International Coffee Day 2021: किसने की कॉफी की खोज?

lifestyle

‘अंतरराष्ट्रीय कॉफी संगठन’ (International Coffee Organisation) ने साल 2015 में इटली के मिलान (Milan) में पहला ‘विश्व कॉफी दिवस’ आयोजित किया था। इस दिन को दुनिया भर में कॉफी किसानों के मुद्दों के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए मनाया जाता है।

Image Credit : Instagram

एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कॉफी का सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। उचित मात्रा में कॉफी का सेवन करने से कई तरह की बीमारियों से बचा जा सकता है।

Image Credit : Instagram

वर्तमान समय में तनाव होना आम बात है। ऐसे में तनाव को कम करने के लिए कॉफी का सेवन एक अच्छा ऑप्शन है, मगर लिमिटेड मात्रा में।

Image Credit : Instagram

एक रिसर्च के मुताबिक, रोजाना तीन कप कॉफी का सेवन करने से स्किन कैंसर का खतरा कम होता है।

Image Credit : Instagram

‘अमेरिकन केमिकल सोसाइटी’ के एक शोध के अनुसार, रोजाना तीन से चार कप कॉफी का सेवन करने से ‘टाइप-2 डायबिटीज’ का खतरा 50% तक कम हो सकता है।

Image Credit : Instagram

भारत में कॉफी के सबसे बड़े उत्पादक राज्य कर्नाटक (71%), केरल (21%) तथा तमिलनाडु (5%) है।

Image Credit : Instagram

भारत विश्व का 6वां सबसे बड़ा कॉफी उत्पादक देश है। भारत विश्व की कुल 4 प्रतिशत कॉफी का उत्पादन करता है।

Image Credit : Instagram

इथियोपिया के एक बकरी चरवाहे काल्दी ने विश्व में सबसे पहले कॉफी बीन्स की खोज की।

Image Credit : Instagram

विश्व में कॉफी का सबसे ज्यादा उत्पादन ब्राज़ील, वियतनाम, कोलंबिया, इंडोनेशिया तथा इथियोपिया द्वारा किया जाता है।

Image Credit : Instagram

भारतीय कॉफी विश्वभर की सबसे अच्छी गुणवत्ता की कॉफी मानी जाती है, क्योंकि इसे भारत में छांव में उगाया जाता है।

Image Credit : Instagram

इसके अलावा, विश्वभर के अन्य जगहों पर कॉफी सीधे सूर्य के प्रकाश में (sunlight) उगाया जाता है।

Image Credit : Instagram