UP पुलिस के हेड कांस्टेबल का बेटा बना गाजियाबाद का पहला पुलिस कमिश्नर, यहां हुई इनकी स्कूलिंग

UP News: 48 वर्षीय के अजय कुमार मिश्र केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस आने के बाद लखनऊ में प्रतिक्षारत (पोस्टिंग के इंतजार में) थे।

UP News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) जिले के पहले पुलिस कमिश्नर (Ghaziabad Police Commissioner) अजय कुमार मिश्र के बचपन और उसने पिता के बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। बता दें कि हाल ही में योगी सरकार ने गाजियाबाद समेत राज्य के तीन जिलों में पुलिस कमिश्नरेट व्यवस्था लागू की है। इसी के तहत 2003 बैच के आईपीएस अजय को तैनात किया गया है।

वाराणसी में हेड कांस्टेबल के पद पर थे पिता

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मूलरूप से यूपी के बलिया जिले के रहने वाले कुबेर नाथ मिश्र उत्तर प्रदेश पुलिस में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात थे। वर्ष 2003 में कुबेर नाथ पुलिस विभाग से रिटायर ही हुए थे कि उनके बेटे अजय कुमार मिश्र का भारतीय पुलिस सेवा (IPS) में चयन हो गया। जानकारी के अनुसार पिता कुबेर नाथ मिश्र की ज्यादातर तैनाती वाराणसी जिले में ही रही। पुलिस लाइन में रहने के कारण अजय कुमार मिश्र को बचपन से ही खाकी अपने आसपास दिखती थी।

- विज्ञापन -

वाराणसी में प्राइमरी-हायर स्कूलिंग हुई

अजय कुमार मिश्र ने एक मीडिया रिपोर्ट में कहा कि उनकी प्रारंभिक और हायर एजुकेशन वाराणसी में ही हुई। इसके बाद यूपीएससी में उनका चयन हो गया। भारतीय पुलिस सेवा के तहत उन्हें यूपी कैडर मिला। मैनपुरी, कानपुर, सुल्तानपुर और वाराणसी जैसे जिलों की कमान संभालने के बाद वह केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर रहे। इस दौरान उन्होंने दिल्ली और श्रीनगर में भी अपनी सेवाएं दीं।

लखनऊ में प्रतिक्षारत थे, अब मिली तैनाती

48 वर्षीय के अजय कुमार मिश्र केंद्रीय प्रतिनियुक्ति से वापस आने के बाद लखनऊ में प्रतिक्षारत (पोस्टिंग के इंतजार में) थे। उन्होंने आईबी समेत पुलिस के अन्य विभागों में भी सफलतापूर्वक कार्य किया है। राज्य सरकार की ओर से प्रदेश में तीन नए कमिश्नर बनाए जाने के तहत अजय कुमार मिश्रा को गाजियाबाद पुलिस कमिश्नर के पद पर तैनात किया गया है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version