Friday, July 10, 2020

चालबाजी से बाज नहीं आ रहा है चीन, भारतीय सीमा की जासूसी के लिए बनाया ये खास प्लान

एक पुरानी कहावत है 'चोर चोरी से जाए हेरा फेरी से न जाए' यही कुछ हाल हमारे पड़ोसी चीन है। दुनिया को कोरोना संकट में उलझाने के बाद चीन अपनी विस्तारवादी महत्वाकांक्षी नीति को आगे बढ़ाने में जुटा है। चीन ने जहां साउथ चाइना सी में अपनी सैन्य गतिविधियां तेज कर दी है। वहीं भारतीय इलाकों और सैन्य तैयारियों का जायजा लेने के लिए चीन नई रणनीति पर तेजी से काम कर रहा है।

नई दिल्ली: एक पुरानी कहावत है ‘चोर चोरी से जाए हेरा फेरी से न जाए’ यही कुछ हाल हमारे पड़ोसी चीन है। दुनिया को कोरोना संकट में उलझाने के बाद चीन अपनी विस्तारवादी महत्वाकांक्षी नीति को आगे बढ़ाने में जुटा है। चीन ने जहां साउथ चाइना सी में अपनी सैन्य गतिविधियां तेज कर दी है। वहीं आज की तारीख में चीन का शायद ही ऐसा कोई पड़ोसी न हो जो उसकी चालबाजी से परेशान न हो। वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास चीनी सैनिकों ने अचानक आक्रामक रवैया अपना लिया है। बीते कुछ दिनों में चीन और भारत के सैनिकों के बीच कई बार तीखी झड़प हुई है। दरअसल, भारत की अपनी सीमा में की जा रही रणनीतिक तैयारियों से चीन तिलमिलाया हुआ है।

जानकारी के मुताबिक पिछले दिनों कम से कम दो बार चीनी हेलिकॉप्टर ने भारतीय सीमा में घुसपैठ की कोशिश की जिसे भारतीय वायुसेना ने भगा दिया। सरहद पर भारत का रूख भी आक्रमक है। चीन की किसी भी हरकत का माकूल जवाब देने के लिए भारतीय सैना तैयार है। हाल के सैन्य झड़पों के बाद से चीन ने लद्दाख से लगी सीमा पर बड़ी संख्या में सैनिकों की तैनाती की है।

इतना ही नहीं, चीनी सेना ने सीमा से लगे क्षेत्रों में नए बंकर बनाने के लिए अर्थ मूवर्स मशीनों को भी तैनात किया है। वहीं, भारत ने भी लद्दाख से लगी सीमा पर अपने सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है। हाल में ही सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने लद्दाख बॉर्डर का दौरा कर ऑपरेशनल तैयारियों का जायजा भी लिया था।

इन सबके बीच चीन अब भारतीय इलाकों और सैन्य तैयारियों का जायजा लेने के लिए नई रणनीति पर तेजी से काम कर रहा है। चीनी मीडिया के मुताबिक चीन ने मानव रहित हेलिकॉप्टर का पहली बार सफल परीक्षण किया है। और वह इसे भारत से सटी सीमा पर तैनात करेगा।

चीनी सरकारी मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स की खबरों के मुताबिक स्वदेशी तकनीक पर विकसित मानव रहित हेलिकॉप्टर AR500C ने हाल में ही अपनी पहली उड़ान भरी है। यह हेलिकॉप्टर टोह लेने, रेकी करने के अलावा, कम्यूनिकेशन, इलेक्ट्रॉनिक वॉरफेयर, परमाणु विकिरण का पता लगाने, ऊंचाई वाले क्षेत्रों में जंगी गतिविधि में उपयोगी साबित होगा। इस हेलिकॉप्टर को भारत से लगी सीमा पर तैनात किए जाने की योजना है।

गौरतलब है कि AR500C चीन द्वारा विकसित पहला मानव रहित हेलिकॉप्टर है। यह पांच किलोमीटर की रेंज में 6700 मीटर की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है। इसकी अधिकतम स्पीड 170 किलोमीटर प्रति घंटा है, जबकि एक बार में इसे 5 घंटे तक उड़ाया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चित्रकूट में लड़कियों के यौन शोषण पर बोले राहुल गांधी- क्‍या ये ही हमारे सपनों का भारत?

रमन झा, नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी किसी ना किसी मुद्दे को लेकर आए दिन केंद्र सरकार को सवालों में घेर...

विकास ने पुलिस से कहा, मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला

https://www.youtube.com/watch?v=40SA8PcdbDY कानपुर कांड का मास्टरमाइंड विकास दुबे को एमपी के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया गया है। आज सुबह विकास दुबे उज्जैन महाकाल मंदिर पहुंचा...

विकास दुबे के दो और साथी एनकाउंटर में ढेर

https://www.youtube.com/watch?v=OSko0EfaskY विकास दुबे के दो और साथी एनकाउंटर में मारे गए हैं। कानपुर में प्रभात मिश्रा मारा गया जबकि इटावा में बउअन को पुलिस ने...

जम्मू कश्मीर में 6 पुलों का उद्घाटन करेंगे राजनाथ

https://www.youtube.com/watch?v=8iN74Tg1Wz0 रक्षामंत्री राजनाथ सिंह चीन से जारी सीमा तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में BRO द्वारा बानाए गए 6 महत्वपूर्ण पुलों का उद्घाटन का करेंगे।...