Friday, July 3, 2020

Coronavirus: कोरोना महामारी फैलाने वाले चीन ने ऐसे उड़ाया अमेरिका का मजाक!

अब इस लड़ाई में नया ट्वीस्ट आ गया है। बैकफुट पर दिख रहे चीन ने अब फ्रंटफुट पर खेलने की ठान ली है। यही वजह है कि चीन अब सफाई देने के बदले अमेरिकी सरकार को ही अपने नागरिकों की मौत का जिम्मेदार ठहराने लगा है। चीन ने हाल ही में एक एनिमेटेड वीडियो जारी किया है, जिसके जरिए उसने अमेरिका की गलतियां गिनाई हैं।

नई दिल्‍ली: पूरी दुनिया में महामारी फैलाने के आरोपों से झल्लाया चीन अब अमेरिका पर अपना गुस्सा निकाल रहा है। कोरोना वायरस के बाद अब चीन ने 100 सेकेंड का एक एनिमेशन वीडियो बनाया है, जिसके जरिए उसने अमेरिका में हो रही मौतों के लिए ट्रंप सरकार को ही कसूरवार ठहरा दिया है। चीन की मानें तो उसने अमेरिका को आगाह किया लेकिन ट्रंप नींद में सोये रहे। अब अब खिसियानी बिल्ली की तरह खंभा नोच रहे हैं।

पूरी दुनिया घातक कोरोना वायरस से जंग रही है। मेडिकल स्टाफ और सुरक्षाकर्मी अपनी जान पर खेलकर दूसरों की जान बचा रहे है, लेकिन अमेरिका और चीन अब भी जुबानी जंग में मशगूल है। आरोप-प्रत्यारोप सिलसिला थमने की बजाए और तीखा हो रहा है। दोनों खुद को पाक साफ और दूसरे को दागदार बताने की होड़ में मशगूल हैं। अमेरिका का इल्जाम है कि चीन ने जानबूझकर लोगों की जान लेने की साजिश रची है। ट्रंप बार-बार कह रहे हैं कि चीन ने ये वायरस प्रयोगशाला में तैयार किया है जबकि चीन कह रहा है कि वो तो खुद पीड़ित है। उसने कोई वायरस नहीं फैलाया है, अमेरिका के आरोप बेबुनियाद हैं और ट्रंप सफेद झूठ बोल रहे हैं।

अब इस लड़ाई में नया ट्वीस्ट आ गया है। बैकफुट पर दिख रहे चीन ने अब फ्रंटफुट पर खेलने की ठान ली है। यही वजह है कि चीन अब सफाई देने के बदले अमेरिकी सरकार को ही अपने नागरिकों की मौत का जिम्मेदार ठहराने लगा है। चीन ने हाल ही में एक एनिमेटेड वीडियो जारी किया है, जिसके जरिए उसने अमेरिका की गलतियां गिनाई हैं।

एक मिनट 39 सेकंड के इस एनिमेटेड वीडियो को फ्रांस में चीन की एंबेसी ने ट्विटर पर पोस्ट किया है, जिसका टाइटल है ‘वंस अपॉन ए वायरस’। इस वीडियो में चीन ने वायरस की टाइमलाइन भी दिखाई है। चीन ने कार्टूनों के जरिए दिखाया है कि वो लगातार दुनिया को कोरोना वायरस की जानकारी देता रहा, लेकिन अमेरिका स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी की तरह खामोश रहा। संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कोई एक्शन नहीं लिया, उल्टा चीन पर ही आरोप लगाता रहा।

वीडियो के जरिए चीन ने ये बताने की कोशिश की है कि उसने जनवरी में अपने यहां लॉकडाउन की घोषणा की, लेकिन अमेरिका ने उसे बर्बर बताया और उसपर मानवाधिकार हनन का आरोप भी मढ़ दिया। ट्विटर पर ये वीडियो वायरल हो गया है और लोग इसकी खूब चर्चा कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर लोग इस वीडियो को लेकर अपना रिएक्शन भी दे रहे हैं। कई लोग चीन के सही समय पर सूचना देने के दावे को गलत बता रहे हैं, क्योंकि उनकी नज़र में चीन ने कोरोना वायरस के मामले में बहुत कुछ छिपाया है। अगर उसने दुनिया को सच्चाई बता दी होती तो इतनी बड़ी तादाद में लोगों की मौत नहीं होती, कोरोना का कहर इतना खौफ़नाक नहीं होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुए इंग्लैंड के क्रिकेटरों ने जश्न का निकाला नया तरीका, खूब हो रहा वायरल

प्रदीप सहगल, नई दिल्लीः कोरोना वायरस की वजह से क्रिकेट के नियमों में काफी बदलाव किए गए हैं। इस वायरस की वजह से खिलाड़ियों...

MPBSE MP Board 10th result 2020: कल इस समय जारी होगा कक्षा 10वीं का रिजल्ट, mpbse.nic.in पर ऐसे करें चेक

MPBSE MP Board 10th result 2020: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) यानि एमपी बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों...

Trailer: वर्जिन भानुप्रिया का ट्रेलर आउट, अजीब बीमारी से जुझती दिखीं उर्वशी

मुंबई। लॉकडाउन में ज़िंदगी जैसे रुक सी गई थी, लेकिन अनलॉक 1 के लागू होने के बाद से ही हर किसी ने राहत की...

10वीं-12वीं पास के लिए निकलीं होमगार्ड में सिपाही की बंपर भर्ती, इस तारीक तक करें आवेदन

नई दिल्लीः कोरोना वायरस का कहर को देखते हुए सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन लागू कर रखा है, जिसके बाद अब थोड़ी-थोड़ी गतिविधियों को चलाने...