TrendingUnion Budget 2024ind vs zimSuccess StoryAaj Ka RashifalAaj Ka MausamBigg Boss OTT 3

---विज्ञापन---

7 नवजात जिंदा जले, लाशें देख मां-बाप बेहोश; दिल्ली के बेबी केयर सेंटर में लगी भीषण आग

Delhi Baby Care Center Fire Incident: दिल्ली के बेबी केयर सेंटर में आग लगने से 7 नवजात जिंदा जलकर मर गए। 5 की हालत नाजुक बनी हुई है। एक नवजात वेंटिलेटर पर जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। नवजातों के मां-बाप में आक्रोश है और उन्होंने पुलिस को शिकायत दी है।

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: May 26, 2024 11:03
Share :
बेबी केयर सेंटर में धुंआ उठते ही अफरा तफरी मच गई थी।

विमल कौशिक, दिल्ली

Delhi Vivek Vihar Baby Care Center Fire: गुजरात के राजकोट में जहां गेमजोन में भीषण आग लगने 12 बच्चों समेत 28 लोग जिंदा जलकर मर गए, वहीं बीती रात दिल्ली के विवेक विहार में भी भीषण अग्निकांड हुआ। एक बेबी केयर सेंटर में भीषण आग लग गई थी, जिसमें जिंदा जलकर 7 नवजातों की मौत हो गई है। बाकी 5 की हालत भी नाजुक बनी हुई है।

बीती रात बचाव अभियान चलाते हुए आग के बीच से 12 नवजात निकाले गए थे, लेकिन वे बुरी तरह झुलस गए थे और उन्होंने आज सुबह दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि नवजातों की मौत होने की खबर मिलते ही सभी के परिवारों में कोहराम मच गया। आग रात करीब साढ़े 11 बजे लगी थी और फायर ब्रिगेड की 16 गाड़ियों ने कई घंटों बाद इस पर काबू पाया था।

दिल्ली पुलिस ने बेबी केअर न्यू बॉर्न हॉस्पिटल के मालिक नवीन के खिलाफ FIR दर्ज की है। IPC की धारा 336, 304A और 34 के तहत केस दर्ज हुआ है। फायर NOC हॉस्पिटल के पास थी या नहीं, उसकी जांच की जा रही है। हॉस्पिटल मालिक अभी फरार है।

 

यह भी पढ़ें:11 श्रद्धालुओं की मौत, खून से सनी लाशें सड़क पर बिखरीं; बस के ऊपर पलटा ट्रक, UP के शाहजहांपुर में हादसा

आग लगने के कारण पता नहीं चले

वहीं दिल्ली फायर सर्विस के चीफ अतुल गर्ग ने हादसे की पुष्टि की। उन्होंने बताया बेबी केयर सेंटर में आग लगने की जानकारी मिली थी। पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार इलाके में बी ब्लॉक में हादसा हुआ। जानकारी मिलते ही दमकल वाहन मौके पर पहुंच गए थे। लोगों ने पहले ही बचाव अभियान शुरू कर दिया था। केयर सेंटर के कर्मी फायर उपकरणों से आग बुझाने में जुटे थे। दमकल की 16 गाड़ियां मौके पर पहुंची थीं।

सेंटर से निकालने गए नवजातों को समय रहते अस्पताल पहुंचा दिया गया था, लेकिन 7 नवजातों की मौत होने से काफी दुख हुआ। उनके मां-बाप तो बच्चों की हालत देखकर बदहवास हो गए थे। एक मां तो बेहोश हो गई, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, हालांकि उसकी हालत खतरे से बाहर है, लेकिन नवजातों के परिजनों का बुरा हाल है। उनमें आक्रोश भी देखने को मिल रहा है। आग लगने के कारण पता नहीं चले हैं।

यह भी पढ़ें:वोटिंग के दिन विधायक की मौत; जानें कौन थे हरियाणा के निर्दलीय MLA दौलताबाद, जिन्होंने अस्पताल में तोड़ा दम

पड़ोस वाली बिल्डिंग और वाहनों में भी आग लगी

जिला पुलिस उपायुक्त सुरेंद्र चौधरी के अनुसार, बेबी केयर सेंटर जिस बिल्डिंग में था, वह पूरी जलकर राख हो गई। उसके साथ वाली इमारत को भी आग से काफी नुकसान हुआ। वहीं सेंटर के बाहर खड़े लोगों के वाहन भी जलकर राख हो गए। आग ग्राउंड फ्लोर पर लगी थी, जिसमें ऊपर की मंजिलों को भी कुछ ही मिनटों में अपनी चपेट में ले लिया था। सेंटर के पीछे की खिड़कियां तोड़कर नवजातों को रेस्क्यू किया गया था। डॉक्टरों की निगरानी में उन्हें दूसरे अस्पताल में भेज दिया गया था।

प्राथमिक जांच में लाग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट है। आग लगने के कारण सेंटर में इस्तेमाल किए जाने वाले ऑक्सीजन के सिलेंडर भी ब्लास्ट हो गए थे, जिन्होंने आग को और भड़काया। एक सिलेंडर सेंटर से 100 मीटर दूर ITI के कैंपस में पड़ा मिला। आग लगने के कारणों की तलाश जारी है। अगर लापरवाही बरते जाने के सबूत मिले तो बेबी केयर सेंटर के मालिक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल सेंटर में काम करने वाले डॉक्टरों, नर्सों और स्टाफ कर्मियों से पूछताछ जारी है।

यह भी पढ़ें:लाश के 80 टुकड़े किए, 5 हजार रुपये मिले; कसाई ने बताया कहां ठिकाने लगाया सांसद का शव?

First published on: May 26, 2024 07:34 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें
Exit mobile version