---विज्ञापन---

विदेश मंत्री जयशंकर ने भगवान हनुमान को बताया बेस्ट डिप्लोमेट, बोले- पीएम मोदी जैसा नेता मिलना देश का सौभाग्य

Diplomat Hanuman: थाईलैंड में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने कहा कि उनके अनुसार सर्वश्रेष्ठ राजनयिक भगवान हनुमान हैं। विदेश मंत्री ने बताया कि कैसे भगवान हनुमान एक ऐसे देश में गए जिसके बारे में उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं थी, उन्होंने सीता का पता लगाया, रावण की लंका में आग […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Jul 16, 2023 12:29
Share :
EAM jaishankar, jaishankar in thailand, jaishankar on modi news, jaishankar asean countries meet, Hanuman ji, Diplomat Hanuman, Diplomacy News

Diplomat Hanuman: थाईलैंड में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर ने कहा कि उनके अनुसार सर्वश्रेष्ठ राजनयिक भगवान हनुमान हैं। विदेश मंत्री ने बताया कि कैसे भगवान हनुमान एक ऐसे देश में गए जिसके बारे में उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं थी, उन्होंने सीता का पता लगाया, रावण की लंका में आग लगाई और माता सीता का मनोबल ऊंचा रखा। विदेश मंत्री ने इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी जमकर तारीफ की।

विदेश मंत्री ने कहा कि अगर आप मुझसे पूछते हैं कि मेरे हिसाब से सबसे अच्छा राजनयिक कौन है, तो मेरा जवाब होगा, भगवान हनुमान। आप इसे एक देश के रूप में देखें तो वे (भगवान हनुमान) किसी अज्ञात व्यक्ति से निपट रहे हैं, जिसके बारे में उन्हें ज्यादा जानकारी नहीं है… आपको वहां जाना है, खुफिया जानकारी ढूंढनी है, माता सीता का पता लगाना है…।

जयशंकर ने कहा कि भगवान हनुमान गुप्त रूप से माता सीता से संपर्क साधते हैं, उनका मनोबल ऊंचा रखते हैं, अगर आप समग्रता से देखें, तो वे सफलतापूर्वक वापस आ जाते हैं। बता दें कि जयशंकर आसियान-भारत के विदेश मंत्रियों की बैठक में भाग लेने के लिए इंडोनेशिया की राजधानी में हैं। उन्होंने आसियान और बिम्सटेक समूहों के समकक्षों के साथ बैठकों के लिए बुधवार से इंडोनेशिया और थाईलैंड की अपनी सप्ताह भर की यात्रा शुरू की।

जनवरी में भी भगवान हनुमान के साथ कृष्ण को भी बताया था बेस्ट डिप्लोमेट

बता दें ये पहली बार नहीं है, जब जयशंकर ने भगवान हनुमान को बेस्ट डिप्लोमेट बताया है। इससे पहले इसी साल जनवरी के आखिरी सप्ताह में विदेश मंत्री ने अपनी किताब ‘द इंडिया वे’ के मराठी अनुवाद ‘भारत मार्ग’ के विमोचन के अवसर पर पुणे में ये बयान दिया था।

यहां पत्रकारों ने जयशंकर से पूछा था कि दुनिया के सबसे बड़े डिप्लोमैट कौन थे? सवाल का जवाब देते हुए जयशंकर ने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े डिप्लोमेट भगवान हनुमान और कृष्ण थे। जयशंकर ने कहा कि आप पूछेंगे कि ये तो कोई जवाब नहीं है, पर सही जवाब यही है। उन्होंने अपने जवाब को और पुख्ता बनाते हुए महाभारत और रामायण का जिक्र किया।

उन्होंने कहा था कि हनुमान जी ने तो इंटेलिजेंस का परिचय देते हुए टारगेट से आगे बढ़ गए थे और माता सीता से मिले और लंका को भी जला दिया। उन्होंने ये भी कहा था कि दुनिया के 10 स्ट्रैटिजिक कॉन्सेप्ट आज के जो हैं, मैं उसका महाभारत से एक-एक उदाहरण दे सकता हूं। उन्होंने कहा कि शानदार डिप्लोमेसी का सबसे अच्छा उदाहरण कृष्ण भगवान हैं.कृष्ण ने शिशुपाल को कैसे हैंडल किया. 100 बार उन्होंने क्षमा किया उसके बाद….।

जयशंकर ने पीएम मोदी की भी जमकर तारीफ की

थाइलैंड दौरे पर पहुंचे जयशंकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी बेहद दुरदर्शी और जमीन से जुड़े हुए नेता हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के बारे में ये असाधारण है कि उन्हें कई चीजों की नब्ज मिलती है, जिसे वह नीतियों और कार्यक्रमों में बदल देते हैं।

जयशंकर ने कहा कि मुझे लगता है कि इस समय उनके (पीएम नरेंद्र मोदी) जैसा व्यक्ति पाना देश का बहुत बड़ा सौभाग्य है। मैं ऐसा इसलिए नहीं कह रहा हूं क्योंकि वह पीएम हैं और मैं उनके मंत्रिमंडल का सदस्य हूं… वह बहुत बड़े हैं।” समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से उन्होंने कहा, दूरदर्शी और जमीन से जुड़े और ईमानदारी से कहें तो ऐसे लोग जीवन में एक बार आते हैं।

First published on: Jul 16, 2023 12:29 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें