---विज्ञापन---

सिद्धू मूसेवाला मर्डर में वांटेड इंटरनेशनल हथियार माफिया धरमनजोत काहलों अमेरिका में काबू, उसी ने भेजे थे हथियार

मानसा: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला कत्ल कांड में वांटेड इंटरनेशनल हथियार माफिया धरमनजोत सिंह काहलों (Dharamanjot Singh Kahlon) को अमेरिका की पुलिस ने हिरासत में लिया है। सूत्रों के मुताबिक धर्मनजोत गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ का बेहद करीबी है। आरोप है कि मूसेवाला मर्डर केस में इस्तेमाल हथियार आरोप है कि काहलों ने […]

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Aug 9, 2023 20:45
Share :

मानसा: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला कत्ल कांड में वांटेड इंटरनेशनल हथियार माफिया धरमनजोत सिंह काहलों (Dharamanjot Singh Kahlon) को अमेरिका की पुलिस ने हिरासत में लिया है। सूत्रों के मुताबिक धर्मनजोत गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ का बेहद करीबी है। आरोप है कि मूसेवाला मर्डर केस में इस्तेमाल हथियार आरोप है कि काहलों ने ही भिजवाए थे। फिलहाल भारत की सुरक्षा एजेंसियां ​​अमेरिका की फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) से संपर्क कर आरोपी धर्मनजोत को भारत लाने की तैयारी कर रही हैं।

बता दें कि 29 मई 2022 को पंजाब के मानसा में मशूहर पंजाबी गायक शुभदीप सिंह सिद्धू उर्फ सिद्धू मूसेवाला को गोलियों से छलनी कर दिया गया था। पुलिस के मुताबिक सिद्धू मूसेवाला के कत्ल में बोलेरो और करोला दो मॉड्यूल का इस्तेमाल हुआ था। कारोला मॉड्यूल के शार्प शूटर जगरूप सिंह रूपा और मनप्रीत सिंह कुसा को अमृतसर के गांव होशियार नगर मैं हुए पुलिस एनकाउंटर के दौरान ढेर कर दिया गया था, जबकि बोलेरो मॉड्यूल को लीड करने वाले शूटर प्रियव्रत फौजी, अंकित सेरसा वह कशिश उर्फ कुलदीप को दिल्ली पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। इसके बाद आखिरी शूटर दीपक मुंडी को 60 दिन की आंख-मिचौली के बाद पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

नवंबर 2022 में प्रोडक्शन वारंट के दौरान गैंगस्टर मनदीप तूफान, मनी राइया ने खुलासा किया था कि धरमनजोत सिंह काहलों (Dharamanjot Singh Kahlon) के कहने पर उन्होंने सतबीर सिंह के साथ मिलकर मानसा में शूटरों को हथियार पहुंचाए थे। इससे पहले भी हथियार सप्लाई करने के मामले में पुलिस बलदेव चौधरी, संदीप काहलों और सतबीर सिंह को गिरफ्तार कर चुकी है।

सूत्रों का कहना है कि काहलों लॉरेंस और बंबीहा गैंग को हथियार सप्लाई करता रहा है। अमृतसर का रहने वाला धर्मनजोत सिंह गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया का बेहद करीबी बताया जाता है। इसी दोस्ती के चलते जग्गू ने लॉरेंस और गोल्डी से उसके बारे में बात की थी। यूएपीए मामले में मोहाली पुलिस को धर्मनजोत की लंबे समय से तलाश थी। भारत में अपराध करने के बाद यह अपराधी अमेरिका में छिप गया था। अब जबकि अमेरिका की पुलिस ने काहलों को गिरफ्तार कर लिया है तो इसके बाद भारत की सुरक्षा एजेंसियों ने उसे भारत लाने के लिए ​​अमेरिका की फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (FBI) से संपर्क करके अगली तैयारी शुरू कर दी हैं।

First published on: Aug 09, 2023 08:45 PM
संबंधित खबरें