अमेरिकी रिपोर्ट का दावा- चीन के परमाणु भंडार की संख्या 400 से बढ़कर वर्ष 2035 तक 1500 हो जाएगी

Pentagon Report On China: पेंटागन की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन अंतरिक्ष और काउंटरस्पेस हथियार भी विकसित कर रहा है।

Pentagon Report On China: पेंटागन की एक प्रमुख रिपोर्ट से पता चला है कि चीन ने 400 परमाणु हथियार विकसित किए हैं और अगले दशक के मध्य तक अपने परमाणु हथियारों को 1,500 तक करने की राह पर है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चीन 2035 तक अपने परमाणु हथियारों के भंडार को तीन गुना से अधिक करने की राह पर है, क्योंकि वह अमेरिका को दुनिया की शीर्ष महाशक्ति के रूप में चुनौती देना चाहता है।

पेंटागन ने अपनी वार्षिक रिपोर्ट में चीनी सेना पर ब्योरा देते हुए कहा कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी की योजना मूल रूप से 2035 तक अपने राष्ट्रीय रक्षा और सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण को पूरा करने की है। चीन की सेना पर पेंटागन की वार्षिक रिपोर्ट पर एक समाचार ब्रीफिंग के दौरान सीनियर अमेरिकी रक्षा अधिकारी के हवाले से कहा गया कि वे इस राह पर तेजी से बढ़ रहे हैं।

पेंटागन की रिपोर्ट क्या कहती है?

पेंटागन की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन अंतरिक्ष और काउंटरस्पेस हथियार भी विकसित कर रहा है। सीएनएन ने एक रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन के पास लगभग 10 लाख सैनिकों की स्थायी सेना है, जहाजों की संख्या के हिसाब से यह दुनिया की सबसे बड़ी नौसेना है और दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी वायु सेना है।

पेंटागन ने कहा कि चीन आक्रामक साइबरस्पेस क्षमताओं और निर्देशित-ऊर्जा हथियारों के अलावा इलेक्ट्रॉनिक युद्ध क्षमताओं का विकास कर रहा है।

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (एसआईपीआरआई) के थिंक-टैंक के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका के पास लगभग 3,700 परमाणु हथियारों का भंडार है। उधर, बीजिंग का मानना ​​है कि सीमित संख्या में परमाणु हथियार उसके क्षेत्र पर किसी भी परमाणु हमले का जवाब देने के लिए आवश्यक हैं। चीन द्वारा परमाणु हथियारों का जमावड़ा वाशिंगटन के लिए चिंता का कारण है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version