Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी बोले- BJP का नारा ‘जय श्री राम’ है न कि ‘जय सिया राम’ क्योंकि…

Bharat Jodo Yatra: राहुल गांधी ने कहा कि मेरा RSS के दोस्तों से अनुरोध है कि जय श्री राम के साथ जय सिया राम और हे राम का भी जाप करें। सीताजी का अपमान न करें।

Bharat Jodo Yatra: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) और राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (RSS) की आलोचना की। राहुल ने कहा कि वे (भाजपा-आरएसएस) ‘जय श्री राम’ कहते हैं न कि ‘जय सिया राम’, क्योंकि वे सीता की पूजा नहीं करते हैं।

बता दें कि राहुल गांधी की ये टिप्पणी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कांग्रेस प्रमुख मल्लिकार्जुन खड़गे की रावण वाले बयान पर की गई टिप्पणी के बाद आई है जिसमें पीएम मोदी ने कहा था कि कांग्रेस कभी भी राम में विश्वास नहीं करती थी, लेकिन पीएम मोदी की तुलना रावण से करती थी।

आगर मालवा में राहुल ने किया रैली को संबोधित

मध्य प्रदेश के आगर मालवा में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि ‘जय सिया राम’ या ‘जय सीता राम’ का अर्थ यह है कि राम और सीता एक ही हैं। उन्होंने कहा कि जब पार्टी (आरएसएस) में कोई महिला नहीं है तो वे यह नारा कैसे दे सकते हैं!

राहुल गांधी ने कहा कि गांधीजी ‘हे राम’ कहा करते थे। ये उनका नारा था। इसका क्या मतलब है? इसका मतलब यह है कि भगवान राम केवल एक व्यक्ति नहीं थे, बल्कि प्रेम, भाईचारे, सम्मान और तपस्या (तपस्या) के प्रतीक थे। राहुल गांधी ने कहा, ‘हे राम’ कहने का मतलब था कि भगवान राम के आदर्श हमारे भीतर हैं और हमें उनका पालन करना है।

जय सिया राम का राहुल ने बताया अर्थ

राहुल ने कहा, “दूसरा नारा जय सिया राम है, जिसका अर्थ है सीता और राम एक ही हैं। भगवान राम की जीवन शैली, उन्होंने सीता के लिए जो किया, उनका इस नारे में सम्मान किया जाता है। इसलिए जब हम जय सिया राम कहते हैं, तो हम सीता को याद करते हैं और उनका सम्मान करते हैं।”

राहुल गांधी ने कहा कि एक पंडित उनके पास आए और उन्हें ये सारी बातें समझायी। राहुल गांधी ने कहा, ‘मैं यात्रा के दौरान बहुत कुछ सीख रहा हूं। राहुल गांधी ने कहा, “तीसरा नारा जय श्री राम है जो भगवान राम का सम्मान करता है। पंडित जी ने मुझसे यह सवाल उठाने के लिए कहा कि भाजपा कभी जय सिया राम या हे राम क्यों नहीं बोलती?

‘उन्होंने कभी भगवान राम के जीवन के तरीके को नहीं अपनाया’

राहुल गांधी ने कहा कि आरएसएस के लोग भाजपा में गए और उन्होंने भगवान राम के जीवन के तरीके को कभी नहीं अपनाया। राहुल गांधी ने कहा कि भगवान राम ने कभी किसी के साथ अन्याय नहीं किया, उन्होंने समाज को एकजुट करने का काम किया। उन्होंने किसानों, व्यापारियों और मजदूरों की मदद की।

राहुल गांधी ने कहा कि मेरा RSS के दोस्तों से अनुरोध है कि जय श्री राम के साथ जय सिया राम और हे राम का भी जाप करें। सीताजी का अपमान न करें।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version