Saturday, July 4, 2020

चीन को भारी पड़ेगी भारत के खिलाफ साजिश, हो जाएगा का बर्बाद

बॉर्डर पर तनाव बढ़ने के साथ ही देश के भीतर चीन के खिलाफ विरोध की आवाज़ काफी तेज हो गई है। देखते ही देखते लोग चीनी सामान और चीनी मोबाइल एप के खिलाफ उतर आए हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि चीन के खिलाफ आवाज़ उठाने वालों में इस बार बॉलीवुड अभिनेता भी हैं।

नई दिल्‍ली: बॉर्डर पर तनाव बढ़ने के साथ ही देश के भीतर चीन के खिलाफ विरोध की आवाज़ काफी तेज हो गई है। देखते ही देखते लोग चीनी सामान और चीनी मोबाइल एप के खिलाफ उतर आए हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि चीन के खिलाफ आवाज़ उठाने वालों में इस बार बॉलीवुड अभिनेता भी हैं।

चीन को सबक सिखाने और उसकी आर्थिक स्थिति को कमजोर करने के लिए एक मुहिम सोशल मीडिया पर काफी तेजी से बढ़ती जा रही है। चीन के खिलाफ ये अभियान तब शुरू हुआ है, जब पूर्वी लद्दाख में चीन से टकराव की स्थिति बन रही है। सीमा पर दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ रहा है। पिछले कई दिनों से भारत-चीन बॉर्डर पर तनाव की स्थिति बनी हुई है। वहीं चीनी सेना और भारतीय सेना ने काफी संख्या में सुरक्षा बल को वहां पर तैनात किया है।

अब खबर ये भी है कि चीन के साथ भारतीय वायु सेना भी तैनात की गई है, जिसके बाद शिक्षा और पर्यावरण को लेकर काम करने वाले सोनम वांगचुक ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें भारत चीन की इस लड़ाई में भारतीय आम नागरिकों को आर्थिक रूप से शामिल होने को कहा गया है। वांगचुक ने अपने वीडियो में चीन को लेकर जो खुलासा किया है, उसमें कई बातें हैं। उन्होंने बताया है कि आज चीन को सबसे बड़ा डर उसे अपने लोगों से है, क्योंकि वहां बेरोजगारी काफी तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में चीन बॉर्डर पर हमारे खिलाफ जिस तरह से खड़ा होता है, उसके बदले अपने देश में हम बॉयकॉट मेड इन चाइना मूवमेंट को तेज कर दें तो इसका असर चीन पर पड़ेगा।

सोनम वांगचुक की इस अपील के बाद से बॉलीवुड के भी कई चेहरे चीन के खिलाफ खड़े हो गए हैं। मिलिंद सोमन से लेकर अरशद वारसी तक ने इस अभियान को तेजी देने की कोशिश की है और लोगों से आग्रह किया है कि चीनी सामान और एप का विरोध करें। चीन के खिलाफ चल रहे इस अभियान को लेकर अरशद वारसी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘जो भी चीज चाइनीज है, मैं धीरे-धीरे उसका इस्तेमाल बंद करने जा रहा हूं। चूंकि हमारी जिंदगी में कई ऐसे प्रोडक्ट्स हैं जो चाइनीज हैं, तो इसमें थोड़ा वक्त लगेगा। पर मैं जानता हूं कि एक दिन मैं चाइनीज फ्री होउंगा. आपको भी ये ट्राई करना चाहिए।’

इसी तरह से एक्टर मिलिंद सोमन ने भी इस अभियान को तेजी दी है और सोशल मीडिया पर ऐलान किया है कि वो अब टिक-टॉक का इस्तेमाल नहीं करेंगे। इसी के बाद से कई तरह की संस्थाएं भी लगातार सामने आ रही है और लोगों से अपील कर रही है कि चीनी सामान का विरोध तेजी से हो, जिससे चीन को सबक मिले। सोनम वांगचुक ने अपने वीडियो में कुछ आंकड़े भी बताए, जिसमें जानकारी दी गई है कि चीन से हम मूर्ति से लेकर कपड़े तक मंगाते हैं।

ये सच है कि अभी हम मैन्युफैक्चरिंग, हार्डवेयर, दवाओं के कच्चे माल, मेडिकल इंस्ट्रूमेंट के साथ चप्पल-जूते जैसी कई चीजों के लिए चीन पर ज्यादा निर्भर हैं, क्योंकि इनमें से ज्यादातर सामानों का उत्पादन हमारे देश में कम होता है।

चीन से आयात होने वाले सामान

  • मोबाइल फोन
  • लैपटॉप, डेस्कटॉप
  • स्टेशनरी का सामान
  • बैटरी
  • बच्चों के खिलौने
  • चिप्स का पैकेट बनाने वाली मशीन
  • छाता
  • रेन कोट
  • प्लास्टिक से बने सामान
  • कार में प्रयोग होने वाले कल-पुर्जे
  • बिजली का सामान

वांगचुक ने अपने वीडियो में बताया है कि भारतीय युवाओं को एक हफ्ते में चीन के कई एप को अपने मोबाइल से अनइंस्टाल कर देना चाहिए।

भारत में लोकप्रिय चीनी एप

  • टिक टॉक
  • हेलो
  • शेयर इट
  • यूसी ब्राउजर

इनमें से सबसे ज्यादा टिक टॉक का इस्तेमाल हिन्दुस्तान में ही होता है। चीन में बने इस एप को पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा हिन्दुस्तान और फिर उसके बाद चीन और फिर यूएसए में लोग पसंद करते हैं।

कहां टिक-टॉक के कितने यूजर ?

  • भारत – 467 मिलियन
  • चीन- 173 मिलियन
  • यूएसए- 124 मिलियन

वांगचुक ने लोगों से अपील की है कि ऐसे जितने भी सॉफ्टवेयर हैं, उसे एक हफ्ते में और चीनी हार्डवेयर को एक साल में अपने इस्तेमाल से हटा दें और इसकी शुरूआत आज से ही करें। अब वांगचुक के समर्थन में कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्ज़ ने भी समर्थन दे दिया है और इस अभियान को राष्ट्रीय स्तर पर चलाने की तैयारी भी शुरू कर दी गई है।

सोशल मीडिया के कई प्लेटफॉर्म पर चीन का विरोध अब काफी तेज होता जा रहा है। काफी संख्या में लोग इसे लेकर लगातार लिख रहे हैं। वीडियो बनाकर संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं। ये पहली बार नहीं है, जब चीन के खिलाफ ऐसी बातें की जा रही है। बावजूद इसके चीन है कि मानने को तैयार नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पाकिस्तान में भीषण बस-ट्रेन हादसा, 19 सिख तीर्थयात्रियों की मौत

लाहौर। पाकिस्तान में लाहौर के पास शेखपुरा जिले में एक यात्री बस और ट्रेन के बीच शुक्रवार को हुई टक्कर में कम से कम...

MP Board 10th Result 2020: सबसे पहले एक क्लिक पर यहां देखें अपना स्कोर, रिजल्ट देखने का सबसे आसान तरीका

MPBSE MP Board 10th result 2020: मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) यानि एमपी बोर्ड द्वारा आयोजित 10वीं की बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्रों...

NEET 2020 and JEE Mains 2020: नीट और जेईई परीक्षा एक बार फिर हुई स्थगित, अब इस नई तारीख को होगी आयोजित

NEET 2020 and JEE Mains 2020:  देश  भर में फैले कोरोनावायरस के कारण कई बड़ी परीक्षाएं या तो स्थगित कर दी गई है या...

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के तेज झटके, देखें 2 महीने में कितने बार कांपी धरती

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में शाम 7 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। पिछले दो महीने में यह 14वां झटका है। भूकंप का...