Friday, July 10, 2020

चीन के उकसावे में नेपाल ने फिर कर दी बहुत बड़ी नादानी, क्या होगा भारत का रिएक्शन – जानें यहां

नेपाली प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने कोरोना का बहाना बनाकर भारत से लगती सीमा बंद कर दी है। इतना ही नहीं बार्डर पर सशस्त्र बल के जवान तैनात कर दिये हैं और सीसीटीवी से निगरानी बढ़ा दी है।

नई दिल्ली। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के हठधर्मी भरे व्यवहार की वजह से भारत और नेपाल के संबंध लगातार तनावपूर्ण होते जा रहे हैं। केपी शर्मा ओली सरकार के बारे में कहा जा रहा है कि वो चीन के दबाव में भारत के साथ संबंधों को खराब कर रहे हैं। चूंकि इस समय चीन पर अमेरिका और दुनिया के बाकी देशों ने कोरोना वायरस की जांच का दबाव बना रखा है। ताईवान को भारत का समर्थन मिल जाने से भी चीन बौखलाया हुआ है। इसलिए चीन भारत के खिलाफ नेपाल की ओली सरकार को इस्तेमाल कर रहा है। नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली यह जानते हुए भी चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के हाथों की कठपुतली बनने को तैयार हो गये हैं। केपी शर्मा ओली ने भारतीय क्षेत्र को नेपाल का हिस्सा बताकर नक्शा संसोधन का बिल संसद में पेश किया और अब नेपाल सीमा को बंद कर वहां नेपाल सशस्त्र बल को तैनात कर दिया है।

भारत और नेपाल के बीच लिपुलेख, कालापानी और लिंपियाधुरा को लेकर जारी सीमा का विवाद के बीच नेपाल ने भारत के साथ अपनी सीमा सील कर दी है। बताया गया है कि कोरोना वायरस के खतरे के चलते ऐसा फैसला किया गया है। जगह-जगह चेकपोस्ट लगाए गए हैं जहां नेपाल के सशस्त्र बलों के जवान तैनात किए गए हैं और आने-जाने वाले लोगों की निगरानी सीसीटीवी से की जा रही है। बता दें कि सीमा विवाद के चलते नेपाल और भारत के बीच राजनीति गरमाई हुई है और नेपाल सरकार देश के नए नक्शे को संवैधानिक दर्जा दिलाने की कोशिश में लगी है।

भारत और नेपाल की सीमा में कई जगहों पर लोगों को आने-जाने में ढील है। हालांकि, पिछले हफ्तों में कई बार प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली खुले तौर पर कह चुके हैं कि भारत से अवैध तरीके से दाखिल होने वाले लोगों से देश में कोरोना वायरस फैलने का खतरा ज्यादा है। नवभारत टाइम्स ऑनलाइन को नेपाल के उच्चपदस्थ अधिकारी ने बताया है कि इसी कारण भारत-नेपाल सीमा को सील किया गया है।

अधिकारी ने बताया है कि ऐसी जगहों पर Armed Police Force Nepal (APF) तैनात कर दी गई है और चेकपोस्ट बनाए गए हैं। नेपाली नागरिकों समेत भारत से आने वाले लोगों की चेकिंग की जा रही है। उन्हें क्वारंटाइन होने को भी कहा जा रहा है। कुछ जगहों पर सीसीटीवी कैमरे भी लगे हैं। इससे पहले मार्च में भी नेपाल ने चीन और भारत के साथ अपनी सीमाओं को इसी वजह से सील कर दिया था।

भारत और नेपाल के बीच सीमा विवाद लिपुलेख, लिंपियाधुरा और कालापानी पर अधिकार को लेकर पिछले कई दिनों से जारी है। भारत ने लिपुलेख में मानसरोवर लिंक रोड बनाई थी जिस पर नेपाल ने आपत्ति जताई। यहां तक कि नेपाल ने अपना नया नक्शा भी जारी कर दिया जिसमें इन तीनों को जगहों को अपने देश का हिस्सा दिखाया गया था। अभी तक इस नक्शे को संवैधानिक मंजूरी नहीं मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चित्रकूट में लड़कियों के यौन शोषण पर बोले राहुल गांधी- क्‍या ये ही हमारे सपनों का भारत?

रमन झा, नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी किसी ना किसी मुद्दे को लेकर आए दिन केंद्र सरकार को सवालों में घेर...

विकास ने पुलिस से कहा, मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला

https://www.youtube.com/watch?v=40SA8PcdbDY कानपुर कांड का मास्टरमाइंड विकास दुबे को एमपी के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। आज सुबह विकास दुबे उज्जैन महाकाल मंदिर पहुंचा...

विकास दुबे के दो और साथी एनकाउंटर में ढेर

https://www.youtube.com/watch?v=OSko0EfaskY विकास दुबे के दो और साथी एनकाउंटर में मारे गए हैं। कानपुर में प्रभात मिश्रा मारा गया जबकि इटावा में बउअन को पुलिस ने...

जम्मू कश्मीर में 6 पुलों का उद्घाटन करेंगे राजनाथ

https://www.youtube.com/watch?v=8iN74Tg1Wz0 रक्षामंत्री राजनाथ सिंह चीन से जारी सीमा तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में BRO द्वारा बानाए गए 6 महत्वपूर्ण पुलों का उद्घाटन का करेंगे।...