TrendingNavratri 2024lok sabha election 2024IPL 2024UP Lok Sabha ElectionNews24PrimeBihar Lok Sabha Election

---विज्ञापन---

रात भर अंधेरे में क्यों डूबा रहा बरसाना का विश्व प्रसिद्ध राधा रानी मंदिर? सामने आई बड़ी वजह

Radha Rani Mandir Barsana: मथुरा के बरसाना में स्थित विश्व प्रसिद्ध राधा रानी मंदिर की बिजली बुधवार रात काट दी गई। इससे पूरा मंदिर रात भर अंधेरे में डूबा रहा। बताया जाता है कि मंदिर पर 12 लाख रुपये से अधिक का बिजली बिल बकाया है, जिसका भुगतान पिछले तीन साल से नहीं किया गया।

Edited By : Achyut Kumar | Updated: Feb 29, 2024 11:13
Share :
रात भर अंधेरे में डूबा रहा बरसाना का राधा रानी मंदिर

Radha Rani Mandir Barsana Electricity Supply Cut Off: मथुरा से बड़ी खबर सामने आ रही है। बरसाना के विश्व प्रसिद्ध राधारानी मंदिर की विद्युत सप्लाई काट दी गई। बताया जाता है कि बकाया बिल भुगतान न होने के चलते विद्युत निगम के अधिकारियों ने विद्युत सप्लाई काट दी। इससे पूरी रात मंदिर अंधेरे में डूबा रहा।

12 लाख रुपये से अधिक का बिजली बिल बकाया

मिली जानकारी के मुताबिक, राधारानी मंदिर पर 12.66 लाख रुपये का बिजली बिल बकाया था, जिसे भरने में व्यवस्थापक नाकाम रहे। पिछले तीन साल से मंदिर का बिजली बिल का भुगतान नहीं हुआ था। यही वजह है कि मंदिर की बिजली सप्लाई काट दी गई।

भानुगढ़ पहाड़ी की चोटी पर बना है राधा रानी मंदिर

बता दें कि राधा रानी मंदिर पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। यह उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के बरसाना में स्थित है। यह मंदिर राधा रानी को समर्पित है। यहां एक साथ राधा कृष्ण की पूजा की जाती है। मंदिर भानुगढ़ पहाड़ी की चोटी पर बना है। इसकी ऊंचाई लगभग 250 मीटर है। राधाष्टमी और लठमार होली पर यहां दुनिया भर से लोगों की भीड़ इकट्ठा होती है।

यह भी पढ़ें: यूपी में मंदिर पॉलिटिक्स; राम मंदिर के बाद बनेगा शिव मंदिर, बीजेपी नहीं सपा को होगा फायदा!

राधा रानी मंदिर की कब हुई स्थापना?

राधा रानी मंदिर की स्थापना आज से करीब 5000 साल पहले भगवान श्री कृष्ण के परपोते राजा वज्रनाभ ने किया था। हालांकि, यह मंदिर खंडहर हो चुका है। चैतन्य महाप्रभु के शिष्य नारायण भट्ट ने मंदिर के प्रतीकों को फिर से खोजा, जिसके बाद 1675 में राजा बीर सिंह देव ने एक मंदिर का निर्माण करवाया। जो मंदिर इस समय हम देखते हैं, उसे राजा टोडरमल की मदद से नारायण भट्ट ने करवाया था।

लाल बलुआ पत्थरों से किया गया मंदिर का निर्माण

राधा रानी मंदिर राजपूत वास्तुकला का एक शानदार उदाहरण है। इस मंदिर का निर्माण लाल बलुआ पत्थरों से किया गया है। मंदिर में 200 से अधिक सीढ़ियां हैं। इस मंदिर से पूरे बरसाना को देखा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: निरहुआ का बड़ा ऐलान, अखिलेश यादव के सामने ही लड़ेंगे चुनाव, जानें आजमगढ़ का सियासी समीकरण

First published on: Feb 29, 2024 10:50 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version