---विज्ञापन---

UAE करेगा उत्तराखंड में 15 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का इन्वेस्टमेंट, सीएम धामी के दौरे के दौरान हुआ समझौता

UAE invest 15 thousand crore in Uttarakhand: यूएई में सीएम धामी की मौजूदगी में 15,475 करोड़ रुपये के निवेश एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए।

Edited By : khursheed | Updated: Oct 18, 2023 22:10
Share :
UAE करेगा उत्तराखंड में 15 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का इन्वेस्टमेंट, सीएम धामी के दौरे के दौरान हुआ समझौता

UAE invest 15 thousand crore in Uttarakhand: उत्तराखंड ग्लोबल इन्वेस्टर समिट 2023 के लिए संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की अपनी यात्रा के दूसरे दिन उत्तराखंड सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को अबू धाबी में विभिन्न औद्योगिक समूहों के साथ बैठक की। यूएई दौरे के दूसरे दिन मुख्यमंत्री धामी की मौजूदगी में राज्य सरकार की ओर से विभिन्न समूहों के साथ 3550 करोड़ रुपये के निवेश एमओयू पर हस्ताक्षर किये गये। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सभी औद्योगिक घरानों को 8 और 9 दिसंबर को देहरादून में आयोजित होने वाले समिट के लिए आमंत्रित भी किया। इस दौरान मुख्यमंत्री धामी के साथ कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत भी मौजूद रहे।

3550 करोड़ के निवेश एमओयू पर हस्ताक्षर किए

बुधवार को अबू धाबी में उत्तराखंड सरकार ने 3550 करोड़ के निवेश एमओयू पर हस्ताक्षर किए, जिसमें लूलू ग्रुप के साथ रियल एस्टेट सेक्टर में 1000 करोड़, हाइपर मार्केट के साथ हॉस्पिटैलिटी सेक्टर में 500 करोड़ और फूड पार्क में 250 करोड़ के निवेश के एमओयू शामिल हैं। आतिथ्य क्षेत्र में मध्य पूर्व में एसीटी सुविधाओं के साथ करोड़ रुपये और फार्मा क्षेत्र में निवेश के लिए रीजेंट ग्लोबल के साथ 300 करोड़ रुपये शामिल हैं। इससे पहले यूएई दौरे के पहले दिन सीएम धामी की मौजूदगी में 11925 करोड़ रुपये के निवेश एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। कुल मिलाकर यूएई में 15,475 करोड़ रुपये के निवेश एमओयू पर हस्ताक्षर किये गये।

प्रतिष्ठित सदस्यों के बीच आना अपने आप में गौरव का क्षण

मुख्यमंत्री धामी ने बुधवार को अबू धाबी में इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (आईसीएआई) द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में भी भाग लिया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि दुनिया में चार्टर्ड अकाउंटेंट्स की सबसे बड़ी संस्था के प्रतिष्ठित सदस्यों के बीच आना अपने आप में गौरव का क्षण है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड की पहचान देश व दुनिया में देवभूमि के रूप में है, जहां एक ओर जहां केदारनाथ, बद्रीनाथ धाम, जागेश्वर आदि मंदिर स्थित हैं, वहीं दूसरी ओर हमारा राज्य पवित्र नदियों गंगा और यमुना का उद्गम स्थल भी है।

यूएई ने रियल एस्टेट क्षेत्र में काफी प्रगति की

कार्यक्रम में उपस्थित उद्यमियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यूएई ने रियल एस्टेट क्षेत्र में काफी प्रगति की है और यहां की मशहूर इमारतों ने दुनिया में अपना मानक स्थापित किया है। उत्तराखंड भी अपने शहरों के नियोजित विकास और नए शहरों की स्थापना के लिए आपका सहयोग करने को इच्छुक है, ताकि वह इस क्षेत्र में आपकी विशेषज्ञता का लाभ उठा सके। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड सरकार राज्य में निवेशकों को सभी मूलभूत आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए सदैव तत्पर है और विशेषकर पिछले दो वर्षों में राज्य सरकार ने राज्य में निवेश आकर्षित करने की दिशा में योजनाबद्ध प्रयास किये हैं।

दूसरे देश उत्तराखंड में निवेश के लिए उत्साहित

लंदन और बर्मिंघम और फिर दिल्ली में रोड शो के दौरान करोड़ रुपये से अधिक के निवेश प्रस्ताव आए। उद्योग प्रतिनिधियों से 40 हजार करोड़ रुपये मिले, जिससे साबित होता है कि देश ही नहीं बल्कि विदेशों से भी उत्तराखंड में निवेश के लिए उत्साहित हैं। कार्यक्रम के दौरान कैबिनेट मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव आनन्द बर्द्धन, सचिव मुख्यमंत्री डॉ. आर. मीनाक्षी सुन्दरम, सचिव शैलेश बगौली, सचिव उद्योग विनय शंकर पण्ड्या, महानिदेशक उद्योग रोहित मीना सहित प्रतिनिधिमण्डल के अन्य सदस्य एवं आईसीएआई के सदस्य उपस्थित थे।

First published on: Oct 18, 2023 10:10 PM
संबंधित खबरें