Trendinglok sabha election 2024IPL 2024News24Primehardik pandyaWPL 2024

---विज्ञापन---

यूपी की जेल में कैदियों को सुधारेंगे ‘हनुमान’, सुंदर कांड पाठ से होगी पर्सनालिटी डेवलपमेंट

जेल मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने आजमगढ़ जेल में कैदियों से बातचीत करते हुए कहा कि अब प्रदेश की सभी जेलों में हनुमान चालीसा और सुंदर कांड का पाठ होगा।

Edited By : News24 हिंदी | Updated: Nov 29, 2023 13:13
Share :
UP Jail Minister Dharamveer Prajapati

UP Jail : उत्तर प्रदेश की जेल में अब अपराधी भगवान की शरण में रहेंगे। हनुमान जी इन कैदियों को सुधारेंगे और साथ ही सुंदर कांड और हनुमान चालीसा से उनकी पर्सनालिटी भी डेवलप होगी। इसे लेकर यूपी के जेल मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने प्रदेश की सभी जेलों को हरी झंडी दे दी है। अब जेलों में हर धर्म के कैदियों को उनके धर्म की किताबें बांटी जाएंगी।

जेल मंत्री धर्मवीर प्रजापति ने आजमगढ़ जेल में कैदियों से बातचीत करते हुए कहा कि अब प्रदेश की सभी जेलों में हनुमान चालीसा और सुंदर कांड का पाठ होगा। धार्मिक किताबें पढ़कर कैदी खुद में सुधार करेंगे और मानसिक तनाव से भी बाहर आएंगे। जिन जेलों में धार्मिक किताबें बांटी गई हैं, वहां से कैदियों का अच्छा रिस्पॉन्स भी आ रहा है। इसके बाद अब सभी जेलों में धार्मिक किताबें बांटने का फैसला किया गया है।

यह भी पढे़ं : Hanumanji Ke Totke: हनुमानजी के भक्त भूल कर भी न करें 5 पांच काम, माने गए हैं अशुभहज 

News24 अब WhatsApp पर भी, लेटेस्ट खबरों के लिए जुड़िए हमारे साथ

व्यक्तिगत विकास के सबसे बड़े गुरु हैं हनुमान जी

धर्मवीर प्रजापति ने कहा कि हनुमानजी किसी व्यक्ति के व्यक्तिगत विकास के लिए सबसे बड़े गुरु हो सकते हैं। कैदी सुंदर कांड और हनुमान चालीसा से समाज में अच्छे जीवन व्यतीत करने के तरीके सीख सकते हैं। जेलों की लाइब्रेरी में सारी तरह की धार्मिक किताबें उपलब्ध कराई जाएंगी, जहां जाकर कैदी पाठ कर सकते हैं। इसका मकसद यह है कि जब कैदी अपनी सजा काटकर जेल से बाहर जाएं तो वो एक सभ्य नागरिक की तरह जीवन व्यतीत करें।

जेलों में नमाज पढ़ने की भी आजादी

उन्होंने कहा कि जेलों में मुसलमान कैदियों को भी नमाज अदा करने की पूरी स्वतंत्रता है। जेल में इस वक्त कई मुस्लिम कैदी भी हिंदू की धार्मिक पुस्तकें पढ़ रहे हैं। अगर किसी कैदी कोई भी धार्मिक किताबें चाहिए तो वह विभाग की ओर से दी जाएंगी। उन्होंने आगे कहा कि धार्मिक किताबें पढ़ने से अच्छे रिजल्ट सामने आए हैं।

First published on: Nov 29, 2023 01:13 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version