Rajasthan Political Crisis: आलाकमान को आंख दिखाने वाले नेताओं ने अभी तक नहीं भेजा जवाब! जानें आगे का स्टेप?

जयपुर: राजस्थान में पिछले दिनों के सियासी घटनाक्रम के बाद कांग्रेस अनुशासन समिति ने 2 मंत्री सहित 3 नेताओं को अनुशासनहीनता के आरोप में नोटिस जारी किया था। यह नोटिस मंत्री शांति धारीवाल- महेश जोशी और कांग्रेस नेता धर्मेंद्र राठौड़ को भेजा गया था। आलाकमान द्वारा भेजे गए नोटिस का जबाव 10 दिन के भीतर देना था। आज वो 10 दिनों की मियाद आज पूरी हो रही है।

अभी पढ़ें Uttarakhand Avalanche: नेहरू पर्वतारोहण संस्थान ने जारी की मरने वालों की सूची, जानें अभी कितने और लोग हैं लापता

बता दें कि, इस नोटिस का जवाब देने के लिए दिए गए 10 दिन की मियाद आज पूरी हो गई है। लेकिन कारण बताओ नोटिस के जवाब को लेकर अभी भी संशय की स्थिति बनी हुई है। ऐसा इसलिए क्योंकि महेश जोशी ने कहा था कि, उन्हें तो अब तक नोटिस ही नहीं मिला है और जब उन्हें नोटिस ही नहीं मिला है तो वह जवाब किसका दें। हालांकि, यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल का कहना है कि नोटिस का जवाब भेज दिया गया है।

- विज्ञापन -

वहीं इस मुद्दे पर अनुशासन समिति के सेक्रेटरी मेंबर तारिक अनवर ने कहा कि अभी तक किसी का भी जवाब नहीं मिला है। आगे उन्होंने कहा कि हो सकता है त्योहारी सीजन में पूजा पाठ होने की वजह से जवाब में देरी हो रही हो। मेरा मानना है कि तीनों के जवाब जल्दी आ जाएगे।

अभी पढ़ें Rajasthan: सीएम गहलोत आज गुलाबी नगरी को देंगे बड़ी सौगात, हवासड़क एलिवेटेड रोड का करेंगे उद्घाटन

गौरतलब है कि, जयपुर में 25 सितंबर को विधायक दल की बैठक बुलाई गई थी। लेकिन इससे पहले मंत्री शांति धारीवाल के निवास पर विधायकों की बैठक हुई थी। जिसके बाद विधायकों ने आलाकमान द्वारा बुलाई गई बैठक का बहिष्कार कर दिया। विधायकों द्वारा उठाए गए इस कदम को आलाकमान अनुशासनहीनता करार दिया और इसके लिए महेश जोशी, शांति धारीवाल और धर्मेंद्र राठौड़ को जिम्मेदार मानते हुए कारण बताओ नोटिस जारी किया।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़े

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version