असम में गर्भवती महिला टीचर की छात्रों ने की पिटाई, केवल इतनी सी थी बात

Assam: घटना के बाद स्कूल प्रशासन ने 22 स्टूडेंट को सस्पेंड कर दिया है। इस बारे में उनके परिजनों को जानकारी दी गई है।

डिब्रूगढ़: डिब्रूगढ़ में बेहद हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां कुछ छात्रों ने अपने टीचर की केवल इतनी सी बात पर पिटाई लगा दी कि उसने पीटीएम में एक छात्र के परिजनों को उसकी शिकायत कर दी थी। जिस महिला टीचर की पिटाई की गई वह पांच माह की गर्भवती है। अब स्कूल प्रशासन जिम्मेदार छात्रों पर कार्रवाई करने की बात कर रहा है।

यह घटना 27 नवंबर की है। डिब्रूगढ़ में जवाहर नवोदय विद्यालय है। यहां हिस्ट्री के एक टीचर ने पीटीएम में स्कूल के एक छात्र की उसके परिजनों से शिकायत कर दी। बस फिर क्या था स्कूल के 10वीं व 11वीं के कुछ छात्रों को यह बात इतनी बुरी लगी की उन्होंने स्कूल के बाद महिला टीचर की लात घूसों से जमकर पिटाई लगा दी।

महिला व बच्चे की हालत स्थिर

घटना के बाद महिला टीचर को समीप के अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी व उसके बच्चे की हालत स्थिर है। हैरानी की बात यह है कि जब प्रिंसिपल को इस बात का पता चला तो उन्होंने इस बात पर कड़ा विरोध किया। लेकिन आरोप है कि छात्रों ने उनसे भी मारपीट करने का प्रयास किया। उस समय किसी तरह बीच-बचाव कराने पर मामला शांत हुआ।

22 स्टूडेंट सस्पेंड 

घटना के बाद स्कूल प्रशासन ने 22 स्टूडेंट को सस्पेंड कर दिया है। इस बारे में उनके परिजनों को जानकारी दी गई है। मामले की सूचना पुलिस को दी गई है। पुलिस टीचर के बयान लेकर मामले में आगे की जांच कर रही है। स्कूल प्रिंसिपल के मुताबिक यह छात्रों की अराजकता है। छात्रों ने मुझपर भी हमले का प्रयास किया। मामले की जांच की जा रही है। आरोपी छात्रों पर कार्रवाई की गई है। टीचर से संपर्क में हैं उनकी सेहत पूरी तरह ठीक है। इससे पहले आज सुबह बेंगलुरु में स्कूल के छात्रों के बैग चेकिंग के दौरान हैरान कर देने वाली चीजें मिली हैं। जानकारी के मुताबिक, छात्रों के बैग के अंदर से चेकिंग के दौरान  कंडोम, ओरल कॉन्ट्रासेप्टिव, लाइटर, सिगरेट, व्हाइटनर और पानी के बोतल में शराब मिला है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version