Himachal News: लंपी वायरस से राजधानी में 11 गायों की हुई मौत, प्रशासन हुआ अलर्ट

दुधारु पशुओं को अपना निशाना बनाने वाली लंपी स्कीन बीमारी देश भर में लगातार बढ़ती ही जा रही है और इसने हर तरफ हड़कंप मचा रखा है।

शिमला: दुधारु पशुओं को अपना निशाना बनाने वाली लंपी स्कीन बीमारी देश भर में लगातार बढ़ती ही जा रही है और इसने हर तरफ हड़कंप मचा रखा है। मध्यप्रदेश हरियाणा समेत अन्य राज्यों को अपना निशाना बनाने के बाद अब इसका संक्रमण हिमाचल में भी फैल रहा है। प्रदेश की राजधानी शिमला से सटे आनंदपुर और पंथाघाटी क्षेत्र में इससे 11 गायों की मौत हो गई है वहीं कई और पशु संक्रमित हो गए है।

प्रशासन हुआ अलर्ट, वेक्सीनेशन किया शुरू

इस बीमारी के सामने आने के बाद प्रशासन भी अलर्ट हो गया है और कई मेडिकल टीमों को प्रभावित क्षेत्रों में भेजा जा रहा है। बीमारी को कंट्रोल करने के लिए पशुपालन विभाग ने युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन अभियान शुरू किया। शिमला और पंथाघाटी में अधिकतर पशुओं की वैक्सीनेशन कर दी गई है। इससे बीमारी कुछ हद तक नियंत्रित हो गई है लेकिन पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा सका है।

क्या है लंपी वायरस ?

लंपी त्वचा रोग एक ऐसी बीमारी है जो मच्छरों, मक्खियों, जूं एवं ततैयों की वजह से फैल सकती है। मवेशियों के एक दूसरे के संपर्क में आने और दूषित भोजन एवं पानी के जरिए भी ये दूसरे जानवरों में फैल सकती है। ये बीमारी बेहद घातक है और इससे जानवर की मौत भी हो सकती हैं। वहीं इस बीमारी के फिलहाल इंसानों में फैलने का कोई भी मामला सामने आया है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version