Trendingup board resultlok sabha election 2024IPL 2024UP Lok Sabha ElectionNews24PrimeBihar Lok Sabha Election

---विज्ञापन---

अमेरिका: 22 साल के एयरमैन ने लीक किए थे खुफिया दस्तावेज, हो सकती है 16 साल की जेल

US Airman Pleads Guilty In Pentagon Documents Leak: अमेरिका में एयर नेशनल गार्ड के एक 22 साल के एयरमैन ने खुफिया दस्तावेजों को ऑनलाइन शेयर करने के मामले में अपना अपराध स्वीकार कर लिया है। यह पिछले कुछ सालों के दौरान सबसे हाई प्रोफाइल डॉक्यूमेंट्स लीक के मामलों में से एक है। उसे 27 सितंबर को सजा सुनाई जाएगी।

Edited By : Gaurav Pandey | Updated: Mar 5, 2024 08:36
Share :
Jack Teixeira

US Airman Pleads Guilty In Pentagon Documents Leak: अमेरिकी सैन्य रिजर्व एयर नेशनल गार्ड के एक एयरमैन ने इस देश के सबसे हाई प्रोफाइल इंटेलिजेंस लीक्स के मामलों में से एक में अपना अपराध स्वीकार किया है। 22 साल के एयरमैन जैक टेक्सेरा ने दर्जनों क्लासिफाइड दस्तावेज ऑनलाइन पोस्ट किए थे। प्रॉसिक्यूटर्स ने उसे 16 साल और 8 महीने के लिए जेल की सजा सुनाए जाने की सिफारिश की है।

रिपोर्ट्स के अनुसार जैक ने एयर नेशनल गार्ड बेस पर काम करते हुए डिस्कॉर्ड नामक ऐप पर ये दस्तावेज पोस्ट किए थे। इन दस्तावेजों में नक्शे, सैटेलाइट तस्वीरें और अमेरिका के सहयोगियों को लेकर जानकारियां थीं। जैक ने सोमवार को बॉस्टन की एक अदालत में देश की डिफेंस से जुड़ी जानकारी को जानबूझ कर फैलाने समेत छह मामलों में अपनी गलती स्वीकार की थी।

सरकार देना चाहती है सख्त संदेश

जैक पर लगे हर आरोप में अधिकतम 10 साल की सजा हो सकती है। लेकिन, अभियोजकों का कहना है कि वह 200 महीने की सजा देने की अपील करेंगे। बताया जा रहा है कि जैक ने इसे चुनौती नहीं देने पर सहमति जताई है। जैक को कम से कम 11 साल जेल की सजा काटनी पड़ेगी और 50 हजार डॉलर का जुर्माना देना होगा। प्रॉसिक्यूटर जोशुआ लेवी के अनुसार सरकार चाहती है कि सख्त संदेश देने के लिए गंभीर सजा दी जाए।

जोशुआ ने कहा कि यह मामला इसलिए बेहद गंभीर है क्योंकि एक बार इंटरनेट पर कुछ पोस्ट करने के बाद यह पता लगाना लगभग नामुमकिन हो जाता है कि वह किस-किस तक पहुंचा और उसके साथ क्या-क्या किया गया। वहीं, जैक के वकील माइकल बाखराख ने अपने क्लाइंट को बच्चे जैसा बताया है और कहा है कि नादानी में उसने ऐसा काम किया था। इस मामले में जैक को सजा सुनाने के लिए 27 सितंबर को सुनवाई होगी।

कब और कैसे लीक की जानकारी?

जानकारी के अनुसार जैक ने 2022 के अंत में इन जानकारियों को शेयर करने की शुरुआत की थी। उसने डिस्कॉर्ड के एक सर्वर या चैटरूम में बंदूकों और सेना में रुचि रखने वाले लोगों के एक ग्रुप के साथ ये डॉक्यूमेंट्स साझा किए थे। यहां से ये दस्तावेज बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी पहुंच गए। मामला तब बढ़ा जब क्रेमलिन का समर्थन करने वाले एक टेलीग्राम चैनल और मिलिट्री ब्लॉगर्स के पास यह जानकारियां पहुंच गईं।

जैक की तैनाती ओटिस एयर नेशनल गार्ड बेस पर थी। वह यहां साइबर-डिफेंस ऑपरेशंस जर्नीमैन के तौर पर काम कर रहा था। उसकी जिम्मेदारी एयर फोर्स का कम्युनिकेशन नेटवर्क बनाए रखने की थी। उसकी रैंक एयरमैन फर्स्ट क्लास थी। जूनियर रोल में रहने के बाद भी उसके पास टॉप-सीक्रेट सिक्योरिटी क्लीयरेंस था। बताया जा रहा है कि जैक को सुपरवाइजर्स को उसकी ऑनलाइन एक्टिविटीज के बारे में पूरी जानकारी नहीं थी।

घर की तलाशी में मिले थे हथियार

उसके घर की तलाशी में कई बंदूकें भी मिली थीं। बता दें कि जैक टेक्सेरा से पहले उसके परिवार के अन्य सदस्य भी अमेरिकी सेना में सेवाएं दे चुके थे। उसके सौतेले पिता ने एयर फोर्स में 34 साल काम किया था। उसकी मां पूर्व सैनिकों के लिए काम करने वाले एक संगठन के साथ जुड़ी हुई थी। दोनों सोमवार को हुई सुनवाई में पहुंचे थे। उसके परिवार ने एक बयान में जैक को अच्छा आदमी बताया है जिसने अपनी गलती स्वीकार की है।

First published on: Mar 05, 2024 08:36 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version