Saturday, July 4, 2020

भारत के खिलाफ LAC पर युद्ध की तैयारी, इन खतरनाक हथियारों की तैनाती में लगा चीन

साल 2017 में भारत के साथ डोकलाम गतिरोध के बाद चीनी सेना ने अपने शस्त्रागार में हथियारों का विस्तार किया। उसने टाइप 15 टैंक, जेड -20 हेलीकॉप्टर और जीजे -2 ड्रोन का निर्माण किया, जिनको अब लद्दाख में भारत के खिलाफ प्रयोग करने की वकालत की गई है। यह बात चीनी विश्लेषकों की तरफ से वहां के अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स में एक लेख के जरिए कही गई हैं।

नई दिल्‍ली: लद्दाख में भारत और चीन के बीच बढ़ती तनातनी के बीच चीनी विश्लेषकों की तरफ से भड़ाऊ बयान सामने आया है। विश्लेषकों ने भारत के खिलाफ अपने नए हथियारों को इस क्षेत्र में तैनात करने की सलाह चीनी सरकार को दी है। साल 2017 में भारत के साथ डोकलाम गतिरोध के बाद चीनी सेना ने अपने शस्त्रागार में हथियारों का विस्तार किया। उसने टाइप 15 टैंक, जेड -20 हेलीकॉप्टर और जीजे -2 ड्रोन का निर्माण किया, जिनको अब लद्दाख में भारत के खिलाफ प्रयोग करने की वकालत की गई है। यह बात चीनी विश्लेषकों की तरफ से वहां के अखबार ग्‍लोबल टाइम्‍स में एक लेख के जरिए कही गई हैं।

चीन ने बनाए टाइप 15 टैंक को पिछले साल 1 अक्टूबर को राष्ट्रीय दिवस सैन्य परेड में देश के सामने रखा था। इसमें एक इंजन इंजन लगा हुआ है। टाइप 15 लाइटवेट युद्धक टैंक प्रभावी रूप से मुश्किल से पठार क्षेत्रों में काम कर सकता है। इसमें उन्नत अग्नि नियंत्रण प्रणाली और 105 मिलीमीटर कैलिबर बंदूक भी लगी है। जो किसी भी हल्के बख्तरबंद वाहन को भेद सकता है। इस परेड़ में चीन के सबसे उन्नत होवित्जर PCL-181 को भी दिखाया गया। 25 टन का PCL-181 हल्का और तेज है यह चीन के पिछले 40 टन के स्व-चालित होवित्जर की तुलना में अधिक ताकतवर है।

इन दोनों ही 15 टैंक और PCL-181 हॉवित्जर को जनवरी में सैन्य अभ्यास के दौरान दक्षिण-पश्चिम चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र की ऊंचाई वाले पहाड़ों में देखा गया था। इस परेड में एक अन्य नया हथियार एक मल्टी-रॉकेट लॉन्चर सिस्टम था, जो 8×8 पहियों वाली गाड़ी पर तैनात था। इसमें चार 370-मिलीमीटर रॉकेट के दो सेटों लगे हुए थे जोकि ऊंचाई पर तैनाती किया जा सकता है।

चीनी विश्‍लेषकों की तरफ से बताया गया कि चीन ने परेड में Z-20 हेलीकाप्टर को भी शामिल किया, जोकि सभी प्रकार के इलाकों और मौसम में उड़ान भरने में सक्षम है। इसका उपयोग कर्मियों और कार्गो परिवहन, खोज और बचाव व टोही मिशनों पर किया जा सकता है। Z-20 में शक्तिशाली इंजन लगा हुआ है जोक‍ि एविएशन इंडस्ट्री कॉर्पोरेशन ऑफ चाइना ने बनाया है। बाद में इसको संशोधित करते Z-8G में बदल दिया गया, जोकि एक बड़ा परिवहन हेलीकॉप्टर बना।

Z-8G चीन में अपनी तरह का पहला हेलीकाप्‍टर है जो समुद्र तल से 4,500 मीटर से अधिक दूर तक जा सकता है, जिसकी 6,000 मीटर से अधिक ऊंचा जा सकता है। एयरशो चाइना 2018 में, चीनी वायु सेना ने जीजे -2 सशस्त्र टोही ड्रोन का अनावरण किया, जो पिछले जीजे-1 की तुलना में अधिक वजन ले जा सकता है। रिपोर्टों में कहा गया है कि इसका उपयोग तिब्बत जैसे उच्च ऊंचाई वाले क्षेत्रों में लंबी सीमा पर गश्त करने के लिए किया जा सकता है। चीनी विश्लेषकों ने कहा कि विशेष रूप से तैयार किए गए इन हथियारों ने ऊंचाई वाले क्षेत्रों में चीनी सेना की युद्धक क्षमताओं को बढ़ावा दिया है, जिससे राष्ट्रीय संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को बेहतर सुरक्षा मिल सके।

बता दें कि हाल ही में LAC पर चीन और भारत की सेनाओं के बीच झड़प हुई हैं। जिसके बाद चीन ने यहां पर सैनिकों की तादाद को बढ़ा दिया है। लेख में बताया गया है कि मई में गालवान घाटी क्षेत्र में भारत ने अवैध निर्माण किया है। मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि चीन ने हाल ही में 5000 सैनिकों को तैनात किया है और दोनों देशों के राजनयिकों ने शांतिपूर्ण समाधान पर बातचीत शुरू कर दी है।

चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रेन गुओकियांग ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि चीनी सैनिक सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति और स्थिरता की रक्षा के लिए समर्पित हैं और चीन-भारत सीमा पर समग्र स्थिति स्थिर और नियंत्रण में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पाकिस्तान में भीषण बस-ट्रेन हादसा, 19 सिख तीर्थयात्रियों की मौत

लाहौर। पाकिस्तान में लाहौर के पास शेखपुरा जिले में एक यात्री बस और ट्रेन के बीच शुक्रवार को हुई टक्कर में कम से कम...

MP Board 10th Result 2020: सबसे पहले एक क्लिक पर यहां देखें अपना स्कोर, रिजल्ट देखने का सबसे आसान तरीका

MPBSE MP Board 10th result 2020: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) यानि एमपी बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों...

NEET 2020 and JEE Mains 2020: नीट और जेईई परीक्षा एक बार फिर हुई स्थगित, अब इस नई तारीख को होगी आयोजित

NEET 2020 and JEE Mains 2020:  देश  भर में फैले कोरोनावायरस के कारण कई बड़ी परीक्षाएं या तो स्थगित कर दी गई है या...

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के तेज झटके, देखें 2 महीने में कितने बार कांपी धरती

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में शाम 7 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। पिछले दो महीने में यह 14वां झटका है। भूकंप का...