News24 Hindi

किडनैपिंग का केस अनोखा, लंबे बालों ने दिया धोखा, जिसे लड़की समझ किडनैप किया, वो….

Kidnapped A Boy Thinking He A Girl: गुजरात के सूरत से चौंकाने वाला मामला सामने आया है। मामला शनिवार शाम का है, आरोपी ने नाबालिग लड़के के लंबे बाल होने के कारण उसे लड़की समझकर उसका अपहरण कर लिया। आरोपी बच्चे को समोसा खिलाने के बहाने एकांत जगह पर ले गया। जहां उसको पता चला कि उसने जिस बच्चे का अपहरण किया है, वह लड़की नही एक लड़का है। फिर भी आरोपी ने इंसानियत को ताक पर रखते हुए पांच साल के लड़के का यौन उत्तपीड़न किया और बच्चे को तड़पता हुआ घर के बाहर छोड़ आया। रविवार सुबह बच्चें ने अपने परिजन को अपने साथ हुई घटना के बारें में बताया। परिजन बच्चें को सिविल अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर को बच्चे के साथ गलत हरकत होने की आशंका हुई। अस्पताल स्टॉफ ने इस बात की जानकारी तुरंत पुलिस को दी। पुलिस ने तत्काल मामलें की गंभीरता को देखते हुए। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि आरोपी पहले अपनी बात से पलटता रहा, लेकिन कड़ी पूछताछ के बाद आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया।

लड़की समझकर लड़के का किया अपहरण

मामला सूरत शहर के पांडेसरा इलाके का है। जानकारी के मुताबिक  कि शनिवार रात बच्चा घर के बाहर खेल रहा था। तभी एक अनजान युवक ने बच्चे को समोसा का लालच देकर उसे सोनल इंडस्ट्रीज में लेकर गया। गोदाम में पहुंचने के बाद अपराधी को एहसास हुआ कि उसने लंबे बाल होने के कारण लड़की समझकर लड़के का अपहरण कर लिया। सच जानने के बाद आरोपी का दिल नहीं पसीजा और उसने लड़के का यौन शोषण किया। और उसे तड़पता हुआ घर के बाहर छोड़ आया। रविवार सुबह बच्चे का दर्द बढ़ने लगा। तो उसने अपहरण और उसके साथ हुई घटना के बारें में अपने पिता को बताया। बच्चे की हालत देखते हुए परिजन उसे सिविल अस्पताल ले गए।

यह भी पढ़े: मैनपुरी में मजार पर चला बुल्डोजर, कोर्ट के आदेश पर अवैध निर्माण गिराया, जानें आखिर क्या था विवाद?

यह भी पढ़े: एकनाथ शिंदे पर भड़के उद्धव ठाकरे, बोले- जो अपना घर नहीं संभाल पाए, वो देशवासियों का घर क्या संभालेंगे

पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार 

अस्पताल में इलाज के दौरान डॉक्टर को बच्चे के साथ अनहोनी की आंशका हुई। तो अस्पताल के कर्मचारियों ने पुलिस को सूचना दी। घटना की सूचना पाते ही पुलिस अस्पताल पहुंची। बच्चे की तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच करना शुरू की। पुलिस ने आसपास के सीसीटीवी खंगालने शुरू किए। लगभग 50 सीसीटीवी फुटेज चेक करने के बाद आरोपी की पहचान हो सकी। पुलिस उपायुक्त विजयसिंह गुर्जर ने कहा पहले तो 20 वर्षीय आरोपी अपनी बात से मुकरता रहा लेकिन कड़ी पूछताछ के बाद आरोपी ने अपना जुर्म कुबूल कर लिया। पुलिस ने बताया डॉक्टर के मुताबिक पीड़ित की हालत स्थिर है। आरोपी मूलरूप से ओडिशा के बालेश्वर का रहने वाला है। बच्चे के परिजन ने आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

Exit mobile version