Trendinglok sabha election 2024IPL 2024News24PrimeMahashivratri 2024WPL 2024

---विज्ञापन---

छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार बनी तो ये पांच दिग्गज नेता हो सकते हैं मुख्यमंत्री पद के दावेदार

वैभव शिव पांडे/रायपुर Chhattisgarh Assembly Election 2023 : छत्तीसगढ़ की सत्ता को बीजेपी फिर से हासिल करना चाह रही है। चुनाव में बीजेपी ने इसके लिए पूरा जोर लगा दिया। छत्तीसगढ़ की जनता बीजेपी को सरकार बनाने का मौका देती है तो यहां भी सीएम पद को लेकर कई दावेदार हैं, लेकिन सभी एक सुर […]

Edited By : Balraj Singh | Nov 23, 2023 07:02
Share :

वैभव शिव पांडे/रायपुर

Chhattisgarh Assembly Election 2023 : छत्तीसगढ़ की सत्ता को बीजेपी फिर से हासिल करना चाह रही है। चुनाव में बीजेपी ने इसके लिए पूरा जोर लगा दिया। छत्तीसगढ़ की जनता बीजेपी को सरकार बनाने का मौका देती है तो यहां भी सीएम पद को लेकर कई दावेदार हैं, लेकिन सभी एक सुर में कह रहे हैं कि पार्टी जिसे बनाएगी वहीं सीएम होगा।

प्रबल दावेदार रमन सिंह

छत्तीसगढ़ में बीजेपी को सत्ता मिलती है तो सीएम पद के सबसे प्रबल दावेदार 15 साल तक मुख्यमंत्री रहे रमन सिंह हो सकते हैं, बीजेपी में सरकार चलाने का उनसे ज्यादा अनुभव छत्तीसगढ़ में किसी को नहीं है। डॉक्टर रमन सिंह को पता है कि छत्तीसगढ़ का मर्ज क्या है और बीजेपी को भी पता है रमन सिंह ही छत्तीसगढ़ का विकास कर सकते हैं। ऐसे में रमन सिंह एक बार फिर से सरकार का संचालन कर सकते हैं, लेकिन इस मामले पर रमन सिंह सीधे कुछ नहीं कह रहे हैं।

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव

पूर्व सीएम रमन सिंह के बाद बीजेपी में सीएम पद के दूसरे सबसे बड़े दावेदार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव हो सकते हैं। पार्टी का ओबीसी चेहरा और बिलासपुर से सांसद अरुण साव पार्टी का सौम्य चेहरा हैं। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष की कमान संभालते ही अरुण साव ने पार्टी को मजबूत करने का काम शुरू किया…सरकार के खिलाफ लगातार हमला करते रहे और चुनाव में महौल बीजेपी के पक्ष में बना दिया।

यह भी पढ़ें: रोते-रोते चुनाव आयोग के पास पहुंची भाजपा, कांग्रेस की 7 गारंटियों पर बैन के बाद अशोक गहलोत का बयान

पूर्व सांसद विष्णुदेव साय और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविचार नेताम

सामान्य वर्ग से आने वाले रमन सिंह और OBC अरुण साव को पार्टी सीएम नहीं बनाती है तो ऐसे में बीजेपी अपने दो बड़े आदिवासी नेताओं में से एक किसी को सीएम बना सकती है। पूर्व सांसद विष्णुदेव साय और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविचार नेताम में से किसी एक को बीजेपी मुख्यमंत्री बना सकती है। RSS के बैकग्राउंड से आने वाले विष्णुदेव साय को सीएम बनाने के लिए संघ भी दवाब डाल सकता है…कई बार के सांसद और रमन सिंह में मंत्री रहे साय को सत्ता चलाने में ज्यादा दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ेगा…बीजेपी के दूसरे बड़े आदिवासी नेता रामविचार नेताम को भी पार्टी सीएम बनाने पर विचार कर सकती है।

यह भी पढ़ें: G20 Virtual Summit 2023 में PM मोदी ने उठाया Deepfake का मुद्दा; बोले-समाज के लिए जहर है ये

पूर्व IAS ओपी चौधरी

तेज तर्रार और आक्रामक छवि वाला बीजेपी का ये आदिवासी नेता भी सीएम पद का दावेदार हो सकता है, वहीं अपने फैसले को लेकर अक्सर चौंकाने वाली बीजेपी इन सभी चेहरों को दरकिनार किसी नए चेहरे को भी सीएम बना सकती है और उनमें एक नाम है पूर्व IAS ओपी चौधरी का। रायगढ़ से चुनाव लड़ रहे ओपी चौधरी को पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का खास माना जाता है। कलेक्टर के रूप में विकास पुरुष की छवि बनाने वाले ओपी चौधरी को लेकर खुद अमित शाह ने कहा कि वो उन्हें बड़ा आदमी बनाएंगे। बीच चुनाव में अमित शाह के इस बयान की काफी चर्चा हुई। ओपी चौधरी को सीएम पद का प्रबल दावेदार बताया जाने लगा। बीजेपी को सत्ता मिलती है तो ओपी चौधरी सीएम बन जाएं ये भी संभव हो सकता है।

First published on: Nov 23, 2023 07:02 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version