Punjab: सीएम की मुहिम को मिली एक और बड़ी सफलता, रूपनगर पुलिस ने पिन्दरी गैंग के 10 खतरनाक गैंगस्टर किए काबू

पंजाब पुलिस की तरफ से गैंगस्टरों के खिलाफ़ शुरू की गई मुहिम को जारी रखते हुए रूपनगर पुलिस द्वारा लारेंस बिश्नोई गैंग से संबंधित पिन्दरी गैंग के 10 ख़तरनाक गैंगस्टरों को गिरफ़्तार किया गया

चंडीगढ़: पंजाब पुलिस की तरफ से गैंगस्टरों के खिलाफ़ शुरू की गई मुहिम को जारी रखते हुए रूपनगर पुलिस द्वारा लारेंस बिश्नोई गैंग से संबंधित पिन्दरी गैंग के 10 ख़तरनाक गैंगस्टरों को गिरफ़्तार किया गया और उनके पास से सात ग़ैर कानूनी हथियार और 51 ज़िंदा कारतूस बरामद किए गए।

इस संबंध में जानकारी देते हुए डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल (डी. आई. जी.) एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स और रूपनगर रेंज श्री गुरप्रीत सिंह भुल्लर जिनके साथ सीनियर सुपरडैंट आफ पुलिस (एस. एस. पी.) श्री सन्दीप गर्ग भी मौजूद थे ने बताया कि पुलिस टीम ने गैंग के सरगने परमिन्दर सिंह उर्फ पिन्दरी, जो नंगल-रूपनगर-नूरपुर बेदी पट्टी में बिश्नोई गैंग की कार्यवाही को संभाल रहा था का पता लगाने के लिए गुप्त सूचना के आधार पर कार्यवाही की। श्री भुल्लर ने बताया कि इस ख़तरनाक गैंगस्टर के खिलाफ़ पहले ही रूपनगर, हरियाणा, जालंधर और पटियाला के पुलिस स्टेशनों में 22 एफ. आई. आईज़ (जिस में कत्ल की कोशिश सम्बन्धी मामला भी शामिल है) दर्ज है।

डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल आफ पुलिस ने बताया कि परमिन्दर सिंह लारेंस बिश्नोई गैंग का सक्रिय मैंबर है, जो गिरफ़्तारी से बचने के लिए हिमाचल प्रदेश में छिपा हुआ था और वहां से अलग-अलग कार्यवाहियों को अंजाम दे रहा था। उन्होंने कहा कि परमिन्दर सिंह दूसरे अपराधों के अलावा इस क्षेत्र में नशा तस्करी में भी शामिल है। उन्होंने कहा कि इस केस में आगे जांच जारी है।

एस. एस. पी. सन्दीप गर्ग ने बताया कि परमिन्दर के अलावा पुलिस की तरफ से अन्य गैंगस्टरों जिसमें बलजिन्दर सिंह उर्फ बिल्ला, गुरदीप सिंह उर्फ गोगी, जसप्रीत सिंह उर्फ मकड़, गुरप्रीत सिंह उर्फ भोलू, इकबाल मुहम्मद, सुरिन्दर सिंह उर्फ छिन्दा, दारा सिंह उर्फ दारा, सुखविन्दर सिंह उर्फ काला और रोबिन सिंह को गिरफ़्तार किया गया है।

उन्होंने कहा कि सात ग़ैर कानूनी हथियार जिसमें .32 बोर के दो देसी पिस्तौल, .30 बोर के दो देसी पिस्तौल, .315 बोर के दो देसी पिस्तौल और .12 बोर के एक देसी पिस्तौल और 51 जिंदा कारतूस और एक मैगज़ीन बरामद किये गए हैं। श्री गर्ग ने कहा कि यह सभी ख़तरनाक अपराधी हैं। उन्होंने बताया कि ख़तरनाक अपराधी पिन्दरी के खि़लाफ़ 22 एफ. आई. आर., बलजिन्दर के खि़लाफ़ दो, गुरप्रीत, जसप्रीत और गुरदीप के खि़लाफ़ एक-एक, इकबाल मुहम्मद के खि़लाफ़ सात, सुरिन्दर के खि़लाफ़ चार और दारा के खि़लाफ़ 24 एफ. आई. आर. दर्ज हैं।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version