Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

MP की डॉ. इंदिरा दांगी को मिलेगा चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान, पटना में आयोजित होगा कार्यक्रम

भोपाल। इस साल के चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान की घोषणा हो गई है। इस बार यह सम्मान उच्च शिक्षा विभाग मध्य प्रदेश में कार्यरत हिंदी की सहायक प्राध्यापक डॉ इंदिरा दांगी को दिया जाएगा। इसकी घोषणा चंद्रगुप्त साहित्य महोत्सव सम्मान समिति के अध्यक्ष प्रो अमरनाथ सिन्हा ने कीहै। उन्होंने बताया कि सम्मान समिति की बैठक में […]

Edited By : Arpit Pandey | Updated: Mar 25, 2023 13:59
Share :
Dr Indira Dangi will get Chandragupta Sahitya Samman
Dr Indira Dangi will get Chandragupta Sahitya Samman

भोपाल। इस साल के चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान की घोषणा हो गई है। इस बार यह सम्मान उच्च शिक्षा विभाग मध्य प्रदेश में कार्यरत हिंदी की सहायक प्राध्यापक डॉ इंदिरा दांगी को दिया जाएगा। इसकी घोषणा चंद्रगुप्त साहित्य महोत्सव सम्मान समिति के अध्यक्ष प्रो अमरनाथ सिन्हा ने कीहै। उन्होंने बताया कि सम्मान समिति की बैठक में कई नामों की चर्चा के बाद सर्वसम्मति से डॉ. इंदिरा दांगी को इस साल का चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान देने का फैसला किया गया है।

इसलिए दिय जाता है सम्मान

चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान हिंदी साहित्य के क्षेत्र में अविस्मरणीय योगदान के लिए प्रदान किया जाता है। सम्मान के तौर पर उन्हें 51,000 रूपये की राशि,स्मृति चिह्न, प्रशस्ति पत्र और अंगवस्त्र प्रदान किया जायेगा। इस बार का आयोजन बिहार की राजधानी पटना में होगा, जहां उन्हें सम्मानित किया जाएगा।

दतिया में हुआ था इंदिरा दांगी का जन्म

चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान पाने वाली डॉ. इंदिरा दांगी का जन्म 13 फरवरी, 1980 को मध्य प्रदेश के दतिया में हुआ था। डॉ दांगी की पहचान एक प्रसिद्ध साहित्यकार के रूप में है। उन्होंने कई उपन्यास, कहानी और नाटक लिखे हैं। इनकी प्रसिद्ध रचनाओं में उपन्यास हवेली सनातनपुर (2014), रपटीले राजपथ, विपश्यना तथा नाटक में आचार्या, रानी कमलापति, राजकुमार पिथौरा और नत्र्तकी इत्यादि प्रसिद्ध है।

11 भाषाओं में हो चुका है पुस्तकों का अनुवाद

9 पुस्तकों की लेखिका डॉ. दांगी की कहानियों का अंग्रेजी, नेपाली, तमिल समेत कुल 11 भाषाओं में अनुवाद हो चुका है। इनके नाटकों का देश-विदेश में मंचन होता रहा है। देश-विदेश के अनेक भाषाओं के पत्र-पत्रिकाओ में इनकी कहानियां प्रकाशित होते रही हैं। आप आकाशवाणी के लिए गत 15 वर्षों से पटकथा लिख रही हैं।

बता दें कि इससे पहले भी साहित्य साधना के लिए डॉ. इंदिरा दांगी को कई सम्मान प्रदान किए गए हैं, जिसमें मध्य प्रदेश शासन द्वारा बालकृष्ण शर्मा नवीन पुरस्कार (2014), साहित्य अकादमी द्वारा साहित्य अकादमी युवा पुरस्कार (2015), दुष्यंत कुमार स्मृति पुरस्कार (2015), दिल्ली सरकार द्वारा मोहन राकेश नाट्य अनुशंसा पुरस्कार (2017) इत्यादि शामिल हैं। चंद्रगुप्त साहित्य सम्मान प्रदान करने के लिए सम्मान समिति के अध्यक्ष प्रो. अमरनाथ सिन्हा के अलावा प्रो. राजेंद्र प्रसाद गुप्ता, प्रो. अरुण कुमार भगत, श्रीप्रकाश नारायण सिंह, डॉ. मोहन सिंह, प्रो. किरण घईं और प्रो. दीप्ति कुमारी शामिल थी।

First published on: Mar 25, 2023 01:59 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें