News24 Hindi

पाकिस्तान में एक के बाद एक मारे जा रहे भारत के मोस्ट वांटेड आतंकी, अब CRPF पर हमले का मास्टरमाइंड ढेर

भारत के एक मोस्ट वांटेड आतंकवादी अदनान अहमद उर्फ हमजा अदनान की पाकिस्तान में मारे जाने की खबर सामने आई है। जानकारी के अनुसार कराची में अज्ञात हमलावरों ने उसकी हत्या की है। लश्कर-ए-तैयबा में अहम स्थान रखने वाला अदनान साल 2016 में पंपोर में हुए सीआरपीएफ के काफिले पर हमले का मास्टरमाइंड था। इस हमले में आठ सैनिक शहीद हुए थे और 22 घायल हुए थे।

अदनान का हाथ साल 2015 के ऊधमपुर आतंकी हमले में भी था। इसके अलावा वह पाकिस्तान में नए आतंकी तैयार करता रहा था। जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर और पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले करवाने में भी उसने अहम भूमिका निभाई थी। इसके साथ ही उसे पाक अधिकृत कश्मीर में लश्कर के कैंप्स में नए रंगरूटों को प्रशिक्षण देने की जिम्मेदारी भी दी गई थी।

ये भी पढ़ें: ‘इस दिन संसद भवन पर करूंगा हमला’, खालिस्तानी आतंकी पन्नू की गीदड़भभकी में क्या है ISI कनेक्शन?

बाइक सवार हमलावर आते हैं, गोलियां बरसाकर चले जाते हैं

खास बात यह है कि यह पहला मामला नहीं है जब भारत का मोस्ट वांटेड आतंकी पाकिस्तान में मारा गया है। पिछले दो साल में ऐसे कई आतंकी अज्ञात हमलावरों का शिकार हुए हैं। हालांकि, पाकिस्तान इन हत्याओं को लेकर मौन साधे है। उल्लेखनीय है कि इस तरह जान गंवाने वाले लगभग सभी आतंकी लश्कर-ए-तैयबा, हिजबुल मुजाहिदीन और जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े हुए थे।

आतंकियों को मारे जाने के इस सिलसिले की शुरुआत लश्कर-ए-तैयबा के संस्थापक और 2008 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद की जान लेने की एक असफल कोशिश के बाद हुई थी। इन आतंकियों के मारे जाने में एक जैसा पैटर्न देखने को मिला है। हर मामले में अज्ञात बाइक सवार अपराधी आते हैं और भारत में आतंकवाद फैलाने के आरोपी को मौत की नींद सुला देते हैं।

ये भी पढ़ें: ‘भारत की जांच का इंतजार’ खालिस्तानी पन्नू मामले में अमेरिका का बड़ा बयान

पाक में अज्ञात हमलावरों का शिकार बने कुछ प्रमुख आतंकी

Exit mobile version