Thursday, 25 April, 2024

---विज्ञापन---

Jyotiraditya Scindia Exclusive: आपको कांग्रेसी गद्दार कहते हैं? जानिए केंद्रीय मंत्री का जवाब

Jyotiraditya Scindia Exclusive Interview With Manak Gupta Madhya Pradesh Assembly Election 2023: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि सिर्फ ग्वालियर-चंबल संभाग में नहीं, पूरे प्रदेश में पूर्ण बहुमत के साथ 5वीं बार भाजपा की सरकार बनने जा रही है।

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Nov 9, 2023 15:06
Share :
Jyotiraditya Scindia, Madhya Pradesh Assembly Election 2023, BJP, Congress
Jyotiraditya Scindia

Jyotiraditya Scindia Exclusive Interview With Manak Gupta Madhya Pradesh Assembly Election 2023: मध्य प्रदेश में 17 नवंबर को विधानसभा चुनाव है। ऐसे में पार्टियों ने प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है। मुख्य मुकाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच है, हालांकि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी सत्ता परिवर्तन में अहम रोल निभा सकती हैं। ऐसे में News24 के एग्जीक्यूटिव एडिटर मानक गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से एक्सक्लूसिव बातचीत की। एक रिपोर्ट…

सवाल: ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में आपका जबरदस्त प्रभाव है, पिछले चुनाव में 34 सीटों में से 26 जिताई थी, इस बार कितनी सीटें मिलेंगी?

ज्योतिरादित्य: सिर्फ ग्वालियर-चंबल संभाग में नहीं, पूरे प्रदेश में पूर्ण बहुमत के साथ 5वीं बार भाजपा की सरकार बनने जा रही है।

सवाल: आप लोगों के बीच जा रहे हैं, आपका फीडबैक क्या है?

ज्योतिरादित्य: लोगों की ललक और आशा है, उस संगठन के साथ, जिसने मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य से निकालकर बेमिसाल बनाया है। 18 साल का सफर बहुत संघर्षशील रहा है। जब भाजपा की सरकार बनी तो न सड़कें थीं, न पानी और न बिजली। 44 हजार किमी की सड़क थी, अब 5 लाख किमी की सड़कें हैं। 5 हजार मेगावाट बिजली की क्षमता थी। अब 29 हजार मेगावाट प्रॉडक्शन की क्षमता है। एक पूर्ण परिवर्तन भाजपा सरकार प्रदेश में लेकर आई है।

सवाल: आप ने प्रदेश के विकास को अवरुद्ध करने का आरोप कांग्रेस पर लगाया। कांग्रेस कह रही है कि आपने अपने पिता का अपमान किया?

ज्योतिरादित्य: कांग्रेस की आदत है कि जब उनके पास डिफेंस के लिए कुछ नहीं होता है तो वे मेरे परिवार पर आ जाते हैं। जब मेरे पिता कांग्रेस का हिस्सा थे तो इन्होंने कोई टिप्पणी नहीं की। जब मैं कांग्रेस में था, तब भी कुछ नहीं कहा। अब इतिहास के पन्ने पलटें जा रहे हैं। मेरे कथन में से अपनी सहूलियत के हिसाब से पार्ट ले रहे हैं। मैंने यह कहा थ कि 55 साल कांग्रेस की सरकार थी। तब कांग्रेस ने जूं भर भी विकास नहीं किया।

सवाल: कांग्रेस ने आपको बहुत कुछ दिया, आप उनकी जड़ें खत्म कर रहे हैं?

ज्योतिरादित्य: सांसद कोई पार्टी नहीं, बल्कि जनता बनाती है। पार्टी का नाम कार्यकर्ता की वजह से है।

सवाल: माधवराव सिंधिया और सोनियाजी के अच्छे रिश्ते थे, मगर अब हालात क्या हो गए?

ज्योतिरादित्य: मैं अपने अतीत में समय व्यर्थ नहीं करना चाहता। कांग्रेस अब मेरा अतीत है। मैं आगे की बात करता हूं। मैं जनता की तरक्की की बात करता हूं।

सवाल: आप जब टेंपल टूरिस्ट, ओबीसी टूरिस्ट की बात करते हैं तब क्या राहुल गांधी निशाने पर हैं?

ज्योतिरादित्य: मेरे निशाने पर वे सभी हैं जो चुनावी बेला में एक रूप धारण कर लेते हैं। जो कांग्रेस पार्टी ओबीसी की बात करती है, उसने ओबीसी कमीशन का विरोध किया। मंडल कमीशन का विरोध किया। उसी पार्टी की समाजवादी पार्टी से गठबंधन की बात चल रही थी, लेकिन जब कमलनाथजी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि कौन अखिलेश-वखिलेश। ये कांग्रेस का ओबीसी प्रेम है। मैं बता दूं कि केंद्र सरकार में सबसे ज्यादा 27 मंत्री ओबीसी वर्ग से हैं। यह इतिहास का सबसे बड़ा आंकड़ा है। 303 में से 85 सांसद ओबीसी के हैं। सबसे ज्यादा विधायक ओबीसी से हैं।

सवाल: आपने कहा कि मैं कांग्रेस का काला कौव्वा हूं? क्या कहना चाह रहे थे?

ज्योतिरादित्य: अगर आप झूठ बोलोगे, वादा खिलाफी करोगे, जनता के सपनों को नष्ट करोगे, फिर मुझे ललकारा गया तो मैं मैदान में आ गया। समझदार को इशारा काफी है।

सवाल: क्या आप सीएम की रेस में हैं?

ज्योतिरादित्य: मैं किसी पद की रेस में नहीं हूं। मैं एक कार्यकर्ता हूं। मैं कभी मुख्यमंत्री पद की रेस में कभी नहीं था। अगर मैं सीएम बनना चाहता था तो कमलनाथ जी का नाम जब सामने आया तो मैंने बिना एक सेकेंड गंवाए उनका ऐलान किया। मेरे परिवार को कभी कुर्सी की लालच नहीं रही। मैं रोज सोचता हूं कि क्या नया प्रोजेक्ट ला सकता हूं।

सवाल: आपको कांग्रेसी गद्दार कहते हैं, बुरा नहीं लगता?

ज्योतिरादित्य: उनको अपनी सोच सलामत। सबकी सोच को बदल नहीं सकते हैं। आप सिर्फ अपनी राह पर चल सकते हैं। आज भी जितनी चाहे गालियां कांग्रेस दे, मुझे न तो कांग्रेस और न ही किसी नेता से बैर है। मुझे अपनी पार्टी की लकीर लंबी करनी है।

सवाल: खुद को पूर्ण भाजपाई मानने लगे हैं?

ज्योतिरादित्य: भाजपा मेरा परिवार है। मेरी आजी अम्मा ने इस पार्टी को स्थापित करने में जी-जान लगा दिया। सींचा है। मेरे पूज्य पिताजी जब जनसेवा में निकले तो जनसंघ से पहली बार सांसद थे। मेरे लिए ये पार्टी बचपन से इर्द-गिर्द रही है। कांग्रेस में रहते हुए भी बहुत सारे पारिवारिक रिश्ते भाजपा के नेताओं से रहे हैं।

First published on: Nov 09, 2023 03:06 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें