PM आवास योजना का पैसा लेकर प्रेमियों के साथ फरार हुई पत्नियां, अब बाराबंकी के 4 पतियों ने लगाई ये गुहार

Barabanki: पीओ डूडा सौरभ त्रिपाठी ने यह नोटिस भेजे थे। इसके बाद पीड़ितों की शिकायत पर मामले की जांच कराई गई।

Barabanki: शादी के बाद अवैध संबंध सभी को परेशानियों में डालते हैं, चाहे वह पति हो या फिर पत्नी। अब उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बाराबंकी (Barabanki) जिले से एक नहीं बल्कि चार ऐसे मामले सामने आए हैं, जिसमें पति-पत्नी के अलावा शासन-प्रशासन के अधिकारियों तक को परेशानी में डाल दिया है। आरोप है कि यहां से चार महिलाएं प्रधानमंत्री आवास योजना की पहली किश्त खाते में आते ही अपने-अपने प्रेमियों के साथ फरार हो गई हैं।

लगातार नोटिस भेजे तो हुआ मामले का खुलासा

जानकारी के मुताबिक मामला यूपी के बाराबंकी जिले का है। यहां बेघर लोगों ने प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन किया था। आवेदन स्वीकृत होने के बाद विभाग की ओर से महिला लाभार्थियों के खाते में पहली किश्त भेजी गई। एक माह होने के बाद जब चार आवेदकों ने कोई निर्माण कार्य नहीं किया तो विभाग की ओर से नोटिस भेजा गया। इसके बाद भी जब कोई प्रगति नहीं हुई तो डूडा की ओर से रिकवरी नोटिस भेजा गया।

और पढ़िए –Swami Chinmayanand: Rape Case में पूर्व गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद को मिली अग्रिम जमानत, योगी ने उठाया था ये कदम

पीड़ित बोले- अब खाते में मत भेजना किश्त

स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ये चारों मामले जिले के नगर पंचायत बेलहरा, बंकी, जैदपुर और सिद्धौर क्षेत्र के हैं। बताया गया है कि जब विभाग की ओर से रिकवरी नोटिस गया तो चार पीड़ित विभाग में पहुंचे और अपनी पीड़ा सुनाई। पीड़ितों के मुताबिक डूडा की पहली किश्त खाते में आने के बाद उनकी पत्नियां अपने-अपने प्रेमियों के साथ फरार हो गई हैं। इतना ही नहीं पीड़ितों ने लिखित में विभाग को कहा है कि अब किश्त न भेजी जाए।

और पढ़िए –Lucknow: बीजेपी सांसद ने की लखनऊ का नाम बदलने की मांग, कहा- मुगलकाल के नाम अभी क्यों?

- विज्ञापन -

विभाग ने जांच कराई तो मामला निकला सही

बताया गया है कि पीओ डूडा सौरभ त्रिपाठी ने यह नोटिस भेजे थे। इसके बाद पीड़ितों की शिकायत पर मामले की जांच कराई गई। जांच में चारों मामले सही पाए गए हैं। विभाग की ओर से किश्त रोक दी गई है। अब महिलाओं के पतियों के साथ साथ विभाग के अधिकारी भी पैसों की रिकवरी के लिए परेशान हैं। पीड़ितों की पीड़ा सामने आने के बाद मामले का खुलासा हुआ है।

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version