उनकी ये अधूरी ख्वाहिश जरूर पूरी होगी।

और पढ़िएICC WTC: इंग्लैंड की जीत के बावजूद खत्म नहीं हुआ पाकिस्तान का सफर, जानिए WTC Final का समीकरण

कराची में ही ठोका था पहला शतक

दूसरे टेस्ट मैच के बाद सऊद ने इसकी खास वजह भी बताई। सऊद ने कहा- कराची मेरा होम ग्राउंड है। मेरा फर्स्ट क्लास डेब्यू वहीं हुआ था। खास बात यह है कि मेरा फर्स्ट क्लास का पहला शतक भी वहीं आया था तो मैं पहली इंटरनेशनल सेंचुरी भी वहीं पूरी करने की कोशिश करूंगा। सऊद ने कहा- इंटरनेशनल क्रिकेट को लेकर मेरी यही कोशिश थी कि इसी तरह की शुरुआत हो। अगर मैं ये ईनिंग कन्वर्ट कर पाता और पाकिस्तान मैच जीत जाता तो और भी खुशी होती क्योंकि पर्सनल अचीवमेंट से ज्यादा आपकी टीम जीते तो ये ज्यादा महत्वपूर्ण है। सऊद ने कहा- एक तरफ खुशी है तो दूसरी तरफ इस बात का मलाल भी है कि हम मैच नहीं जीत पाए।

मैं चीजों को सिंपल रखने की कोशिश करता हूं

शकील ने कहा- डेब्यू में नर्वसनैस तो नहीं थी क्योंकि हम इस तरह की परिस्थितियों से गुजरे हुए हैं। हमने काफी क्रिकेट खेला है और वहां से सीखा है। पहली ईनिंग में जरूर थोड़ी नर्वसनैस थी, लेकिन इंटरनेशनल मैचों का प्रैशर हैंडल करना जरूरी है। सऊद ने कहा- मैं चीजों को सिंपल रखने की कोशिश करता हूं। इंटरनेशनल मैच आपके लिए कभी आसान नहीं होते। इस तरह की पिच पर आपको फास्ट बॉलर आसानी से रन नहीं बनाने देते। मैं यहीं से रन निकालने की कोशिश कर रहा हूं। मेरी स्ट्रेंथ यही है कि मैं पिच पर शांत रहता हूं।

और पढ़िएPAK vs ENG: गेंदबाज है या बल्लेबाज? जिसने पाकिस्तान को लूटा, उसे अबरार अहमद ने कूटा, देखें वीडियो

इसलिए मच गया है बवाल 

सऊद के कैच आउट होने पर बवाल मचा हुआ है। दरअसल, ओली पोप ने उन्हें विकेट के पीछे डाइव मारकर कैच किया था, लेकिन बाबर आजम समेत कई क्रिकेट फैंस का कहना है कि जब पोप ने बॉल उठाई तब वह जमीन को छू चुकी थी। ऐसे में सऊद को नॉट आउट करार दिया जाना चाहिए था। सऊद के आउट होने के बाद ही मैच पलट गया था। सऊद ने 59 फर्स्ट क्लास मैचों में 53.13 के औसत से 4463 रन ठोके हैं। जिसमें 15 शतक और 21 अर्धशतक शामिल हैं।

और पढ़िए – खेल से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Dec 12, 2022 09:17 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें