Trendinglok sabha election 2024IPL 2024News24Primehardik pandya

---विज्ञापन---

21 वैदिक ब्राह्मण, सरयू जल के 81 कलश, PM मोदी का खास संदेश…Ram Mandir में रामलला के प्रतिष्ठापन की तैयारियों का अपडेट

Ayodhaya Ram Mandir Ramlala Pran Pratishtha: अयोध्या के राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां शुरू हो गई हैं। 22 जनवरी 2024 को भव्य और शानदार समारोह होगा। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण दिया जा चुका है। राम मंदिर ट्रस्ट की ओर से अब काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास, काशी विद्वत परिषद, […]

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Dec 4, 2023 11:48
Share :
Ramlala Pran Pratishtha

Ayodhaya Ram Mandir Ramlala Pran Pratishtha: अयोध्या के राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां शुरू हो गई हैं। 22 जनवरी 2024 को भव्य और शानदार समारोह होगा। इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निमंत्रण दिया जा चुका है। राम मंदिर ट्रस्ट की ओर से अब काशी विश्वनाथ मंदिर न्यास, काशी विद्वत परिषद, काशी के संतों-महात्माओं को निमंत्रण दिया गया है। काशी से सांसद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मृगशिरा नक्षत्र में मूर्ति स्थापित कराएंगे। वहीं काशी के 21 वैदिक ब्राह्मणों को भी स्पेशल यजमान बनाया जाएगा। 18 जनवरी से प्रतिष्ठान समारोह के अनुष्ठान शुरू हो जाएंगे। गणेश, अंबिका पूजन, वरुण पूजन, मातृका पूजन, ब्राह्मण वरण, वास्तु पूजन होगा। काशी से वैदिक ब्राह्मण 17 जनवरी को अयोध्या के लिए रवाना होंगे। 17 जनवरी को रामलला की प्रतिमा अयोध्या में नगर भ्रमण पर निकलेगी।

 

रामलला के गर्भ गृह की धुलाई और कर्मकांड

प्राण प्रतिष्ठा से पहले राम मंदिर में रामलला के गर्भ गृह की धुलाई के लिए 81 कलशों में सरयू नदी का जल लाया जाएगा। धुलाई के बाद वास्तु शांति और रामलला का अन्नाधिवास, जलाधिवास और घृताधिवास होगा। 21 जनवरी को 125 कलशों के जल से रामलला की मूर्ति का दिव्य स्नान कराया जाएगा, जिसके बाद शय्याधिवास होगा। 22 जनवरी की दोपहर को प्राण प्रतिष्ठा होगी। षोडशोपचार पूजन करने के बाद मूर्तियों पर अक्षत छोड़ेंगे। इसे बाद पहली महाआरती और उसके बाद श्रद्धालु रामलला के दर्शन कर सकेंगे। अनुष्ठान में काशी के चारों वेद के ज्ञानी मौजूद रहेंगे। 22 जनवरी को प्रधानमंत्री मोदी राम मंदिर में दक्षिण दिशा से एंट्री करके उत्तर स्थित राम मंदिर में आएंगे। इस तरह एंट्री का कारण यह है कि जब राम वनवास काटकर अयोध्या आए तो उनका सफर दक्षिण से उत्तर की ओर रहा। वे प्राण प्रतिष्ठा समारोह के जरिये ‘सबमें राम, सबके राम’ का संदेश दुनिया को देंगे।

लेटेस्ट खबरों के लिए फॉलो करें News24 का WhatsApp Channel

नोएडा में बन रही जटायु की 4 फीट ऊंची प्रतिमा

राम मंदिर में कुबेर टीले पर जटायु का मंदिर भी बन रहा है। इस मंदिर में 4 फीट ऊंची जटायु की प्रतिमा लगेगी, जो नोएडा में बन रही है। प्रधानमंत्री मोदी राम मंदिर में एंट्री करते ही सबसे पहले इस मंदिर में जाएंगे। सूत्रों के अनुसार, प्रधानमंत्री 21 जनवरी को ही अयोध्या पहुंच जाएंगे। 22 की सुबह सरयू में स्नान करेंगे और वहां के नाविकों से मिलेंगे। वहीं अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान प्रधानमंत्री कई सौगातें अयोध्या और उत्तर प्रदेश को दे सकते हैं।

First published on: Dec 04, 2023 11:48 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

---विज्ञापन---

संबंधित खबरें
Exit mobile version