Thursday, July 2, 2020

चीन ने पाकिस्‍तान की पीठ में घोंपा खंजर, दिया इतना बड़ा धोखा

कोरोना की वजह से पाकिस्‍तान की हालत पहले ही सख्‍ता है और ऐसे में चीन सीपीईसी के जरिए पाकिस्तानियों को जमकर चूना लगा रहा है। इस बात की जानकारी सामने आने के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा गठिए एक कमेटी की रिपोर्ट में चीनी बिजली कंपनियों के लूट का खुलासा हुआ है।

नई दिल्‍ली: चीन की फिरतरत ही दूसरों को धोखा देने की है। वह भले ही किसी से दोस्‍ती निभाने की बात करता हो, लेकिन मौका पाते ही उसकी पीठ में खंजर घोंपा उसकी पुरानी आदत है। ऐसा ही कुछ उसने किया है अपनी करीबी दोस्‍त पाकिस्‍तान के साथ। हालांकि पाकिस्‍तान को इस बारे में जब भनग लगी, तब उसने इसकी जांच कराई, लेकिन तब तक चीन उसको करोड़ों रुपयों का चूना लगा चुका था।

कोरोना की वजह से पाकिस्‍तान की हालत पहले ही सख्‍ता है और ऐसे में चीन सीपीईसी के जरिए पाकिस्तानियों को जमकर चूना लगा रहा है। इस बात की जानकारी सामने आने के बाद प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा गठिए एक कमेटी की रिपोर्ट में चीनी बिजली कंपनियों के लूट का खुलासा हुआ है। चीनी कंपनियों ने चुपके से बिजली के दाम बढ़ाकर पाकिस्तानी नागरिकों के जेब पर डाका डाला है।

उड़े इमरान के होश

चीन ने बड़ी ही चालाकी से पाकिस्‍तान में निवेश किया, जिसमें बिजली कंपनियां भी शामिल हैं। पाकिस्‍तान की इतनी औकात नहीं कि वह खुद बिजली बना पाए, इसी बात का फायदा उठाकर चीन ने अपनी कुछ कंपनियों को यहां पर बिजली सप्‍लाई का काम दिया। पहले तो यह बिजली कंपनी कम दर पर सप्‍लाई करती रहीं, लेकिन अचानक लोगों के बिल बढ़कर आने लगे। लोगों ने इस बात का विरोध जताना शुरू किया तो बात प्रधानमंत्री इमरान खान के दरबार में पहुंची। प्रधानमंत्री ने भी चीन पर भरोसा करते हुए मामले ही जांच के आदेश दे दिए, लेकिन जैसे ही जांच कमेंटी की रिपोर्ट सामने आए इमरान खान के होश फाख्‍ता हो गए।

कमेटी ने जांच रिपेार्ट में खुलासा किया कि पाकिस्तान में चीन के प्राइवेट बिजली कंपनियों ने जमकर लूट मचा रखी है। सीपीईसी के तहत स्थापित Huaneng Shandong Ruyi (Pak) Energy  या साहीवाल और पोर्ट कासिम इलेक्ट्रिक पावर कंपनी लिमिटेड ने चुपचाप अपनी लागत को बढ़ा दिया था, जिससे लोगों पर इसका भार पड़ने लगा और उपभोक्ताओं को ज्यादा बिजली का बिल देना पड़ रहा था।

जांच कमेटी ने अपनी 278 पन्नों की रिपोर्ट में इस घोटाले को उजागर किया है। रिपोर्ट आने के बाद इमरान खान अब यह सोचने में लगे हुए हैं कि आखिर वह करें तो क्‍या करें। क्‍योंकि कोरोना काल में वैसे ही पाकिस्‍तान की हालत खराब है और ऐसे में अगर चीन को नाराज कर दिया तो भूखे मरने की नौबत आ जाएगी। ऐसे में पाकिस्तानी सेनाप्रमुख जनरल बाजवा ने एक उपाय निकाला और इसके लिए चीन को सीधे दोष न देते हुए बड़ी नरमी से रिपोर्ट में चीनी कंपनियों के बारे में बताया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

चीन का तियां-पांचा तय, गलवान निपटा नहीं, रूस के इस शहर पर ठोंका दावा, देखें क्या बोले पुतिन!

नई दिल्ली। दुनिया की तमाम बड़ी तकतों के साथ ही जब रूस ने भी चीन से गलवान पर गंदी नजर न डालने को कहा...

Recipe: गर्मी और कोरोना दोनों से बचाएगी ये स्पेशल ड्रींक, जानिए इसकी क्विक रेसिपी

नई दिल्ली। इस समय न सिर्फ गर्मी बल्कि कोरोना वायरस से सुरक्षित रहने के लिए ऐसी चीजों का इस्तेमाल या सेवन करना बेहद जरूरी...

नेपाल में सियासी हलचल तेजः राष्ट्रपति मिले प्रचण्ड और ओली, देश के नाम संबोधन में पीएम के इस्तीफे की अटकलें!

नई दिल्ली। नेपाल की राजधानी काठमाण्डु में सियासी गतिविधियां बहुत तेजी से बदल रही हैं। गुरुवार की सुबह से बैठकों का दौर-दौरा जारी रहा।...

आपके मोबाइल फोन तक कैसे पहुंचता है? इंटरनेट क्या आपने कभी सोचा है?

नई दिल्ली। इंटरनेट का हमारे मोबाइल तक पहुंचने में काफी लम्बा प्रोसेस है लेकिन फिर भी हमारी जानकारी नैनो सेकेंड्स में एक जगह से...