यौन हिंसा के शिकार 10 साल के बच्चे की इलाज के दौरान मौत, चचेरे भाई समेत 4 लड़कों ने किया था दुष्कर्म

दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने भी इस सिलसिले में पुलिस को नोटिस जारी कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की थी।

नई दिल्ली: पिछले सप्ताह यौन हमले के शिकार 10 साल के बच्चे की इलाज के दौरान शनिवार सुबह मौत हो गई। घटना के बाद पीड़ित को लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल (एलएनजेपी) के ICU में भर्ती कराया गया था।

आरोप है कि पीड़ित के चचेरे भाई समेत चार नाबालिगों ने सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। वारदात में शामिल सभी बच्चे 10 से 12 साल की उम्र के हैं।

अभी पढ़ें मुंबई की सड़कों पर बाइक सवार बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग, एक युवक की मौत, 3 घायल

बच्चे को अस्पताल ले जाने में की देरी

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डॉक्टरों का कहना है कि परिवार ने लड़के को चार दिनों तक अस्पताल नहीं लाया और उसकी हालत बिगड़ गई। पीड़ित बच्चे के इलाज में जुटे डॉक्टरों ने कहा कि घाव इतने गहरे थे कि उन्हें 16 दिसंबर, 2012 के सामूहिक बलात्कार की याद आ गई।

अस्पताल से पुलिस को किया गया था फोन

सीलमपुर थाने को 22 सितंबर को एलएनजेपी अस्पताल से फोन आया था कि तीन दिन पहले हुए शारीरिक हमले के कारण करीब 10 साल के एक लड़के को भर्ती कराया गया है। पुलिस की एक टीम अस्पताल पहुंची और बच्चे के माता-पिता से मिली, लेकिन उन्होंने बयान देने से इनकार कर दिया।

परिवार ने 24 सितंबर तक बयान नहीं दिया। पुलिस की ओर से काउंसलिंग के बाद लड़के की मां ने खुलासा किया कि उसके बेटे को उसके तीन दोस्तों ने कर्ज के कारण शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया और उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़ित बच्चे की मां के बयान के आधार पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 377 (अप्राकृतिक अपराध), 34 (सामान्य इरादा) और बाल यौन अपराधों के संरक्षण अधिनियम (POCSO)  के तहत मामला दर्ज किया गया था।

मामला दर्ज करने के बाद पुलिस ने आरोपी चचेरे भाई समेत दो अन्य लड़कों को पकड़ा था और किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष पेश किया था। फिलहाल, पुलिस अभी भी चौथे आरोपी को खोजने में जुटी है।

 

अभी पढ़ें हरियाणा: कार की टक्कर से बेटी समेत दंपत्ति की मौत, 2 बच्चे गंभीर घायल

दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने भी इस सिलसिले में पुलिस को नोटिस जारी कर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की थी। डीसीडब्ल्यू ने कहा कि उसे एक महिला की शिकायत मिली है जिसमें कहा गया है कि उसके बेटे का यौन उत्पीड़न किया गया है। आरोपियों ने उनके बेटे के प्राइवेट पार्ट में रॉड भी डाली थी।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
Exit mobile version