Wednesday, July 8, 2020

दुनिया के सामने खुली पाकिस्‍तान की पोल, डी कंपनी ने किया बेनकाब

भारत हमेशा से कहता आया है कि आतंकी दाऊद इब्राहिम को पाकिस्‍तान ने पनाह दी हुई है। लेकिन नापाक पाक हमेशा से इस बात को नकारता आया है। हालांकि पहली बार दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम ने स्‍वीकार किया है कि वह पाकिस्‍तान में बिजनेस चलाते हैं। जिसके बाद पाकिस्‍तान एक बार फिर से दुनिया के सामने बेनकाब हो गया

नई दिल्‍ली: भारत हमेशा से कहता आया है कि आतंकी दाऊद इब्राहिम को पाकिस्‍तान ने पनाह दी हुई है। लेकिन नापाक पाक हमेशा से इस बात को नकारता आया है। हालांकि पहली बार दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम ने स्‍वीकार किया है कि वह पाकिस्‍तान में बिजनेस चलाते हैं। जिसके बाद पाकिस्‍तान एक बार फिर से दुनिया के सामने बेनकाब हो गया।

हाल ही में रिपोर्ट आई थीं कि दाऊद इब्राहिम और उसकी पत्नी को कोरोना हो गया है और उन्हें कराची के आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसको लेकर ही दाऊद के भाई अनीस इब्राहिम ने एक मीडिया एजेंसी को फोन करके इस रिपोर्ट को खारिज किया, हालांकि वह यह स्‍वीकार कर बैठा की उनका पाकिस्‍तान में बिजनेस है।

यूएई और पाकिस्‍तान में चलाते हैं बिजनेस
अनीस ने बताया संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और पाकिस्तान में व्यवसाय चलाने की बात स्वीकार की। दाऊद इब्राहिम कासकर के बारे में कहा जाता है कि वह कराची में रहता है और पाकिस्तान की जासूसी एजेंसी इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) उसकी सुरक्षा करती है। दाऊद 1993 में मुंबई हुए बम विस्फोटों सहित कई अपराधिक मामलों में आरोपी है।

हालांकि इस्लामाबाद वर्षों से दाऊद और उसके परिवार की पाकिस्तान में मौजूदगी से इंकार करता आया है। डी-कंपनी का शार्प शूटर और जबरन वसूली व सट्टेबाजी सिंडिकेट का प्रभारी छोटा शकील भी कराची में रहता है।

दाऊद का परिवार 1994 से ही पाकिस्तान के कराची में बसा हुआ है। उसकी बेटी महरुख का विवाह पाकिस्तान के पूर्व स्टार क्रिकेटर जावेद मियांदाद के बेटे से हुआ है। डी-कंपनी का रणनीतिकार अनीस 1990 के दशक की शुरुआत से खबरों में रहा है, जब उसने कथित तौर पर मुंबई में फिल्मस्टार संजय दत्त के आवास पर हथियारों से भरा वाहन भेजा था। उसपर दुबई में अपने बेस से बॉलीवुड फिल्मों को फंडिंग करने और क्रिकेट में सट्टेबाजी के सिंडिकेट चलाने का भी आरोप है। कुछ साल पहले उसे कथित रूप से सऊदी अरब में हिरासत में लिया गया था, लेकिन भारतीय एजेंसियों के जाल में फंसने से पहले ही वह भागने में सफल रहा।

अनीस ने स्वीकार किया कि डी-कंपनी पाकिस्तान और दुबई के माध्यम से कारोबार चलाती है। यूएई में लग्‍जरी होटल चलाने और पाकिस्तान और अन्य देशों में बड़ी निर्माण परियोजनाओं के बारे में पूछे जाने पर अनीस ने इनकार नहीं किया और कहा, तो क्या करते? उसने यह भी स्वीकार किया कि डी-कंपनी ट्रांसपोर्ट व्यवसाय भी चलाती है।

संयुक्त राष्ट्र और इंटरपोल सहित विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों को भारत सरकार द्वारा सौंपे गए खुफिया दस्तावेजों से पता चलता है कि डी-कंपनी का कराची हवाईअड्डे से अफगानिस्तान तक एक प्रमुख ट्रांसपोर्ट बिजनेस है। डी-कंपनी द्वारा नियुक्त ट्रकचालक डॉन को अफगान-पाकिस्तान सीमा पर वाहनों की एक सुगम श्रंखला के माध्यम से अवैध हेरोइन की तस्करी में भी मदद करते हैं। दाऊद और उसके भाई ने बाद में पाकिस्तान और यूएई में होटल और रिसॉर्ट्स व्यवसाय में भी निवेश किया है। डॉन के पास सिंध प्रांत में हैदराबाद (पाकिस्तान) के पास कोटरी में एक पेपर मिल के बगल में कई मॉल भी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Covid-19 को रोकने के लिए सीएम योगी का सख्त कदम, मास्क नहीं पहना तो लगेगा इतने रुयपे का जुर्माना

नई दिल्लीः कोरोना वायरस (CoronaVirus) का कहर पूरे भारत (India) में देखने को मिल रहा है, मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही...

RBSE 12th Science result 2020 Live updates: rajresults.nic.in पर जारी हुआ रिजल्ट, जानें कितने प्रतिशत छात्र हुए पास

RBSE 12th Science result 2020: राजस्थान बोर्ड के 12वीं के विद्यार्थियों के लिए एक खुशखबर सामने आई है। दरअसल राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने...

इस बार आईपीएल का आयोजन होगा या नहीं, गांगुली ने कही ये बड़ी बात

नई दिल्लीः भारत में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है, लगातार बढ़ते मामले चिंता बढ़ा रहे हैं। कोरोना के...

RBSE 12th Science result 2020 Live updates: rajresults.nic.in पर जारी हुआ रिजल्ट, जानें किसने किया टॉप

RBSE 12th Science result 2020: राजस्थान बोर्ड के 12वीं के विद्यार्थियों के लिए एक खुशखबर सामने आई है। दरअसल राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने...