Monday, 26 February, 2024

---विज्ञापन---

Congress Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी ने कन्याकुमारी से शुरू की यात्रा, बोले- हम भारत के लोगों को सुनना चाहते हैं

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की शुरूआत हो गई है। राहुल गांधी ने तमिलनाडु के कन्याकुमारी से अपनी यात्रा शुरू कर दी है। इस मौके पर राहुल ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा को भारत के लोगों की आवाज़ को सुनने के लिए डिजाइन किया गया है। हम RSS और भाजपा की […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Sep 8, 2022 11:43
Share :

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की शुरूआत हो गई है। राहुल गांधी ने तमिलनाडु के कन्याकुमारी से अपनी यात्रा शुरू कर दी है। इस मौके पर राहुल ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा को भारत के लोगों की आवाज़ को सुनने के लिए डिजाइन किया गया है। हम RSS और भाजपा की तरह भारत के लोगों की आवाज़ को दबाना नहीं चाहते, हम भारत के लोगों को सुनना चाहते हैं।

अभी पढ़ें Bharat Jodo Yatra: ‘भाजपा की रथ यात्रा सत्ता के लिए थी, कांग्रेस की पदयात्रा सत्य के लिए है’: कन्हैया कुमार

राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें (भाजपा) लगता है कि ED, CBI, आयकर विभाग से वे विपक्ष को डरा सकते हैं। चाहे कितने भी घंटों तक पूछताछ की जाए, विपक्ष का एक भी नेता भाजपा से डरने वाला नहीं है। भाजपा को लगता है कि वे इस देश को धार्मिक आधार पर, भाषा के आधार पर बांट सकते हैं। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि मुझे तमिलनाडु आकर बहुत खुशी होती है। मुझे भारत जोड़ो यात्रा यहां से शुरू करते हुए बेहद खुशी है। आज़ादी के इतने साल बाद भी सिर्फ कांग्रेस ही नहीं भारत के करोड़ों लोग भारत जोड़ो यात्रा की जरूरत महसूस कर रहे हैं।

वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पूरा मुल्क इस यात्रा को लेकर उत्सुक है। देश में सामाजिक ताना-बाना कैसे मजबूत हो, जाति एवं धर्म के नाम पर चल रहे ध्रुवीकरण को कैसे मिटाएं और आपस में प्यार रहे, यह संदेश लेकर राहुल गांधी इस यात्रा पर निकल गए हैं। बता दें कि जो अगले 150 दिनों तक 12 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेश से होते हुए श्रीनगर में खत्म होगी।

पूर्व पीएम राजीव गांधी के स्मारक पर पहुंचे राहुल गांधी

यात्रा शुरू करने से पहले राहुल गांधी ने तमिलनाडु के श्रीपेरंबुदूर में अपने पिता और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के स्मारक पर पहुंचे और उन्हें नमन किया। बता दें कि भारत जोड़ो यात्रा पहले 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के मौके पर शुरू होने वाली थी।

12 राज्यों में 3500 किलोमीटर की दूरी तय करेंगे राहुल

बता दें कि राहुल गांधी 12 राज्यों में 3,500 किलोमीटर की दूरी तय करेंगे। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने उदयपुर में आयोजित कांग्रेस के विचार शिविर के “नव संकल्प” में कन्याकुमारी से कश्मीर तक ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की घोषणा की थी। भारत जोड़ी यात्रा की आयोजन समिति के प्रभारी दिग्विजय सिंह हैं। यात्रा को कांग्रेस द्वारा 2024 के चुनावों में अपनी संभावनाओं को बेहतर बनाने की रणनीति के रूप में देखा जा रहा है।

गहलोत बोले- आजादी के बाद भारत में पहली बार बना है ऐसा माहौल

भारत जोड़ो यात्रा पर राजस्थान CM और कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने कहा कि देश में जिस प्रकार का माहौल बना है ऐसा माहौल आज़ादी के बाद पहली बार बना है यहां नफरत, हिंसा का माहौल है, जिससे देश चिंतित है। हम PM से बार-बार अनुरोध कर रहे थे कि वो अपील करें कि देश में प्रेम-भाईचारा,सद्भावना होना चाहिए।

गहलोत ने कहा कि देश में हिंसा को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा लेकिन आज तक उन्होंने (पीएम) ये बात नहीं कही है। देश में जाति और वर्ग में धर्म के नाम पर इतनी नफरत पैदा हो गई है कि अगर इसे संभाला नहीं गया तो गृह युद्ध भी हो सकता है।

बीजेपी का पलटवार- भारत टूटा कहां है जो आप जोड़ने निकले हैं

उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कांग्रेस के भारत जोड़ो यात्रा पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और राहुल गांधी की यात्रा की शब्दावली पर मुझे एतराज है। भारत टूटा कहां है जो आप जोड़ने निकले हैं। आप किस प्रकार से कह सकते हैं कि भारत टूटा है?

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि मुद्दों के आधार पर आपने भारत को बांट रखा था। जम्मू-कश्मीर को भारत का अंग नहीं बनने दे रहे थे। आप ट्रिपल तलाक का समर्थन कर रहे थे वो हमने हटाया। अपनी यात्रा से आप भारत को फिर से इन मुद्दों के आधार पर बांटने का प्रयास कर रहे हैं।

हिमंत सरमा ने भी किया पलटवार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि भारत का बंटवारा 1947 में हो गया था। अगर भारत जोड़ो यात्रा करनी है तो राहुल गांधी को यह यात्रा पाकिस्तान में करनी चाहिए, भारत में यात्रा करने से क्या होगा। भारत तो जुड़ा हुआ है। 1947 में कांग्रेस ने भारत को खंडित किया था। पाकिस्तान के बाद में बांग्लादेश भी आया। अगर राहुल गांधी के मन में खेद है तो ‘भारत जोड़ो’ भारत के क्षेत्र में करने का फायदा नहीं है। आप पाकिस्तान और बांग्लादेश को जोड़ने की कोशिश कीजिए।

कहां-कहां से गुजरेगी ‘भारत जोड़ो यात्रा’

कन्याकुमारी से शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा का आखिरी पड़ाव श्रीनगर होगा। कन्याकुमारी से शुरू होने वाली यात्रा 12 राज्यों एवं 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। यात्रा की शुरुआत त्रिरुवंतपुरम से होगी जो कोच्चि, मैसूर, बेल्लारी, रायचुर, विकाराबाद, नादेंड, जलगांव, इंदौर, कोटा, दौसा, अलवर, बुलंदशहर, दिल्ली, अंबाला, पठानकोट, जम्मू और श्रीनगर से गुजरेगी।

अभी पढ़ें मुंबई दौरे के दौरान गृहमंत्री अमित शाह की सुरक्षा में चूक, कई घंटों तक शाह के आस-पास घूमता दिखा शख्स

कांग्रेस की इस पदयात्रा में राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस के अन्य प्रमुख नेता शामिल होंगे। इसमें तीन तरह के यात्री शामिल होंगे। पहले यात्री भारत यात्री कहलाएंगे जो शुरू से लेकर आखिर तक पदयात्रा में राहुल गांधी के साथ चलेंगे। इसके बाद प्रदेश यात्री होंगे जो विभिन्न प्रदेशों से पदयात्रा के गुजरने के दौरान पदयात्रा में शामिल होंगे। तीसरे और आखिरी यात्री अतिथि यात्री कहलाएंगे जो उन राज्यों के होंगे जहां से ये पदयात्रा नहीं गुजरेगी।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

First published on: Sep 07, 2022 05:17 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें