Queen Elizabeth II Passes Away: महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन पर पीएम मोदी ने जताया खेद

नई दिल्ली: ब्रिटेन में सबसे लंबे समय तक राज करने वाली महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का 96 वर्ष की आयु में निधन हो गया। इससे पहले गुरुवार को बकिंघम पैलेस ने बताया था कि डॉक्टर महारानी के स्वास्थ्य के लिए चिंतित हैं और वह चिकित्सकीय देखरेख में हैं। अब बकिंघम पैलेस की रेलिंग पर रानी की मृत्यु का औपचारिक नोटिस लगा दिया गया है। नोटिस में कहा गया है, “महारानी का आज दोपहर बाल्मोरल में शांतिपूर्वक निधन हो गया। द किंग एंड द क्वीन कंसोर्ट आज शाम बाल्मोरल में रहेंगे और कल लंदन लौट आएंगे।”

महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के निधन के बाद ब्रिटेन के शाही परिवार के ट्विटर से महामहिम राजा का बयान जारी किया गया है। महारानी के निधन के बाद उनके सबसे बड़े बेटे 73 वर्षीय प्रिंस चार्ल्स प्रोटोकॉल के अनुसार अब ब्रिटेन के राजा बन गए हैं।

अभी पढ़ें बॉर्डर से दूर जाने लगे भारत और चीन के सैनिक, बैठक में हुआ था तय

बकिंघम पैलेस ने बताया कि क्वीन एलिजाबेथ की मौत के बाद उनके बेटे और प्रिंस चार्ल्स को तुरंत ब्रिटेन का राजा घोषित किया गया है। बता दें कि कुछ समय से महारानी एलिजाबेथ कहीं आने-जाने में असमर्थ थीं। इसलिए वे अपनी मुलाकातें लंदन के बकिंघम पैलेस की बजाय स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में कर रही थीं।

महारानी एलिजाबेथ के निधन से पूरी दुनिया से शोक संदेश की बाढ़ आई गई है। इस बीच भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी महारानी के निधन पर गहरा शोक प्रकट किया है। पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, “महारानी एलिजाबेथ द्वितीय को हमारे समय की एक दिग्गज के रूप में याद किया जाएगा. उन्होंने सार्वजनिक जीवन में गरिमा और शालीनता का परिचय दिया। उनके निधन से आहत हूं। इस दुख की घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और ब्रिटेन के लोगों के साथ हैं।”

इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने महारानी के साथ हुई मुलाकातों का जिक्र करते हुए कहा कि, “वर्ष 2015 और 2018 में यूके की अपनी यात्राओं के दौरान मेरी महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के साथ यादगार मुलाकातें हुईं। मैं उनकी गर्मजोशी और दयालुता को कभी नहीं भूलूंगा। एक बैठक के दौरान उन्होंने मुझे वह रूमाल दिखाया जो महात्मा गांधी ने उन्हें उनकी शादी में उपहार में दिया था। मैं उस इशारे को हमेशा संजो कर रखूंगा।”

अभी पढ़ें चार शहरों में चीनी मुखौटा कंपनियों को “फर्जी निदेशक” प्रदान करने वाली भारतीय संस्थाओं पर कार्रवाई

बता दें कि ब्रिटेन ने जून में भव्य आयोजनों के साथ राष्ट्र की सेवा के 70 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में महारानी की प्लेटिनम जयंती मनाई थी। साल 2015 में, महारानी एलिजाबेथ अपनी परदादी महारानी विक्टोरिया को पीछे छोड़ते हुए सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाली ब्रिटिश महारानी बनीं। इस साल, वह दुनिया की दूसरी सबसे लंबे समय तक राज करने वाली महारानी बनीं।

गौरतलब है कि महारानी एलिजाबेथ द्वितीय अपने पीछे बड़ा परिवार छोड़कर गई हैं। उनके चार बच्चे- चार्ल्स, ऐनी, एंड्रयू और एडवर्ड और आठ पोते-पोतियां हैं। उनके 12 परपोते-पोतियां भी हैं।

अभी पढ़ें  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version