Thursday, July 9, 2020

Coronavirus: 103 साल की दादी ने ऐसे दी कोरोना को मात

Coronavirus: चीन के वुहान से फैले कोरोना वायरस ने दुनियाभर में 2.5 लाख से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है। अबतक 10,000 से ज्यादा लोगों की अबतक जानें जा चुकी है। लेकिन दुनियाभर के तमाम देश कोविड 19 (Covid19) नाम के इस दुश्मन को हराने के लिए प्रतिबद्ध है।

नई दिल्ली: इन दिनों पूरी दुनिया कोरोना वायरस (Coronavirus) से परेशान हैं और उसे हराने की जंग लड़ रहा है। ये जंग पहले और दूसरे विश्व युद्ध से भी ज्यादा बड़ा है। इस जंग में दुनिया भर के 160 से ज्यादा देश शामिल हैं, लेकिन ये वायरस तेजी से फैल रहा है। इस वायरस ने 2.50 लाख से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है।

कोराना वायरस के संक्रमण की वजह से दुनियाभर में अबतक 10,000 से ज्यादा लोगों की अबतक जानें जा चुकी है। लेकिन दुनियाभर के तमाम देश कोरोना (Coronavirus) यानी कोविड 19 (Covid19) नाम के इस दुश्मन को हराने के लिए प्रतिबद्ध है। चीन ने तो कई काफी हद तक इसपर काबू भी पा लिया है। लेकिन अमेरिका, इटली, ईरान समेत अन्य देश इसे हराने की कवायद में जुटे हैं।

इसी कड़ी में ईरान से अच्छी खबर आई है। बुजुर्गों के लिए खतरनाक माने जा रहे इस वायरस को ईरान की 103 साल की एक महिला ने पछाड़ दिया दिया है। यहां 103 साल की कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित एक महिला बिल्कुल ठीक होकर अपने घर लौट गई। पूरा मामला ईरान की राजधानी तेहरान से तकरीबन 180 किलोमीटर दूर सेमनान अस्पताल का है।

बुजुर्ग महिला इसी अस्पताल में भर्ती थी और वो अब पूरी तरह से स्वस्थ्य है। अब इस महिला की हर तरफ चर्चा हो रही है। इतना ही नहीं दक्षिण-पूर्वी ईरान के एक अस्पताल से 91 साल की कोरोना संक्रमित एक महिला के भी ठीक होने की खबर है। उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है।

गौरतलब है कि बुजुर्गों में कोरोना संक्रमित होने का ज्यादा खतरे की बातें सामने आ रही है। लिहाजा बुजुर्गो व प्रौढ़ लोगों को जरूर सतर्क रहने की जरूरत है, क्योंकि इस उम्र के लोगों में कोरोना वायरस का संक्रमण अधिक देखा गया है। खतरा तब ज्यादा बढ़ जाता है जब संक्रमित व्यक्ति हृदय की बीमारी, रक्तचाप, मधुमेह व सांस की किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हो।

जानकारों के मुताबिक बुजुर्गों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है। इसके अलावा बुढ़ापे में कई बीमारियां भी पहले से होती हैं। इस वजह से संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है। लिहाजा बुजुर्ग अपने सेहत का खास ख्याल रखें। भीड़ में बाहर निकलने से परहेज करें और अपनी दवाएं नियमित रूप से लेते रहे हैं। यदि मधुमेह व ब्लड प्रेशर नियंत्रित न हो तो डॉक्टर को दिखाएं और शुगर व ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखें।

आपको बता दें कि कोरोना पीड़ितों की संख्या में चीन और इटली के बाद ईरान तीसरा सबसे पीड़ित देश है। यहां कुल 16169 लोग कोरोना वायरस से प्रभावित हुए थे जिनमें से 5389 लोग उपचार के बाद अस्पताल से वापस चले गए हैं। जबकि 1100 लोगों की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Good News: मिल गया Corona का Killer, अब हवा में ही हो जाएगा कोरोना वायरस का खात्मा

नई दिल्ली। जैसे ही डब्लूएचओ ने इस बात को माना कि कुछ खास परिस्थितियों में कोरोना वायरस हवा के माध्यम से भी फैल सकता...

देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 7 लाख 67 हजार के पार, अबतक 21000 से ज्यादा लोगों की जा चुकी है जान

नई दिल्ली: चीनी वायरस कोरोना (Coronavirus) यानी कोविड 19 (Covid 19) के संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए देश में 24 मार्च से...

BIG BREAKING: विकास दुबे उज्‍जैन में गिरफ्तार

नई दिल्‍ली: कानुपर के बिकरू गांव से 8 पुलिसकर्मियों की हत्‍या के बार फरार विकास दुबे को उज्‍जैन में गिरफ्तार कर लिया गया है।...

रेलवे में निजीकरण के आरोप पर बचाव में आये रेल मंत्री, कहा- इससे रोजगार के मौके और यात्री सुविधा बढ़ेगी

कुन्दन सिंह, नई दिल्ली: रेल मंत्रालय के द्वारा 109 रूट्स पर 151 प्राइवेट ट्रेन चलाए के निर्णय से उठे निजीकरण के सवाल के जवाब...