Anjan Das Murder Case: महिला ने बेटे के साथ मिलकर पति के किए थे 10 टुकड़े, अब तक 6 बरामद

Anjan Das Murder Case: पुलिस का कहना है कि शरीर के टुकड़े फेंकने के दौरान का फुटेज मिला है। दीपक के पीछे उसकी मां पूनम भी फुटेज में नजर आ रही है।

Anjan Das Murder Case: दिल्ली के पांडव नगर इलाके में अंजन दास मर्डर केस में नया खुलासा हुआ है। दिल्ली पुलिस के डीसीपी (क्राइम) अमित गोयल ने बताया कि मां-बेटे ने 30 मई को मृतक अंजन को शराब पिलाई और उसमें नींद की गोलियां मिला दी। फिर उन्होंने उसका गला काट दिया और शरीर को एक दिन के लिए घर में छोड़ दिया ताकि खून पूरी तरह से निकल जाए। फिर शव के 10 टुकड़े किए, अब तक 6 टुकड़े बरामद कर लिए गए हैं।

अमित गोयल ने बताया कि 5 जून को पूर्वी जिले के रामलीला मैदान में शरीर के कुछ हिस्से बरामद हुए थे। फिर अगले 3 दिनों के लिए दो पैर, दो जांघ, एक खोपड़ी और एक बांह बरामद की गई और फिर मामला दर्ज किया गया था।

उन्होंने बताया कि आरोपी महिला पूनम ने पति कल्लू के 2016 में गुजर जाने के बाद 2017 में अंजन दास से शादी की थी। कल्लू दीपक के पिता थे। मृतक अंजन की शादी भी बिहार में हुई थी और वहां उसके 8 बच्चे भी थे। वह कमाता नहीं था और अक्सर लड़ाई करता था।

सौतेले बेटे-बेटी के प्रति रखता था गलत इरादा

स्पेशल सीपी क्राइम रविंदर यादव ने बताया कि दीपक की शादी के बाद अंजन के परिवार की स्थिति और खराब हो गई। मृतक का अपनी पत्नी और दीपक की एक बहन के प्रति गलत इरादा था। वे इस बात से भी चिंतित थे कि अंजन उनकी सारी कमाई ले लेता था लेकिन खुद नहीं कमा रहा था।

रविंदर यादव ने बताया कि अंजन दास की पत्नी पूनम और बेटे दीपक ने उसके शवों के टुकड़ों को रामलीला मैदान के पीछे और न्यू अशोक नगर नाले जैसे सुनसान इलाकों में फेंक दिया थी, जबकि खोपड़ी भी जमीन में दफना दी थी।

सीसीटीवी फुटेज में दिखे आरोपी मां-बेटे

दिल्ली क्राइम ब्रांच ने मामले में हत्या के मामले में आरोपी महिला और उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि दोनों ने मिलकर शख्स के शव को टुकड़ों में बांट दिया और उसे फ्रिज में रख दिया। इसके बाद शव के एक-एक टुकड़ें को पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में ठिकाने लगा दिया।

दिल्ली पुलिस को शहर के पूर्वी हिस्से में इसी तरह के अपराध की ओर इशारा करते हुए कुछ सुराग मिले हैं। शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने वाला सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। जानकारी के मुताबिक, पुलिस को जून में पांडव नगर में शव के कुछ टुकड़े मिले थे, लेकिन सड़ी-गली अवस्था के कारण उनकी पहचान नहीं हो सकी थी।

श्रद्धा वाकर हत्याकांड के सामने आने के बाद जांच पड़ताल की गई कि जून में मिले शव का किसी तरह का श्रद्धा मर्डर केस से संबंध तो नहीं है। जांच में पता चला कि जून में मिला शव पांडव नगर निवासी अंजन दास का है। पुलिस ने कहा कि आरोपी पूनम और उसके बेटे दीपक ने अवैध संबंध को लेकर जून में अंजन दास की हत्या कर दी थी।

पड़ोस में लगे सीसीटीवी कैमरों की चौंकाने वाली फुटेज में दीपक देर रात हाथ में बैग लिए टहलता दिख रहा है। पुलिस का कहना है कि यह शरीर के टुकड़े फेंकने के दौरान का फुटेज है। दीपक के पीछे उसकी मां पूनम भी फुटेज में नजर आ रही है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version