Shraddha Murder Case: श्रद्धा वाकर के पिता का पुलिस पर बड़ा आरोप, बोले- मदद की होती तो मेरी बेटी जिंदा होती

Shraddha Walkar Murder: विकास वाकर ने कहा कि मैं आफताब पूनवाला के लिए भी इसी तरह के सबक की उम्मीद करता हूं, जिस तरह से उन्होंने मेरी बेटी की हत्या की थी।

Shraddha Walkar Murder: मुंबई की श्रद्धा वाकर के पिता ने महाराष्ट्र की वसई पुलिस पर बड़ा आरोप लगाया है। विकास वाकर ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मुझे वसई पुलिस की वजह से कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि अगर वसई पुलिस ने समय रहते मेरी मदद की होती तो आज मेरी बेटी जिंदा होती।

और पढ़िए – Shraddha Walkar Case: घर से आखिरी बार निकलते वक्त श्रद्धा ने पिता से कहा था- अब मैं एडल्ट हो गई हूं

श्रद्धा वाकर के पिता विकास वाकर ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि आफताब पूनावाला ने मेरी बेटी की हत्या की, उसे कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस ने हमें भरोसा दिलाया है कि न्याय मिलेगा। महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी हमें इसका आश्वासन दिया है।

विकास वाकर ने कहा कि मैं आफताब पूनवाला के लिए भी इसी तरह के सबक की उम्मीद करता हूं, जिस तरह से उन्होंने मेरी बेटी की हत्या की थी। उन्होंने ये भी कहा कि आफताब के परिजनों, रिश्तेदारों व घटना में शामिल अन्य सभी के खिलाफ जांच होनी चाहिए।

2021 में आखिरी बार हुई थी बात: विकास वाकर

विकास वाकर ने कहा कि आखिरी बार मेरी श्रद्धा से 2021 में बात हुई थी। मैंने उसके रहने के बारे में पूछा तो उसने बताया कि वो बेंगलुरु में रहती है। उन्होंने कहा कि मैंने 26 सितंबर को आफताब से बात की थी। इस दौरान मैंने उससे अपनी बेटी के बारे में पूछा तो उसने इस पर कोई जवाब नहीं दिया।

विकास वाकर ने कहा कि मैं श्रद्धा और आफताब पूनावाला के रिश्ते के खिलाफ था। मैं आफताब द्वारा श्रद्धा के साथ की गई घरेलू हिंसा से अनजान था। मुझे लगता है, उसके परिवार के सदस्यों को सब कुछ पता था कि वह उसके साथ क्या कर रहा था।

और पढ़िए – क्राइम से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version