Trendinglok sabha election 2024International Women DayIPL 2024News24PrimeMahashivratri 2024WPL 2024

---विज्ञापन---

जल्लादगीरी! एक शख्स, जिसने मोर्चरी में 100 से ज्यादा औरतों की लाशों के साथ किया सेक्स

Physical Relation With Dead Bodies : हाल ही में सोशल मीडिया पर एक आदमी का नाम खासा सुर्खियों में है, जिसने मोर्चरी में 100 से ज्यादा औरतों की लाशों के साथ सेक्स किया है। जानें क्यों किया उसने ऐसा...

Edited By : Balraj Singh | Nov 30, 2023 09:00
Share :

यह दिल दहला देने वाली कहानी है डेविड फुलर की, जिसने 100 से ज्यादा महिलाओं और लड़कियों की लाशों के साथ सेक्स किया था। दरअसल, यह एक ऐसी बीमारी है जिसमें पीड़ित व्यक्ति मृत शरीर के साथ सेक्स करने का आनंद लेता है। इस बीमारी को ‘नेक्रोफीलिया’ कहा जाता है। फुलर के ‘नेक्रोफिलिया’ से पीड़ित होने का खुलासा 2020 में हुआ, जब पुलिस एक अन्य मामले की जांच कर रही थी।

1987 में दो महिलाओं की हत्या से जड़ा है मामला

मामला 1987 में दो महिलाओं की हत्या से जुड़ा था। जब डेविड की भूमिका की जांच शुरू हुई तो उसका डीएनए सैंपल लिया गया. इसी बीच पता चला कि वह ‘नेक्रोफिलिया’ नामक बीमारी से पीड़ित है। तब जांच अधिकारियों को डेविड के घर से लाखों ऐसी तस्वीरें मिली, जिनमें वह महिलाओं का यौन शोषण करता नजर आ रहा था। इसमें एक वीडियो भी शामिल था जिसमें वह मुर्दाघर में महिलाओं और लड़कियों के साथ सेक्स करते नजर आ रहा था। ये तस्वीरें दक्षिण पूर्व इंग्लैंड के अस्पताल के मुर्दाघरों की थीं। डेविड यहीं काम करता था।

अब आजीवन कारावास की सजा काट रहा हूं

69 वर्षीय फुलर को हत्या के दो मामलों में दोषी ठहराए जाने के बाद पैरोल की कोई संभावना नहीं है। वह आजीवन कारावास की सजा काट रहा है। ब्रिटिश सरकार की 308 पन्नों की जांच का मकसद ये पता लगाना है कि डेविड ये सब कैसे कर पाया। साथ ही वह कभी किसी के ध्यान में क्यों नहीं आया? रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि भविष्य में ऐसी घटनाओं को होने से कैसे रोका जा सकता है।

जानें कौन है अंजू, जो बेटे-बेटी और पति को छोड़ भाग गई थी पाकिस्तान, चार महीने में प्रेमी संग क्या-क्या गुल खिलाए?

फुलर के काले कारनामों का इतिहास

फुलर शुरू से ही एक कुख्यात चोर था लेकिन वह जहां भी काम करने जाता था अपना आपराधिक रिकॉर्ड छिपा देता था। उनकी इस चालाकी पर अस्पताल प्रशासन का ध्यान नहीं गया और उन्हें काम पर रख लिया गया। ससेक्स अस्पताल, जो अब बंद हो चुका है, वह स्थान है जहाँ उसने 1987 में दो महिलाओं की हत्या कर दी थी। वह दोहरा हत्याकांड 33 वर्षों तक अनसुलझा रहा क्योंकि फुलर ने हत्याओं के तुरंत बाद अस्पताल बदल लिया।

ब्रिटिश सरकार की जांच में क्या हुआ?

ब्रिटिश सरकार ने अपनी जांच में पाया है कि फुलर ने 2005 से 2020 के बीच यानी करीब 15 साल तक कम से कम 101 लड़कियों और महिलाओं के शवों के साथ इस खौफनाक कृत्य को अंजाम दिया। ब्रिटिश जांच एजेंसी ने सबूत के तौर पर सभी अपराधों की तस्वीरें और वीडियो भी सौंपे हैं। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि फुलर ने अपने अपराध काम के घंटों के दौरान किए, जब कई कर्मचारी शवगृह में थे। हालांकि जांच में यह पता नहीं चल सका कि आखिरकार उसे पकड़ा क्यों नहीं जा सका।

मिलिए एक ऐसी महिला से, जाे फोटो देखकर Online दूर कर देगी आपके Pet की मानसिक परेशानी; पैशन के लिए छोड़ी 62 लाख की नौकरी

डेविड फुलर बहुत चतुर थे

डेविड फुलर इतना होशियार था कि उसने सबसे पहले लॉग बुक चेक कर पता लगाया कि कौन सी महिला या लड़की किस कारण से गई थी. दिलचस्प बात यह है कि वह उन लोगों के साथ शारीरिक संबंध बनाने से बचते थे, जिनके बारे में उन्हें पता था कि उनकी मौत किसी संक्रमण से हुई है, किसी अनजान महिला या लड़की के साथ।

First published on: Nov 30, 2023 09:00 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version