Thursday, 29 February, 2024

---विज्ञापन---

तेलंगाना में मिस्ट्री वायरस का कहर; सांस की नली पर करता है अटैक, जानें लक्षण और बचाव के तरीके

Mystery Respiratory Virus: हैदराबाद में एक मिस्ट्री वायरस ने तहलका मचा कर रखा है, इसके शुरुआती लक्षण तो ‘स्वाइन फ्लू’, ‘एडेनोवायरस’ और ‘इंन्फ्लूएंजा’ की तरह ही है। यह मरीज के सांस लेने की नली पर अटैक करती है। इस वायरस की पहचान नहीं हो पाई है। यह वायरस तेजी से पूरे राज्य में फैल रहा […]

Edited By : Deepti Sharma | Updated: Sep 3, 2023 09:33
Share :
Mystery Respiratory Virus,new virus in hyderabad today,h3n2 virus symptoms,Mystery Respiratory Virus Evades Testing
respiratory virus

Mystery Respiratory Virus: हैदराबाद में एक मिस्ट्री वायरस ने तहलका मचा कर रखा है, इसके शुरुआती लक्षण तो ‘स्वाइन फ्लू’, ‘एडेनोवायरस’ और ‘इंन्फ्लूएंजा’ की तरह ही है। यह मरीज के सांस लेने की नली पर अटैक करती है। इस वायरस की पहचान नहीं हो पाई है। यह वायरस तेजी से पूरे राज्य में फैल रहा है। बच्चों से लेकर बड़ों तक की सेहत पर असर कर रहा है। विशेषज्ञों के मुताबिक, इस वायरस से ठीक होने की दर 100 फीसदी है और फिलहाल कोई चिंता की बात नहीं है।

इसके अलावा, मरीज भी 4-5 दिनों में ठीक हो रहे हैं। ILI-SARI हाल ही के आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, H3N2 संक्रमण सांस संक्रमण के लिए 50 प्रतिशत तक जिम्मेदार है। 27 अगस्त को समाप्त के आखिर में पिछले कुछ हफ्तों में ज्यादा संक्रामक के मामले दर्ज नहीं किए गए थे।

इस वायरस के लक्षण

  • गला खराब होना
  • नाक बहना
  • फीवर
  • बॉडी में दर्द
  • सूखी खांसी
  • सांस लेने में परेशानी

एक्सपर्ट के मुताबिक, इनमें से कुछ मरीजों को सांस लेने में काफी ज्यादा दिक्कत महसूस हुई। इसके लक्षण अपर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट को प्रभावित करते हुए नीचले रेस्पिरेटरी ट्रैक तक फैल सकते हैं। इन्फ्लूएंजा ए और बी, स्वाइन फ्लू-एच1एन1, डेंगू और एवियन फ्लू-एच3एन2 में भी गलत सकारात्मक रिस्लट आए हैं।

ये भी पढ़ें- अगर माइग्रेन है तो न करें इग्नोर, हो सकती है दिमाग से जुड़ी गंभीर बीमारी

बचाव

  • खांसते और छींकते समय मुंह पर हाथ या रुमाल का यूज करें
  • मास्क का प्रयोग करें
  • सोशल डिस्टेंसिंग का ध्रयान रखें

उपचार

एक्सपर्ट ने कहा कि डॉक्टर इसपर उपचार कर रहे हैं और पॉसिटिव प्रतिक्रिया मिल रही है। डॉक्टर सांस में दिक्कत वाले लोगों का इलाज ओसेल्टामिविर से कर रहे हैं, जो एक एंटी-वायरल दवा है। मरीजों को पूरी तरह ठीक होने के बाद खुद को हाइड्रेटेड रखने और अलग रहने की सलाह दी जाती है।

Disclaimer: इस लेख में बताई गई जानकारी और सुझाव को पाठक अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। News24 की ओर से किसी जानकारी और सूचना को लेकर कोई दावा नहीं किया जा रहा है।

First published on: Sep 03, 2023 08:02 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.