Punjab: मुख्यमंत्री ने इनोवेशन पंजाब मिशन के समारोह का किया उद्घाटन, युवाओं से किया सुखद माहौल देने का वादा

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य के नौजवानों से उनके नवीन और रास्ते से एकतरफ़ हट के विचारों का प्रयोग करके काम करने की अपील की

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य के नौजवानों को उनके नवीन और रास्ते से एकतरफ़ हट के विचारों का प्रयोग करके राज्य के सामाजिक-आर्थिक विकास को बड़ा प्रोत्साहन देने के लिए सुखद माहौल मुहैया करवाने का प्रण लिया।

यहां कालकट भवन में इनोवेशन मिशन पंजाब ऐसीलेटर के नाम तहत करवाए सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मेरा लक्ष्य यह यकीनी बनाना है कि नौजवानों को ‘ उद्देश्य रहित’ न बनाया जाये बल्कि वे राज्य के लिए अनमोल संसाधन में तबदील हों।“

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के नौजवान नये और अलग विचारों के साथ लबरेज़ हैं जो पंजाब के विकास एवं खुशहाली के लिए बहुत सहायक सिद्ध हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि इन विचारों को रचनात्मक दिशा में ले जाने की ज़रूरत है जिससे पंजाब, देश में एक अग्रणी राज्य के तौर पर उभर सके। भगवंत मान ने कहा कि उनकी सरकार यह यकीनी बनाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ेगी कि राज्य के नौजवानों को पंजाब सरकार की तरफ से उचित मौके और बनता सहयोग मिले।

मुख्यमंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि पंजाबियों को उद्यमी और नेतृत्व करने के गुणों की बख्शीश है। उन्होंने कहा कि इन गुणों के कारण ही पंजाबियों ने विश्व भर में अपना अलग स्थान हासिल कर लिया है। भगवंत मान ने ज़ोर देकर कहा कि पंजाबी उद्यमियों ने विलक्षण विचारों के साथ बड़े कारोबार पैदा किये हैं और हर क्षेत्र में अपनी काबिलीयत का सबूत दिया है।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि भारत में भी पंजाबी उद्यमियों की तरफ से बड़े स्टार्ट-अपज़ की स्थापना की गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का यह फर्ज बनता है कि वह हमारे नौजवानों को उनके स्टार्ट-अप बनाने में मदद करने के लिए उनको सही सीख दें। भगवंत मान ने उम्मीद ज़ाहिर की कि आई. एम. पंजाब ऐकसलेटर की विश्व स्तरीय सहूलतें नौकरियाँ पैदा करने, निवेश लाने, आर्थिक विकास को यकीनी बनाने और राज्य में सकारात्मक सामाजिक बदलाव लाने में मदद करेंगी।

मुख्यमंत्री ने ज़ोर देकर कहा कि उनकी सरकार ने सत्ता में आने के बाद राज्य में भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन मुहैया करवाने के लिए लगातार यत्न किये हैं। उन्होंने कहा कि संभावित निवेशकों की सुविधा के लिए पहली बार अलग-अलग विभागों के लिए सिंगल विंडो सिस्टम सही मायनों में सिंगल विंडो के तौर पर उभरा है। भगवंत मान ने खुलासा किया कि इससे पहले यह विंडो भ्रष्टाचार का अड्डा था परन्तु अब यह उद्योगपतियों के लिए असली सुविधा केन्द्रों में तबदील हो गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘जैसे हवाई अड्डों पर रनवे हवाई जहाज़ को सुचारू ढंग से उड़ान भरने की सुविधा मुहैया करते हैं, उसी तरह राज्य सरकार नौजवानों को उनके सपनों को साकार करने में मदद करेगी।’’ उन्होंने भरोसा दिया कि नौजवानों के विचारों की उड़ान के लिए पंख देने के लिए हर संभव यत्न किया जायेगा और इसके लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जायेगी। भगवंत मान ने नौजवानों से अपील की कि वह समाज में अपनी अलग पहचान बनाने के लिए हर संभव यत्न करें।

मुख्यमंत्री ने दुख के साथ कहा कि पिछली सरकारों के बुरे रवैये के कारण देश तरक्की पक्ष से पिछड़ गया। उन्होंने कहा कि कितनी विंडबना है कि हमारे नौजवानों को सिर्फ़ 25 साल पहले आज़ादी प्राप्त करने वाले युक्रेन जैसे देशों में डाक्टरी शिक्षा के लिए जाना पड़ता है। भगवंत मान ने कहा कि अब समय आ गया है जब शिक्षा और सेहत में बढ़िया बुनियादी ढांचा स्थापित करके इन हालतों को उल्टा मोड़ दिया जाये, जिसके लिए उनकी सरकार यत्न कर रही है।

मुख्यमंत्री ने नौजवानों को रोज़गार की खोज करने की बजाय रोज़गार देने वाले बनने के लिए भी कहा। उन्होंने कहा कि इनोवेशन मिशन पंजाब की विलक्षण निजी-सार्वजनिक हिस्सेदारी है जिसका उद्देश्य स्टार्ट-अप वाले भाईवालों ख़ास कर पंजाब के नौजवानों के लिए मार्गदर्शक के तौर पर काम करना है।
भगवंत मान ने कहा कि नौजवानों के लिए रोज़गार और खुशहाली के नये आयाम कायम होने के साथ-साथ यह पंजाब को भारत में स्टार्ट-अप केंद्र के तौर पर चोटी के राज्यों में शामिल करने में सहायक होगा।

इससे पहले निवेश प्रोत्साहन मंत्री अनमोल गगन मान ने कहा कि राज्य को पहली बार नौजवान मुख्यमंत्री मिला है जो राज्य की तरक्की और लोगों की खुशहाली को यकीनी बनाने के लिए विचारों से भरपूर हैं। उन्होंने पंजाब को विकास की राह पर डालने के लिए राज्य सरकार की तरफ से जा रही पहलकदमियों पर भी रौशनी डाली।

इस मौके पर आई. एम. पी. पंजाब के चेयरमैन प्रमोद भसीण ने कहा कि मिशन अपने नैटवर्क, ऐकसीलेटरों के साथ विश्व स्तरीय सलाहकारों और वैश्विक निवेशकों को ला रहा है जिससे स्टार्ट-अप को अपेक्षित सहयोग प्रदान किया जा सके। उन्होंने राज्य में स्टार्ट-अपज़ को सहयोग करना पहले से ही शुरू कर दिया है।

इस मौके पर विधायक कुलवंत सिंह, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त मुख्य सचिव ए. वेनू प्रसाद, उद्योग और वाणिज्य विभाग के प्रमुख सचिव दिलीप कुमार, प्रमुख सचिव बिजली तेजवीर सिंह, डायरैक्टर इंडस्ट्रीज सिबिन. सी और अन्य उपस्थित थे।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version